बॉलीवुडब्रेकिंग न्यूज़

द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर पर आई नई मुसीबत, अनुपम खेर समेत 14 के खिलाफ FIR दर्ज करने का आदेश

अनुपम खेर की बहुचर्चित फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ को लेकर विवाद दिन ब दिन बढ़ता ही जा रहा है। फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ अब बुरी तरह से विवादों में उलझ चुकी है। एक के बाद एक विवाद से जूझती अनुपम खेर की फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ अब एक नये विवाद में उलझ गई है। जी हां, देश के कोने कोने में इस फिल्म का विरोध किया जा रहा है। एक कोर्ट से मुसीबत छुटती है तो दूसरे कोर्ट से आन पड़ती हैं। यूं कहे तो यह फिल्म रिलीज से पहले ही कोर्ट दर कोर्ट भटक रही है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का किरदार निभाने वाले अनुपम खेर समेत तमाम कलाकार विवादों में फंस चुके हैं। आलोचकों का कहना है कि इस फिल्म से देश की राजनीति पर गहरा असर पड़ेगा और नेताओं की छवि धूमिल हो जाएगी, इसलिए इस तरह के फिल्मों का निर्माण नहीं होना चाहिए। हाल ही में दिल्ली हाईकोर्ट ने इस मसले की सभी याचिकाओं को खारिज कर दिया था, लेकिन अब यह मसला बिहार के कोर्ट में जा पहुंचा और यहां कलाकारो के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का आदेश भी मिल चुका है।

अनुपम समेत कई कलाकारों पर FIR दर्ज करने का आदेश

 

बताते चलें कि फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ में अनुपम खेर मुख्य किरदार निभा रहे हैं, ऐसे में मुजफ्फरपुर बिहार की एक अदालत ने फिल्म के सभी कलाकारो के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दे दिया है। दरअसल, कोर्ट ने अधिवक्ता सुधीर ओझा के एक परिवादपत्र की सुनवाई करते हुए एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है। यह आदेश मुजफ्फरपुर के कांटी थाना प्रभारी को दिया है और मामले में जल्दी ही जांच के आदेश भी है। आपको बता दें कि ओझा ने कहा कि अदालत ने थाना प्रभारी को IPC की धारा 295, 293, 153, 153 (ए), 504, 506, 120 (बी) तथा 34 के आधार पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है।

मनमोहन सिंह की छवि खराब करने की कोशिश

फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के खिलाफ याचिका दायर करने वाले सुधीर ओझा का कहना है कि इसमें मनमोहन सिंह की छवि खराब करने की कोशिश की गई है। साथ ही कोर्ट में सुधीर ओझा ने कहा कि जब उन्होंने इस फिल्म का ट्रेलर देखा तो उन्हें बहुत दुख हुआ, क्योंकि इससे देश के नेताओं की छवि धूमिल हो रही है। इसलिए इस फिल्म पर रोक लगानी चाहिए और समस्त कलाकारो पर कार्रवाई की मांग की है। इसके अलावा यह भी आरोप लगाया गया है कि फिल्म में देश की सुरक्षा व्यवस्था के साथ भी खिलवाड़, ऐसे में इसे रिलीज होने से रोका जा सके।

दिल्ली हाईकोर्ट से मिल चुकी है राहत

इससे ठीक पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने इस फिल्म पर रोक लगाने से साफ मना कर दिया, जिसके बाद अनुपम खेर ने ट्वीट करते हुए कोर्ट का शुक्रिया अदा किया था। बता दें कि दिल्ली हाईकोर्ट में फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के खिलाफ याचिका दायर की गई थी, जिसे कोर्ट ने बैन से करने से मना कर दिया और इससे फिल्म ‘द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ के निर्माताओं और कलाकारो को बड़ी राहत मिली।

Related Articles

Close