राष्ट्रगान पर सचिन तेंदुलकर का बड़ा बयान, बोलें ‘मेरे रोंगटे हो जाते हैं खड़े, जब….’

क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर अक्सर सुर्खियों में रहते हैं। इस बार सचिन तेंदुलकर देशभक्ति को लेकर चर्चा में हैं।सचिन तेंदुलकर की देशभक्ति से पूरी दुनिया अच्छे से वाकिफ है। जी हां, सचिन तेंदुलकर जब मैदान में जाते थे, तब वे न सिर्फ अपनी बल्कि देश की जीत का लक्ष्य लेकर जाते थे। देश के प्रति सचिन के मन में अटूट प्रेम है, जिसे एक बार उन्होंने फिर से बयां किया है। हाल ही में सचिन तेंदुलकर गुरुवार को राष्ट्रगान के भारतीय संविधान में शामिल किए जाने की 69वीं सालगिरह के अवसर पर आयोजित समारोह में पहुंचे, जहां उन्होंने बड़ा खुलासा किया। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

इस समारोह में सचिन तेंदुलकर ने राष्ट्रगान को लेकर कुछ ऐसी बाते कहीं है, जिससे हर कोई उनकी तारीफ करेगा। सचिन तेंदुलकर ने कहा कि जब भी राष्ट्रगान गाते हैं, तो आपके रोंगटे का खड़ा होना लाजमी हैं। सचिन ने कहा कि मेरे साथ यह हमेशा होता है फिर चाहे यहां और यहां फिर क्रिकेट के मैदान में। तेंदुलकर ने कहा कि मैं जब भी राष्ट्रगान सुनता या गाता हूं, तो मेरे रोंगटे खड़े हो जाते हैं। इस समारोह का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जोकि सचिन ने खुद अपने ट्विटर पर पोस्ट किया है।

क्या कहा सचिन तेंदुलकर ने?

सचिन तेंदुलकर ने कहा कि जब मैंने ने देखा कि कई बड़े कलाकार साथ आ रहे हैं, कई बड़े म्यूजीशियन हैं, हमारी सेना है, तो मेरा सीना गर्व से चौड़ा हो गया और इस कार्यक्रम का हिस्सा बनकर मुझे बहुत खुशी हो रही है। इस दौरान सचिन तेंदुलकर ने कई अनुभव शेयर किए, जिसमें से उनका पाकिस्तान वाला अनुभव काफी पसंद किया जा रहा है और लोग खूब शेयर कर रहे हैं।

सचिन ने शेयर किया अपना सालो पुराना अनुभव

सचिन तेंदुलकर ने कहा कि यूं तो राष्ट्रगान हमारे रौंगटे खड़े करता ही है, लेकिन तब यह एकदम अलग ही स्तर पर चला जाता है जब आप पाकिस्तान के खिलाफ 2003 विश्व कप में खेलते हैं और 60 हजार लोगों के सामने स्टेडियम के बीचों बीच खेड़े हों जो जन गण मन गा रहे हो, ऐसे में सीना गर्व से चौड़ा हो जाता है। सचिन ने कहा कि बीच मैदान में राष्ट्रगान गाते समय हमारा सिर ऊपर सीना चौड़ा  रहता है, यह बहुत गर्व की बात है कि हम भारतीय हैं।

सचिन के अलावा ये खिलाड़ी भी हुए शामिल

राष्ट्रगान पर आधरित इस समारोह में सचिन तेंदुलकर के अलावा बाइचिंग भूटिया, सानिया मिर्जा, धनराज पिल्लै, सुनील गावास्कर जैसे कई खिलाड़ी शामिल हुए, जिन्होंने अपने अनुभव शेयर किए। बता दें कि खिलाड़ी अक्सर देश प्रेम से लबरेज रहते हैं और सचिन की देशभक्ति से तो पूरी दुनिया वाकिफ है, क्योंकि सचिन जैसा न कोई है और न ही कोई होगा। इस समारोह में सचिन के अलावा सभी खिलाड़ियों ने राष्ट्रगान को लेकर बहुत सारी बाते की।

Share this