सूर्यग्रहण 2018: इन पांच राशियों पर भारी होगा सूर्य ग्रहण , कहीं आप तो नहीं शामिल

शास्त्रों के अनुसार ग्रहण का असर हमारे जीवन पर पड़ता है, ऐसे में ग्रहण का असर किसी पर बुरा बड़ता है तो किसी के लिए खुशखबरी लेकर आता है। अब आपके मन में कई सारी दुविधाएं उत्पन्न हो रही होंगी कि आखिर कैसे पता चलेगा किसके ऊपर सूर्य का बुरा असर पड़ेगा, तो आपकी इन्ही दुविधाओं को खत्म करने के लिए आपके लिए हम ये रिपोर्ट लेकर आएं हैं, जिसमें आपकी तमाम दुविधाओं को खत्म करने की कोशिश की गई है। तो आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

आपको बता दें कि 15 फरवरी को साल का दूसरा ग्रहण है, लेकिन ये साल का पहला सूर्य ग्रहण है, जिसकी वजह से इसका असर आपकी लाइफ पर और भी ज्यादा पड़ेगा। बता दें कि सूर्यग्रहण का स्पर्श रात 12:26 पर होगा, जबकि इसका मोक्ष सुबह 04:17 पर होगा। साथ ही आपको ये भी बता दें कि ये भारत में नहीं दिखाई देगा, जबकि ब्राजील, जॉर्जिया, अर्जेंटीना, चिली समेत अन्य कई देशों में दिखाई देगा। ज्योतिष के मुताबिक एक पखवाड़े में दो ग्रहण का पड़ना खतरे की घंटी है।

मेष राशि


मेष राशि वाले जातको को नौकरी और व्यवसाय में सफलता मिलने के साथ ही मान-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। इसके साथ ही आप स्वास्थ्य का ध्यान रखें,  धन सम्बन्धी समस्याएं हो सकती हैं। ग्रहण के दौरान शिव जी की उपासना करें, इसके बाद हरी वस्तुओ का दान करें। वृषभ

इस राशि के जातको के करियर में बदलाव के योग है, नौकरी से अच्छे संकेत मिलने की उम्मीद है। कोई विशेष निर्णय लेने से बचे। धन लाभ होने की संभावनाएं है। इस दिन कृष्ण जी की उपासना करने के साथ ही ग्रहण के बाद लाल फल का दान करें।

मिथुन राशि

इस राशि के जातको के लिए सूर्य ग्रहण खतरनाक है। धन हानि होने के साथ ही सेहत भी बिगड़ सकती है।ग्रहणकाल में बजरंग बाण का पाठ करने के बाद सफ़ेद वस्तुओं का दान करें।

कर्क राशि

इस राशि पर भी सूर्य का प्रकोप है, दुर्घटना होने की संभावनाएं है। इसके साथ ही सेहत भी  बिगड़ सकती है। ग्रहणकाल में चन्द्रमा के मंत्र का जाप करने के बाद काली वस्तुओं का दान करें।

सिंह राशि


इस राशि के जातको को धन हानि होने की संभावना है। आँखों की समस्या का ध्यान दें। पारिवारिक विवादों से बचाव करें। ग्रहणकाल में यथाशक्ति हनुमान चालीसा का पाठ करने के बाद जूते या छाते का दान करें।

कन्या राशि


इस राशि के जातको को आकस्मिक धन लाभ हो सकता है। नौकरी के निर्णयों में सावधानी रखें। साहस और परामक्रम में वृद्धि होगी। ग्रहणकाल में रामरक्षा स्तोत्र का पाठ करने के बाद अन्न का दान करें।

तुला राशि


किसी बात का भय बना रह सकता है। जीवन में संघर्ष बढ़ेगा। पारिवारिक जीवन में भी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। ग्रहणकाल में दुर्गा कवच का पाठ करें।
वृश्चिक राशि


प्रेम संबंधों में समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। पढ़ाई-लिखाई में अड़चनें आ सकती हैं। अपयश और विवाद की संभावना बन सकती है। । ग्रहणकाल के दौरान हनुमान चालीसा का पाठ करें। ग्रहण के बाद फलों के दान से और भी ज्यादा लाभ होगा।

धनु राशि


इस राशि के जातको को नौकरी और करियर में संकट आ सकता है। आर्थिक जीवन सामान्य रहेगा। धन लाभ के साथ-साथ खर्च भी बढ़ेंगे।  वाहन दुर्घटना से बचें। ग्रहणकाल में चन्द्रमा के मंत्र का जाप करने के बाद सफेद वस्त्र का दान करें।

मकर राशि


इस राशि के जातक जीवनसाथी के साथ रिश्तों का ध्यान दें। कारोबार में धन की बड़ी हानि से बचाव करें। ग्रहणकाल में हनुमान बाहुक का पाठ करें।

कुम्भ राशि


इस राशि के जातको पर सूर्य का प्रकोप कम है, जिसकी वजह से इन्हे करियर में मनचाही सफलता मिल सकती है। सेहत में लापरवाही न करें। ग्रहणकाल में शिव जी की उपासना करने के बाद गरीबो को भोजन कराएं।

मीन राशि

इस राशि के जातक अनावश्यक अपयश के शिकार हो सकते हैं, जिसकी वजह से पेट और कारोबार की समस्यायें आ सकती हैं। ग्रहणकाल में श्रीकृष्ण की उपासना करने के बाद फल का दान करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.