छत्तीसगढ़ में बीजेपी ने जारी किया संकल्प पत्र, शाह बोलें ‘विकास की राह पर दौड़ेगा राज्य’

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के नजरिए से आज का दिन बेहद खास है। आज छत्तीसगढ़ के पहले चरण के चुनाव के लिए प्रचार थम जाएगा और 12 नवंबर को वोट डाले जाएंगे। छत्तीसगढ़ की जनता को अपने खेमे में करने के लिए कांग्रेस और बीजेपी ऐड़ी चोटी का बल लगा रही है। इसी सिलसिले में बीजेपी और कांग्रेस के अध्यक्ष आज छत्तीसगढ़ में है। जी हां, छत्तीसगढ़ में राहुल और अमित शाह दिन भर ताबड़तोड़ चुनाव प्रचार करेंगे, जिसकी शुरूआत हो चुकी है। राहुल और अमित शाह दोनों ही अपनी पार्टियों के जीत का दावा कर रहे हैं। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

रैली से पहले जहां कांग्रेस अध्यक्ष ने राजनांदगांव जाकर गुरुद्वारे में मत्था टेका तो वहीं दूसरी तरफ अमित शाह ने बीजेपी का संकल्प पत्र जारी किया। अमित शाह ने बीजेपी का संकल्प पत्र जारी करते हुए रमन सरकार की खूब तारीफ की। अमित शाह ने छत्तीसगढ़ की जनता को विश्वास दिलाया कि उनकी सरकार ही राज्य के विकास के लिए ज़रूरी है, क्योंकि केंद्र में भी बीजेपी की ही सरकार है, ऐसे में राज्य में जमकर विकास होगा। इस दौरान अमित शाह ने रमन सरकार की तमाम उपलब्धियों को जनता के सामने रखा था।

नक्सलवाद पर नकेल बड़ी उपलब्धि

नक्सलवाद पर नकेल को अमित शाह ने डॉ रमन सिंह सरकार की बड़ी कामयाबी बताई।  बीजेपी अध्यक्ष अमिता शाह ने कहा कि केंद्र में मोदी जी की सरकार है और राज्य में रमन सिंह जी की सरकार है और ये दोनों सरकार राज्य को और आगे ले जाएंगे। इस दौरान अमित शाह ने यह भी कहा कि किसानों को मुफ्त में अल्पकालीन लोन देने वाला छत्तीसगढ़ पहला राज्य है। ऐसे में राज्य के विकास के लिए रमन सरकार की फिर से वापसी बेहद ज़रूरी है। इसके अलावा अमित शाह ने यह भी कहा कि यह संकल्प पत्र 15 सालों के अनुभव से मिलकर बना है, इसमें राज्य का विकास है।

बताते चलें कि छत्तीसगढ़ में चौथी बार मैदान फतह करने की कोशिश कर रही बीजेपी के चार स्टार प्रचारक शनिवार को लगभग दर्जन भर रैलियां करेंगे। बता दें कि बीजेपी की ओर से अमित शाह, सुषमा स्वराज, योगी आदित्यनाथ और बाबुल सुप्रियो रैलियों और जनसभाओं की झड़ी लगा रहे हैं, ऐसे में अब देखने वाली बात यह होगी कि बीजेपी के ये सभी स्टार प्रचारक जनता का दिल जीतने में सफल हो पाते हैं या फिर इस बार बाजी कांग्रेस के हाथ में जाएगी, ये तो चुनावी नतीजे ही बताएंगे।