हार्दिक पटेल का बड़ा बयान ‘2019 में अगर मोदी सरकार आएगी तो देश में लागू होगा राष्ट्रपति शासन’

गुजरात: आरक्षण आंदोलन से राजनीति में कदम में रखने वाले हार्दिक पटेल गुजरात की सियासत में अपना दमखम बनाने में असफल रहे तो अब वो मोदी सरकार पर बड़ा हमला बोल रहे हैं। जी हां, हार्दिक विपक्षी पार्टियों के साथ मिलकर केंद्र की मोदी सरकार पर लगातार आरोप लगाते हुए नजर आते हैं। ऐसे में इस बार हार्दिक ने मोदी सरकार को लेकर बड़ा बयान दिया है, जिसके लिए उन्होंने सभी विपक्षीय दलों को एक साथ आने की अपील भी की है। आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

गुजरात में पटेल आरक्षण को लेकर हार्दिक पटेल लगातार सुर्खियों में रहते ही थे, लेकिन अब हार्दिक सरकार की आलोचना करते  हुए नजर आते हैं।. दरअसल, हार्दिक गुजरात चुनाव के गेमचेंजर माने जाते थे, लेकिन लोकतंत्र में किसी का सिक्का नहीं चलता है और न ही कोई गेमचेंजर होता है। खैर, अब हार्दिक ने मोदी सरकार को हराने के लिए विपक्षीय पार्टियों के साथ मिलते जुलते नजर आ रहे हैं।

याद दिला दें कि गुजरात चुनाव में हार्दिक पटेल राहुल गांधी का समर्थन करते हुए नजर आए थे। दरअसल, हार्दिक की शर्तो को राहुल गांधी ने मान लिया था, जिसमें पटेलों को आरक्षण देने की मांग भी शामिल थी, लेकिन गुजरात में राहुल गांधी का जादू नहीं चल पाया और एक बार फिर से हार्दिक पटेल की आरक्षण की मांग फिर से ठंडा हो गया।

हार्दिक पटेल ने बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि अगर 2019 में मोदी सरकार आई तो देश राष्ट्रपति शासन देखेगा, क्योंकि मोदी सरकार देश को तोड़ने का काम कर रही है, ऐसे में अगर दोबारा सत्ता में आई तो देश में राष्ट्रपति शासन ही लागू होगा। इस दौरान हार्दिक ने ये भी कहा कि देश का पीएम ऐसा होना चाहिए, जो शिक्षा, बेरोजगार के साथ ही देशहित की बात करें। बताते चलें कि इस दौरान हार्दिक ने पीएम की संसद स्पीच पर भी अपनी बात रखते हुए कहा कि पीएम सिर्फ विपक्ष की आलोचना करते हुए नजर आते हैं, काम की बात नहीं करते हैं।

बताते चलें कि हार्दिक ने इससे पहले पीएम मोदी के पकौड़े वाले बयान पर भी कटाक्ष करते हुए कहा था कि एक चायवाला ही पकौड़ा की बात कर सकता है। इसके अलावा ममता बनर्जी से मिलने पर हार्दिक ने कहा कि सभी पार्टियों को एकजुट होकर देश को बांटने बचाना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.