1 जनवरी से पहले घर से हटा दें ये वस्तुएं, नए साल के साथ बदल जाएगा आपका वक्त

नए साल को लेकर हम सबके मन में उम्मीद रहती है कि आने वाला साल हमारे लिए बेहतर होगा.. घर-परिवार की सुख-समृद्धी के साथ हम अपने लक्षय पूर्ति की भी कामना करते हैं। ऐसी कई उम्मीदों और योजनाओं के साथ हम आने वाले साल के स्वागत में लग जाते हैं। इस बार भी आप ऐसी कई सारी प्लानिंग कर रहे होंगे कि तो हमारे पास आपके लिए खास सुझाव है जिससे ना सिर्फ आने वाले साल और बेहतर होगा बल्कि नए साल मे आपके जीवन में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा और आपकी लाइफ पूरी तरह बदल जाएगी।

अगर आप चाहते हैं कि आपका नया साल खुशहाली और समृद्धी लेकर आए तो नए साल की शुरुआत से पहले आपको अपने घर से वो सारी वस्तुएं हटा देनी होगी जो कि नए वर्ष में आपके लिए बाधाएं उत्पन्न कर सकती हैं।  जी हां, ज्योतिष और शास्त्रों की माने तो कुछ चीजों से घर में नकारात्मकता बढ़ती है और ऐसी चीजों को आपको आने वाले साल से पहले घर से हटा देना है। दरअसल नया वर्ष जीवन में नयी सम्भावनाओं और ऊर्जा को लेकर आता है पर आपके घर में मौजूद कुछ नकारात्मक वस्तुएं उसका प्रभाव खत्म कर देती है।आज हम आपको ऐसी ही कुछ वस्तुओं के बारे में बताने जा रहे हैं जिनसे आपके जीवन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

सबसे पहले घर के मंदिर में मौजूद नकारात्मक वस्तुओं की बात करते हैं.. अगर आप घर के मंदिर में मिट्टी का दिया प्रयोग करते हैं तो ध्यान रहे वो खण्डित नही होना चाहिए ..ऐसे में अगर आपके मंदिर में किसी भी प्रकार से खंडित दिया है तो उसे मंदिर से हटा दें । इसके साथ ही मंदिर में रखी खंडित मूर्तियां  भी अशुभ मानी जाती है । इन्हे मंदिर में रख पूजा नही करनी चाहिए इसलिए शिवलिग को छोड़कर बाकि किसी भी मूर्ति के खंडित होने पर उसे तुरंत अपने मंदिर और घर से हटाकर नदी या पानी में प्रवाहित कर दें.. असल में सिर्फ शिवलिंग ही है जिसे खंडित नहीं मानते हैं।

वास्तु के अनुसार सीसा टूटना बेहद अशुभ लक्षण है..  इसका मतलब होता है कि आपके घर में कोई नकारात्मक प्रभाव है जिसे उसे सीसे ने अपने ऊपर ले लिया है। ऐसे में उस टूटे हुए दर्पण को घर में रखने से आप पर भी उसका दुष्प्रभाव पड़ सकता है । इसलिए बेहतर यही है कि अगर आपके घर में कोई भी टूटा कांच रखा हो तो उसे 31 दिसम्बर से पहले घर से बाहर निकाल दें।

अक्सर घरों में कुछ बर्तन टूटे हुए रखे होते है जबकि कुछ तो प्रयोग में भी लाए जाते हैं।जबकि ऐसे टूटे बर्तनों को घर में रखने से नकारात्मक ऊर्जा फैलती है इसलिए बेहतर यही है कि इस भी घर से हटा दें।

अगर आपके घर में टूटा हुआ बेड या फिर फर्नीचर का कोई सामान टूटी हुई स्थिति में रखा है तो उसे भी 31 दिसंबर पहले घर से बाहर निकाल दें। टूटे हुए बेड पर सोने से पति-पत्नी के बीच मननुटाव की स्थिति बनती हैं वही अगर लकड़ी के किसी सामान में दरार पड़ जाए तो इससे भी पारिवारिक संबधों में खटास पड़ती है।

मोबाइल और गैजेट्स के इस युग में आजकल लोग घड़ियों का कम ही प्रयोग करते हैं ऐसे में अगर घर की घड़ी बिगड़ भी जाए तो उसे बनाने के बजाए लोग अपने मोबाइल से ही काम चला लेते हैं। जबकि ऐसा बिल्कुल भी नही होना चाहिए क्योंकि रूकी या खराब पड़ी घड़ी अशुभ संकेत है । ऐसे में अगर आपके घर में कुछ पुरानी घड़ियां पड़ी हैं तो या तो उन्हे सही करा करके उनका इस्तेमाल कीजिए या फिर उन्हे घर से बाहर निकाल दीजिए।

अक्सर जब हमारा मोबाइल,चार्जर या टीवी जैसा कोई इलेक्ट्रॉनिक सामान पुराना या खराब हो जाता है तो हम उसकी जगह नया सामान लाते हैं और वो पुराना सामान घर में कही रख दिया जाता है जबकि घर में पड़े पुराने इलेक्‍ट्रॉनिक आइटम्‍स भी नकारात्मक प्रभाव डालते हैं .. इसलिए बेहतर यही है कि इन्हे घर में रखने के बजाए किसी जरूरतमंद को दे दिया जाए।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.