चाणक्य नीति: गरीबों को कभी नसीब नहीं होती ये 3 चीजें, अमीरों के पास हमेशा रहती है चाणक्य के अनुसार गरीबों को कुछ चीजें कभी नसीब नहीं होतीं लेकिन अमीरों के पास हमेशा रहती हैं.

चाणक्य पाटलिपुत्र (जिसे अब पटना के नाम से जाना जाता है) के महान विद्वान थे. चाणक्य को उनके न्यायप्रिय आचरण के लिए जाना जाता था. इतने बड़े साम्राज्य के मंत्री होने के बावजूद वह एक साधारण सी कुटिया में रहते थे. उनका जीवन बहुत सादा था. चाणक्य ने अपने जीवन से मिले अनुभवों को चाणक्य नीति में जगह दिया है. चाणक्य नीति में कुछ ऐसी बातें बताई गई हैं जिस पर यदि व्यक्ति अमल करे तो उसे सफल होने से कोई नहीं रोक सकता. सफलता निश्चय उसके कदम चूमने लगेगी. यदि व्यक्ति इन बातों का प्रयोग अपने निजी जीवन में करे तो उसे कभी भी हार का सामना नहीं करना पड़ेगा. इन नीतियों में सुखी जीवन का राज़ छुपा है. नीतियों में बताई गई बातें आपको कड़वी लग सकती है पर है बिलकुल सत्य. चाणक्य ने अपनी किताब में लोगों के स्वभाव के बारे में भी बताया है. चाणक्य के अनुसार पैसे वाले लोगों के पास कुछ चीजें हमेशा रहती हैं परंतु गरीबों को कभी नसीब नहीं होती. कौन सी हैं वो चीजें, आईये जानते हैं.

धनवान लोगों के पास हमेशा रहती हैं ये चीजें

आचार्य चाणक्य जी की यह 8 बातें बदल देंगी आपका जीवन, होगी मान सम्मान की प्राप्ति

दोस्त

चाणक्य के अनुसार जो लोग धन-दौलत और शोहरत से परिपूर्ण होते हैं, उन्हीं लोगों के दोस्त बनते हैं. आज के समय में चाणक्य का यह कथन बेहद प्रासंगिक है. यदि आपके पास धन-दौलत नहीं है तो लोग आपसे दूरी बनाने लग जाते हैं.

रिश्तेदार

चाणक्य ने अपनी किताब में यह भी लिखा है कि धन-दौलत वाले लोगों के ही रिश्तेदार होते हैं और जिनके पास पैसा होता है रिश्तेदार भी उन्हें ही भाव देते हैं. इतना ही नहीं, घर में उन लोगों की बात को सबसे ज्यादा महत्व दिया जाता है.

मान-सम्मान

चाणक्य के अनुसार समाज में वही व्यक्ति सफल कहलाता है जो धन-धान्य से परिपूर्ण होता है. आज के समय में लोग ऐसे ही लोगों को विद्वान् मानते हैं, भले ही वह सबसे मूर्ख व्यक्ति क्यों न हो. लोग ऐसे लोगों की झूठी तारीफ करते हैं और अपने मतलब के लिए उनके आगे-पीछे घूमते हैं. आज के समय में उसी व्यक्ति को मान-सम्मान मिलता है जो पैसों के दम पर सब कुछ हासिल करने की क्षमता रखता हो.

इसके अलावा चाणक्य नीति में कुछ ऐसी बातों का जिक्र किया गया है, जिन्हें यदि व्यक्ति करना छोड़ दे तो वह कभी गरीब नहीं रहेगा.

* चाणक्य नीति के अनुसार कभी भी व्यक्ति को झूठ का साथ नहीं देना चाहिए. झूठ का साथ देने वाला व्यक्ति हमेशा गरीबी में ही जीवन व्यतीत करता है. ऐसे लोग उम्र भर गरीब रहते हैं. इसलिए हमेशा सच्चाई का साथ देना चाहिए.

* इसके अलावा वह लोग भी कभी धनवान नहीं होते जो सूर्योदय के बाद उठते हैं. चाणक्य के अनुसार, परिश्रमी व्यक्ति वह कहलाता है जो सूर्योदय से पहले उठकर अपनी दिनचर्या शुरू कर देता है. आलसी, कामचोर और नींद में मग्न लोगों के ऊपर कभी लक्ष्मी की कृपा नहीं होती.

पढ़ें फेंगशुई में बताई गई इन टिप्स को आजमाने से बिना मेहनत किए कम हो जाएगा आपका वजन

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा. पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें.