स्वास्थ्य

हल्दी के औषधीय गुण एवं चमत्कारी प्रभाव

हल्दी के औषधीय गुण: हल्दी (haldi in hindi) यानि टर्मेरिक को वैज्ञानिक भाषा में Curcuma Longa भी कहा जाता है. यह आम तौर पर भोजन पकाने के समय मसाले के साथ इस्तेमाल की जाती है. हल्दी को एक आयुर्वेदिक औषधि के रूप में भी जाना जाता है. हल्दी में खून को साफ़ रखने एवं सूजन दूर करने के लाभदायक गुण मौजूद रहते हैं. आज हम आपको हल्दी के औषधीय गुण (haldi ke fayde) बताने जा रहे हैं, जिसके चलते आयुर्वेद में इसे तिक्त, उष्ण, रक्तशोधक, शोथनाशक और वायु विकारों को नष्ट करने वाली कहा गया है. क्यूंकि हल्दी एकमात्र ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जिसके लाभों की लिस्ट सबसे लंबी है.हल्दी की तासीर बेहद गर्म होती है इसलिए यह पेट के अंदर जाते ही वहां मौजूद सभी जीवाणुओं को नष्ट कर देती है.

देखा जाए तो हल्दी पेंसिलिन की तरह ही कीटनाशक है. यदि किसी को वात, पित्त, काफ आदि विकार है तो हल्दी आपके लिए सबसे उत्तम इलाज है. पुराने समय से ही दादी माँ के नुस्खों में हल्दी का उपयोग किया जाता रहा है. अगर किसी को चोट लग जाए तो हल्दी ना केवल उसके घाव भरने के काम आई है बल्कि घाव की सूजन एवं कीटाणु भी नष्ट कर देती है.

हल्दी के औषधीय गुण

हल्दी के औषधीय गुण

हल्दी (haldi in hindi) का इस्तेमाल लगभग हर रसोई घर में होता ही है. इसलिए हल्दी को रसोई घर की शान भी माना जाता है. हल्दी का इस्तेमाल ना केवल घावों को भरने के लिए बल्कि कईं तरह के रोग दूर करने के लिए भी किया जाता है. हल्दी को सौन्दर्यवर्धक भी कहा जाता है. चलिए जानते हैं हल्दी के औषधीय गुण एवं चमत्कारी प्रभावों (haldi ke fayde) के बारे में.

कील मुहांसों से छुटकारा

हल्दी के औषधीय गुण कील मुहासों को जड़ से खत्म कर देते हैं. हल्दी त्वचा का निखार बढाने के लिए इस्तेमाल की जाती है. इसको उबटन और लेप बना कर चेहरे पर लगाया जाता है. हल्दी में एंटी-सेप्टिक एवं एंटी-बैक्टीरियल तत्व मौजूद रहते हैं जो चेहरे पर लगाने से वहां मौजूद कील मुहांसों को नष्ट कर देते हैं. कील मुंहासों के लिए हल्दी एवं चंदन का पेस्ट सबसे उपयोगी है. हल्दी को पानी में मिला कर चेहरा धोने से भी चेहरे के मुंहासे और कील गायब हो जाते हैं.

हल्दी के औषधीय गुण

खून साफ़ करे

हमारे जीवन में हल्दी के औषधीय गुण बहुत अधिक है. हल्दी को एक औषधी की तरह प्रयोग किया जाता है. यह शरीर के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होते है. यह हमारे शरीर में खून को साफ़ रखने में मददगार होता है. यह हमारे शरीर में विषैले पर्दार्थो को दूर करने में मददगार साबित होता है. चोट लगने पर भी हल्दी लगाने और हल्दी खाने ही सलहा डॉक्टर्स द्वारा भी दी जाती है.

कैंसर प्रतिरोधक गुण

हल्दी के औषधीय गुण (haldi ke fayde) कैंसर से निजात पाने में बहुत ही फायदेमंद है. कैंसर की बीमारी आज के समय में सबसे अधिक फ़ैल रही है. आए दिन कोई ना कोई कैंसर से पीड़ित व्यक्ति जिंदगी और मौत से लड़ता नजर आ रहा है. कैंसर सबसे घातक बिमारी है जो अगर वक़्त रहते पकड़ा न जाए तो जानलेवा साबित हो सकता है. लेकिन हल्दी को कैंसर प्रतिरोधक माना जाता है. रोज़ सुबह खाली पेट हल्दी का सेवन करने से कैंसर की बीमारी दूर रहती है. खाली पेट खायी गई हल्दी कैंसर की कोशिकाओं को शरीर से बाहर निकाल देती है.

