बुखार के बाद भी अगर बना रहता है सरदर्द, तो ध्यान रखने की ज़रुरत है इन बातों पर

बारिश किसको नहीं पसंद है. बारिश का मौसम आने पर लोग खुश हो जाते हैं. पर यह एक ऐसा मौसम है जो अपने साथ अनेक प्रकार की बीमारियों को भी साथ लेकर आता है. इस मौसम में छोटी-मोटी बीमारीयों का होना आम बात है. बुखार एक आम बीमारी है. पर बुखार के साथ आपको सरदर्द भी है तब थोड़ा सावधान हो जाना चाहिए. बुखार से ठीक होने के लिए लोग दवाई तो ले लेते हैं पर सरदर्द को नज़रअंदाज कर देते हैं. डॉक्टर ने बताया है की अगर कोई भी सरदर्द तीन दिन से ज़्यादा रहता है तो यह खतरे की घंटी हो सकती है. सरदर्द को इग्नोर करने की बजाय उसका कारण जानें.

सरदर्द को नज़रंदाज़ करना आपको भारी पड़ सकता है. डॉक्टर्स का कहना है की हल्का-हल्का होने वाला सरदर्द कई बार माईग्रेन का भी रूप ले सकता है. बारिश वाले मौसम में बारिश के बाद वाली निकली  धूप काफी नुकसानदेह होती है. अगर सरदर्द की समस्या तीन दिन के बाद भी बनी रहे तो फ़ौरन डॉक्टर के पास जाएं.

जब हो सरदर्द तो याद रखें ये 7 बातें :

  • अगर आपको तेज़ सरदर्द है जो अचानक से ख़त्म होकर कुछ देर बाद फिर से शुरू हो जाता है, तो ऐसे में जल्द से जल्द डॉक्टर को दिखाएं.
  • आंखों की रौशनी कम होना या बढ़ना भी सरदर्द की निशानी है. एक बार आंख के भी डॉक्टर को ज़रूर दिखाएं.
  • गैस की समस्या से भी सरदर्द हो सकता है. इसलिए कभी भी ज़्यादा देर तक खली पेट ना रहे. खान-पान को नियमित रखें.
  • सर दर्द होने पर अगर आप अपना मुंह और सर ठंडे पानी से धोकर अंधेरे कमरे में सो जाते हैं तो इससे आपको आराम मिलेगा.
  • सरदर्द होने पर धूप में बाहर निकलना भी अवॉइड करें. इससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है.
  • सरदर्द की समस्या होने पर रात को दूध पियें, फ़ायदा होगा. सुबह के समय गर्म जलेबी खाने पर भी सरदर्द दूर हो जाएगा.
  • असहनीय दर्द होने पर बहुत ज़रूरी है की आप फ़ौरन डॉक्टर के पास जाएं और सलाह लें.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.