शादी के बाद नई नवेली दुल्हन से नहीं करवाने चाहिए ये काम, हमेशा के लिए रूठ सकती है मां लक्ष्मी

हिंदू धर्म में महिलाओं को मां लक्ष्मी का रूप माना गया है. कहते हैं कि जिस घर में स्त्रियां होती हैं वहां लक्ष्मी का वास होता है. कहा जाता है कि घर का भाग्य बहु-बेटियों की किस्मत से जुड़ा होता है. लेकिन जैसा कि सभी मानते हैं लड़कियां पराया धन होती हैं. एक लड़की से एक नही बल्कि दो-दो परिवार की किस्मत जुड़ी होती है. शादी से पहले लड़की अपने घरवालों की देखभाल करती है और शादी के बाद ससुराल की. एक लड़की के सिर पर ढेरों जिम्मेदारियां होती हैं. वह पूरी कोशिश करती है कि शादी के बाद अपने ससुरालवालों को खुश रख सके. लेकिन शादी के बाद कुछ ऐसे काम होते हैं जिन्हें नई-नवेली दुल्हन को करने से बचना चाहिए. शास्त्रों में कुछ ऐसे काम बताये गए हैं जिन्हें नई बहु से करवाना उचित नहीं माना गया है. अनजाने में बहु से करवाए गए ये काम आपको मुसीबत में डाल सकते हैं. कौन से हैं वो काम जो शादी के बाद नई दुल्हन को करने से बचना चाहिये, आईये जानते हैं.

नई दुल्हन से नहीं करवाएं ये 3 काम

  • अक्सर आपने देखा होगा कि शादी के बाद लोग नई नवेली दुल्हन को आने वाले बड़े लोगों के पैर छूने को कहते हैं. उन्हें सख्त हिदायत दी जाती है कि घर में जो भी बड़े-बुजुर्ग आये उनका सम्मान वह पैर छूकर करें. वैसे तो बड़ों का सम्मान करना और उनके पैर छूना एक अच्छी आदत होती है. लकिन शादी के बाद नई नवेली दुल्हन को कुछ दिनों तक ऐसा नहीं करना चाहिए. घर की बहु घर की लक्ष्मी होती है और शादी के बाद फ़ौरन उससे लोगों के पैर छुवाना उचित नहीं है. ऐसा करने से मां लक्ष्मी का अपमान होता है और घर में आर्थिक तंगी लगी रहती है.

  • इसके अलावा शादी के तुरंत बाद कभी घर की बहु से बाथरूम साफ़ नहीं करवाना चाहिए. शास्त्रों में बहु को घर की लक्ष्मी कहा गया है और घर की लक्ष्मी से बाथरूम साफ़ करवाना माता लक्ष्मी का अपमान करने के बराबर है. शादी के तुरंत बाद नई नवेली दुल्हन से बाथरूम साफ़ करवाने से उसकी पवित्रता नष्ट हो जाती है और घर में तरह-तरह की परेशानियां आने लगती हैं. ऐसा करने से घर का कोई न कोई सदस्य अक्सर परेशानियों में घिरा रहता है.

  • हमारे देश में दहेज की समस्या बेहद आम समस्या है. अखबारों और न्यूज़ चैनल में आये दिन दहेज पीड़ितों के किस्से देखने और सुनने को मिलते हैं. दहेज एक अभिशाप है. दहेज लेने वाला और दहेज देने वाला दोनों गलत होता है. लेकिन अगर शास्त्रों में भी देखा जाए तो दहेज को पाप बताया गया है. शास्त्रों के मुताबिक, जो व्यक्ति दहेज लेकर शादी करता है वह भी हमेशा परेशानियों से घिरा रहता है. उसके जीवन में हमेशा पैसों की कमी लगी रहती है और घर में सुख शांति की भी कमी होती है. इसलिए जीवन खुशहाल बनाकर रखना चाहते हैं तो कभी भी ना दहेज लें और ना दहेज दें.

पढ़ें  दुल्हे ने दी प्यार की नई परिभाषा, व्हील चेयर पर बैठी दुल्हन से किया अस्पताल में विवाह