हल्दी के औषधीय गुण एवं चमत्कारी प्रभाव

हल्दी के औषधीय गुण: हल्दी यानि टर्मेरिक को वैज्ञानिक भाषा में Curcuma Longa भी कहा जाता है. यह आम तौर पर भोजन पकाने के समय मसाले के साथ इस्तेमाल की जाती है. हल्दी को एक आयुर्वेदिक औषधि के रूप में भी जाना जाता है. हल्दी में खून को साफ़ रखने एवं सूजन दूर करने के लाभदायक गुण मौजूद रहते हैं. आज हम आपको हल्दी के औषधीय गुण बताने जा रहे हैं, जिसके चलते आयुर्वेद में इसे तिक्त, उष्ण, रक्तशोधक, शोथनाशक और वायु विकारों को नष्ट करने वाली कहा गया है. क्यूंकि हल्दी एकमात्र ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जिसके लाभों की लिस्ट सबसे लंबी है.हल्दी की तासीर बेहद गर्म होती है इसलिए यह पेट के अंदर जाते ही वहां मौजूद सभी जीवाणुओं को नष्ट कर देती है.

देखा जाए तो हल्दी पेंसिलिन की तरह ही कीटनाशक है. यदि किसी को वात, पित्त, काफ आदि विकार है तो हल्दी आपके लिए सबसे उत्तम इलाज है. पुराने समय से ही दादी माँ के नुस्खों में हल्दी का उपयोग किया जाता रहा है. अगर किसी को चोट लग जाए तो हल्दी ना केवल उसके घाव भरने के काम आई है बल्कि घाव की सूजन एवं कीटाणु भी नष्ट कर देती है.

हल्दी के औषधीय गुण

हल्दी के औषधीय गुण

हल्दी का इस्तेमाल लगभग हर रसोई घर में होता ही है. इसलिए हल्दी को रसोई घर की शान भी माना जाता है. हल्दी का इस्तेमाल ना केवल घावों को भरने के लिए बल्कि कईं तरह के रोग दूर करने के लिए भी किया जाता है. हल्दी को सौन्दर्यवर्धक भी कहा जाता है. चलिए जानते हैं हल्दी के औषधीय गुण एवं चमत्कारी प्रभावों के बारे में.

कील मुहांसों से छुटकारा

हल्दी के औषधीय गुण

हल्दी के औषधीय गुण कील मुहासों को जड़ से खत्म कर देते हैं. हल्दी त्वचा का निखार बढाने के लिए इस्तेमाल की जाती है. इसको उबटन और लेप बना कर चेहरे पर लगाया जाता है. हल्दी में एंटी-सेप्टिक एवं एंटी-बैक्टीरियल तत्व मौजूद रहते हैं जो चेहरे पर लगाने से वहां मौजूद कील मुहांसों को नष्ट कर देते हैं. कील मुंहासों के लिए हल्दी एवं चंदन का पेस्ट सबसे उपयोगी है. हल्दी को पानी में मिला कर चेहरा धोने से भी चेहरे के मुंहासे और कील गायब हो जाते हैं.

कैंसर प्रतिरोधक गुण

हल्दी के औषधीय गुण

हल्दी के औषधीय गुण कैंसर से निजात पाने में बहुत ही फायदेमंद है. कैंसर की बीमारी आज के समय में सबसे अधिक फ़ैल रही है. आए दिन कोई ना कोई कैंसर से पीड़ित व्यक्ति जिंदगी और मौत से लड़ता नजर आ रहा है. कैंसर सबसे घातक बिमारी है जो अगर वक़्त रहते पकड़ा न जाए तो जानलेवा साबित हो सकता है. लेकिन हल्दी को कैंसर प्रतिरोधक माना जाता है. रोज़ सुबह खाली पेट हल्दी का सेवन करने से कैंसर की बीमारी दूर रहती है. खाली पेट खायी गई हल्दी कैंसर की कोशिकाओं को शरीर से बाहर निकाल देती है.

बालों में रूसी से निजात

हल्दी के औषधीय गुण

बालों का झड़ना एवं बालों में रूसी पैदा होना, आज के समय में आम बात हो गयी है. दरअसल, बालों की जडें कईं बार रूखेपन से बेजान पड़ जाती है और फलस्वरूप बाल कमजोर पड़ कर टूटने लगते हैं. लेकिन हल्दी के औषधीय गुण बालों को मजबूत करने के काम आते है. हल्दी में ऐसे कईं एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद हैं, जोकि ना केवल सिर से रूसी मिटते हैं बल्कि आपके बालों को जड़ से मजबूत बनाते हैं. हल्दी रक्त प्रवाह को उत्तेजित कर रूसी को कम करती है और हमारे सिर की त्वचा को नमी प्रदान करती है इसे ऑलिव आयल के साथ मिलाकर बाल धोने से बीस मिनट पहले इस्तेमाल करें और साथ ही सिर की त्वचा पर मसाज करें. ऐसा करने से आप अपने बालों में बेहतर प्रभाव महसूस कर सकेंगे.

हल्दी के औषधीय गुण है गठिया में उपयोगी

हल्दी में एंटी इंफ्लामेंट्री गुण पाया जाता है जो गठिया और जोड़ो के दर्द से राहत देता है. आपको बता दें कि हल्दी में एंटी ऑक्सीडेंट गुण भी होता है जो हमारे शरीर में फ्री रेडिकल्स को नष्ट करता है. फ्री रेडिकल्स हमारे शरीर को बहुत नुकसान पहुंचा सकते है. जोड़ों के दर्द से निजात पाने के लिए आप एक चम्मच हल्दी पाउडर और शहद को गर्म दूध में मिलाएं और पी लें ऐसा नियमित करने से आपका दर्द धीरे धीरे गायब होने लगेगा.