हल्दी के औषधीय गुण

बालों में रूसी से निजात

बालों का झड़ना एवं बालों में रूसी पैदा होना, आज के समय में आम बात हो गयी है. दरअसल, बालों की जडें कईं बार रूखेपन से बेजान पड़ जाती है और फलस्वरूप बाल कमजोर पड़ कर टूटने लगते हैं. लेकिन हल्दी के औषधीय गुण (haldi ke fayde) बालों को मजबूत करने के काम आते है.

हल्दी के औषधीय गुण

हल्दी में ऐसे कईं एंटी बैक्टीरियल गुण मौजूद हैं, जोकि ना केवल सिर से रूसी मिटते हैं बल्कि आपके बालों को जड़ से मजबूत बनाते हैं. हल्दी (haldi ke fayde) रक्त प्रवाह को उत्तेजित कर रूसी को कम करती है और हमारे सिर की त्वचा को नमी प्रदान करती है इसे ऑलिव आयल के साथ मिलाकर बाल धोने से बीस मिनट पहले इस्तेमाल करें और साथ ही सिर की त्वचा पर मसाज करें. ऐसा करने से आप अपने बालों में बेहतर प्रभाव महसूस कर सकेंगे.

हल्दी के औषधीय गुण है गठिया में उपयोगी

हल्दी (haldi in hindi) में एंटी इंफ्लामेंट्री गुण पाया जाता है जो गठिया और जोड़ो के दर्द से राहत देता है. आपको बता दें कि हल्दी (haldi ke fayde) में एंटी ऑक्सीडेंट गुण भी होता है जो हमारे शरीर में फ्री रेडिकल्स को नष्ट करता है. फ्री रेडिकल्स हमारे शरीर को बहुत नुकसान पहुंचा सकते है. जोड़ों के दर्द से निजात पाने के लिए आप एक चम्मच हल्दी पाउडर और शहद को गर्म दूध में मिलाएं और पी लें ऐसा नियमित करने से आपका दर्द धीरे धीरे गायब होने लगेगा.

हल्दी के फायदे बालों के लिए

हल्दी के उपयोग (haldi ke fayde) से बालों में मजबूती आती हैं. हल्दी को ओलिव आयल में मिलाकर बालों में लगाने से रुसी की समस्या दूर होती हैं. अगर आपके बाल बेजान हैं तो आप हल्दी का उपयोग किया करें. इसके इस्तेमाल से बालों में चमक आ जाएगी.

मासिक धर्म में असरदार

हल्दी के औषधीय गुण (haldi ke fayde) मासिक धर्म के दर्द को कम करने में फायदेमंद होते हैं. हल्दी में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होता हैं जो मासिक धर्म से जुड़ी समस्याओं से निजात देने में सक्षम होता हैं. मासिक धर्म के दौरान होने वाली दर्द को दूर करने के लिए आप हल्दी वाले ढूढ का सेवन किया करें.

हल्दी के पौष्टिक तत्व – Turmeric Nutritional Value in Hindi

हल्दी के औषधीय गुण जाने के बाद अब जानते हैं हल्दी के पौष्टिक तत्वों के बारे में. हल्दी में पाए जाने वाले कुछ पोषक तत्व हैं -कैलाेरी, प्रोटीन, विटामिन और आयरन आदि. आइये जानते हैं 100 ग्राम हल्दी में कितनी मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं –

पोषक तत्व मात्रा आरडीए पर्सेंटेज
एनर्जी 19.76 Kcal
प्रोटीन और एमिनो एसिड
प्रोटीन 7.8 g 16%
मिनरल्स
आयरन 41.4 mg 230%
कैल्शियम 183 mg 18%
मैग्नीशियम 193 mg 48%
जिंक 4.3 mg 29%
मैंगनीज 7.8 mg 392%
फॉस्फोरस 268 mg 27%
सोडियम 38 mg 2%
पोटैशियम 2525 mg 72%
कार्बोहाइड्रेट
कार्बोहाइड्रेट 64.9 g 22%
फाइबर 21.1 g 84%
शुगर 3.2 g
विटामिन्स
विटामिन ए 0.0 IU 0%
विटामिन सी 25.9 mg 43%
विटामिन ई 3.1 mg 16%
विटामिन के 13.4 µg 17%
फोलेट्स 39 µg 10%
विटामिन बी-6 1.8 mg 90%
विटामिन बी-12 0 mg 0%
क्लोरीन 49.2 mg
फैट्स और फैटी एसिड्स
टोटल फैट्स 9.9 g 15%
टोटल ओमेगा-3 फैटी एसिड्स 482 mg 0%
टोटल ओमेगा-6 फैटी एसिड्स 1694 mg 0%
सैचुरेटेड फैट्स 3.1 g 16%

Show More

Related Articles

Back to top button
Close