ब्रेकिंग न्यूज़राजनीति

चुनाव प्रचार के दौरान अशोक गहलोत को आया राहुल का फोन, तो बदल गये उनके तेवर

राजस्थान विधानसभा चुनाव को लेकर तमाम पार्टी के नेता चुनावी मैदान में अपनी ताकत झोंकते हुए नजर आ रहे हैं। जी हां,  राजस्थान विधानसभा चुनाव को कांग्रेस और बीजेपी मैदान में है। जहां एक तरफ बीजेपी को अपनी सत्ता को बचाने की कोशिश कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस अपना वनवास खत्म करने की कोशिश कर रही है। राहुल गांधी और अमित शाह दोनों ही प्रदेश में अपनी पार्टी की सरकार बनने का दावा कर रहे हैं। इन सबके बीच कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत चुनाव प्रचार कर रहे थे, लेकिन इसके बीच कुछ ऐसा हुआ कि वे सुर्खियों में छा गये। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

राजस्थान में कांग्रेस पार्टी के लिए जब अशोक गहलोत वोट मांग रहे थे, तब राहुल गांधी का बीच में ही फोन आ गया। राहुल गांधी का फोन आते ही अशोक गहलोत कोने में चले गये। हालांकि, अशोक गहलोत और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बीच क्या बातचीत हुई, इस बात का खुलासा नहीं हो पाया, लेकिन राहुल के फोन के बाद अशोक नये तरीके से चुनाव प्रचार करने लगे। इसके बाद अशोक गहलोत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों के सवालों के जवाब दिये।

बहुमत के साथ सरकार बनाएगी कांग्रेस

कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि कांग्रेस की सरकार राज्य में बहुमत के साथ सरकार बनाएगी। इसके साथ ही कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत ने यह भी कहा कि राहुल गांधी ने किसानों के मुद्दों को मजबूती से उठाया है, जिसकी वजह से इस बार प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है। अशोक ने कहा कि सभी कार्यकर्ताओं को यह निर्देश दिया गया है कि वह राज्य की जनता के सामने वसुंधरा सरकार के नाकामियों को गिनाए।

इस दौरान जब अशोक गहलोत से बागी नेताओं पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेता इस मुद्दे पर काम कर रहे हैं और बागी नेताओं से मिल रहे हैं। इसके साथ ही हम उन कार्यकर्ताओं को समझाने की भी कोशिश कर रहे हैं, जिनमें असंतोष की भावना पैदा हो चुकी है। कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत ने कहा कि हमारी पार्टी एकजुट है, छोटे मोटे विवाद हर पार्टी में होते रहते हैं और मीडिया इसे बड़ा मुद्दा बनाकर न उछाले।

Show More
Back to top button