अध्यात्म

हल्दी होती है सबसे शुभ, नहीं जानते होंगे इसके जबरदस्त टोटके

हमारे किचन में रखी हल्दी सभी मसालों में सबसे महत्वपूर्ण होती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह एक ऐसा मसाला है जो भोजन मे, स्वास्थ्य में और साथ में भी काम आती है। इस मसाले के औषधीय महत्व भी बहुत ज्यादा हैं। भोजन में रंग बढ़ाने वाली हल्दी चोट लगने पर घाव भरने का भी काम करती है। इतनी ही नहीं चेहरे और शरीर की खूबसूरतू बढ़ाने के लिए भी हल्दी का इस्तेमाल किया जाता है।यह हल्दी पूजा में भी बहुत महत्व रखती है। हम आपको इसके धार्मिक महत्व की बात बताएंगे।

हल्दी का धार्मिक महत्व

  • पूजा के वक्त कलाई में या गर्दन में चुटकी भर हल्दी का टीका लगा लें तो बृहस्पति मजबूत होता है। जिनका बृहस्पति कमजोर हो उन्हें हल्दी का उपाय करना चाहिए।
  • हल्दी सिर्फ लगाने के लिए ही नहीं बल्कि दान करने वाली भी चीज है। अगर आप किसी को हल्दी दान करते हैं तो कई स्वास्थ्य संबंधी परेशानी खत्म हो जाती है।
  • अगर पूजा के बाद माथे पर हल्दी का टिका लगाएं तो विवाह में आ रही किसी भी तरह की समस्या खत्म हो जाती है। शादी के वक्त भी हल्दी की पूरी एक रस्म की जाती है।

  • हल्दी में इतनी ताकत होती है कि अगर घर के बाहर हल्दी की रेखा बना दी जाए तो नकारात्मक शक्तियां अंदर प्रवेश नहीं कर पाती हैं।
  • अगर आप नहाने जा रहे हों तो पानी में चुटकी भर हल्दी लकर नहाएं। इससे आपकी शारीरिक और मानसिक शुद्धता बढ़ जाती है।
  • अगर आपको बूरे सपने आते हों तो हल्दी की गांठ मौली में लपेटकर अपने सोने वाली जगह पर रखकर सोएं। इससे आपको बूरे सपने आने बंद हो जाएंगे। इससे आप पर नकारात्मक उर्जा का भी कोई प्रभाव नहीं होता।

शादी  के लिए लाभदायक है हल्दी

  • अगर विवाह संबंधी किसी भी तरह की समस्या लग रही हो तो हर गुरुवार क श्री गणेश को एक चुटकी हल्दी चढ़ा दें। इससे शादी की सारी समस्या दूर ह जाती है ।
  • एक दूसरे उपाय में आप भगवान विष्णु और लक्ष्मी की मूर्ति के पीछे हल्दी की पुड़िया छिपा कर रख दें। इससे जल्द ही आपका विवाह तय हो जाएगा।

  • अगर आपको आपके मन का वर नहीं मिल रहा है तो सूर्य देव को हल्दी मिला जल चढ़ाएं। इससे आपको आपका मनचाहा वर मिल जाएगा।
  •  इसका इस्तेमाल शादी में इसलिए किया जाता है क्योंकि हल्दी का रंग पीला चटख होता है और यह खुशी और स्मृद्धि का प्रतीक है।
  • हल्दी की रस्म के साथ ही शादी की रस्म शुरु हो जाती है। साथ ही .यह चेहरे की खूबसूरती भी बढ़ाती है। इस वजह से हल्दी का इस्तेमाल शादी से पहले किया जाता है।

  • हल्दी में इतने सारे गुण होते हैं और पूजा विवाह जैसे शुभ संस्कार में इसका इस्तेमाल होता है। इस वजह से किसी भी अशुभ काम में हल्दी का इस्तेमाल ही सबसे पहले बंद  कर देते हैं।

इसके अंदर तनाव को कम करने का गुण भी होता है। अगर आपको बहुत तनाव हो रहा हो तो हल्दी वाला दूध पी लें। इससे आपके अंदर का तनाव दूर हो जाएगा। हल्दी वाला दूध पीने से शरीर के अंदर हुई चोट भी ठीक हो जाती है।

यह भी पढ़ें : 

Related Articles

Close