ब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

चुनावी सर्वे : जानिए, मध्यप्रदेश में कांग्रेस की होगी घर वापसी या बीजेपी मारेगी जीत का चौका?

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस और बीजेपी ने पूरी तरह से कमर कस ली हैं। जहां एक तरफ देश की दो बड़ी पार्टियां राज्य की सत्ता में आने का ख्वाब देख रही है तो वहीं दूसरी तरफ जनता सबक सिखाने के लिए तैयार हो चुकी है। वोटिंग में अब ज्यादा समय नहीं रह गया है, ऐसे में सभी यह जानने के लिए उत्सुक हैं कि आखिर चुनावी सर्वे में किसका पलड़ा भारी है। जी हां, चुनाव से ठीक पहले तमाम मीडिया घराने एक सर्वे कराते हैं, जिन्हें हम चुनावी सर्वे कहते हैं। तो चलिए जानते हैं कि मध्यप्रदेश के चुनावी सर्वे में किसकी सरकार बनने जा रही है या फिर किसको लगेगा जोर का झटका?

कैसा है मध्यप्रदेश का सियासी माहौल?

बताते चलें कि बीते 15 सालों से  मध्य प्रदेश की सत्ता में काबिज बीजेपी को बड़ा झटका लग सकता है। मध्यप्रदेश का चुनावी सर्वे के हिसाब से  मध्य प्रदेश विधानसभा की कुल 230 सीटों में से भाजपा पिछड़ती नजर आ रही है। मध्य प्रदेश में फिलहाल बीजेपी के पास 165, कांग्रेस के पास 58, बीएसपी के 4 और निर्दलीय के पास 4 सीटे हैं। साल 2005 से प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ही हैं, इससे पहले कांग्रेस की सरकार थी और दिग्विजय सिंह 10 साल से मुख्यमंत्री थे।

मध्यप्रदेश का चुनावी सर्वे

मध्यप्रदेश का चुनावी सर्वे

यहां हम तमाम न्यूज़ चैनल और मीडिया घरानों द्वारा कराए गए चुनावी सर्वे का एक औसत बता रहे हैं, जिसके ज़रिए यह अनुमान लगाया जा सकता है कि प्रदेश में किसकी सरकार आएगी। तो चलिए जानते हैं कि मध्यप्रदेश का चुनावी सर्वे क्या कुछ कहता है?

मध्यप्रदेश में किसे कितने वोट ?

बीजेपी- 41.5%
कांग्रेस- 42.2%
अन्य- 16.3%

मध्यप्रदेश में किसे कितनी सीटें?

मध्यप्रदेश का चुनावी सर्वे

बीजेपी- 108
कांग्रेस- 122
अन्य- 0

मध्यप्रदेश में सीएम की पसंद कौन ?

शिवराज सिंह – 40%
कमलनाथ- 20%
ज्योतिरादित्य- 19%

चुनावी सर्वे पर अगर गौर किया जाए तो मध्यप्रदेश में बीजेपी को झटका लगता हुआ नजर आ रहा है तो वहीं कांग्रेस बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करती हुई नजर आ रही है। बीजेपी के लिए राहत की खबर यह है कि सीएम शिवराज आज भी सीएम पद के लिए जनता की पहली पसंद माने जा रहे हैं, जिसकी वजह से बीजेपी को फायदा हो सकता है। बहरहाल, यह मात्र चुनावी सर्वे के नतीज़ें है, सटीक नतीज़ें तो चुनावी रिजल्ट आने के बाद ही पता चलेगा।

Related Articles

Close