स्वास्थ्य

अगर आपके घर में भी है ये बर्तन तो तुरंत हटाएं, जा सकती है पूरे परिवार की जान

स्वस्थ रहने के लिए हम सब लाखों जतन करते हैं.. हेल्दी खाने से लेकर पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए जरूरी सप्लीमेंट्स भी लेते हैं लेकिन फिर भी अक्सर हम घातक रोगों के शिकार बन जाते हैं.. दरअसल आजकल की जीवन शैली हम जाने-अंजाने बहुत सारी ऐसी चीजों का प्रयोग कर रहे हैं जो हमारे सेहत के लिए नुकसानदायक साबित होती हैं .. इनमे घरों में इस्तेमाल होने वाले बर्तन भी शामिल हैं .. पहले के जमाने में लोग मिट्टी और धातुओ के बर्तन में खाना पकाते थें जो कि सेहत के लिए फायदेमंद होता था पर आज के आधुनिक समय में लोग स्टील और फाइवर का ज्यादा इस्तेमाल करने लगे हैं जो कि सेहत के लिए काफी हद तक नुकसानदायक होता है। खासकर जिस कुकर में आप रोजाना खाना पकाते हैं वो भी आपके के लिए घातक है.. यहां तक कि ये आपके लिए और आपको पूरे परिवार के लिए जानलेवा साबित हो सकता है।

आज के समय लोग जल्दी खाना पकाने के लिए प्रेशर कुकर का प्रयोग करता है पर शायद आपको पता नहीं है कि इस बर्तन में खाना बनाना कितना खतरनाक हो सकता है.. दरअसल ज्यादातर कुकर एल्युमिनियम से बने होते हैं और एल्युमिनियम के बर्तन सेहत के लिए बेहद नुकसानदायक होते है।  असल में एल्युमिनियम धातु नमक और एसिड के साथ मिलने पर पिघलने लगता है, जिससे इसमे पके खाने में इसका अंश भी शामिल होता जाता है।जो कि सेहत के लिए घातक है …

साथ ही एल्युमिनियम के बर्तन भोजन में शामिल आयरन और कैल्शियम की मात्रा को अवशोषित कर लेता है  जिससे शरीर को आवश्यक आयरन और कैल्शियम नहीं मिल पाता है और इससे हड्डियों कमजोर होती है। इससे मानिसक रोगों के साथ, टीवी और किडनी संबंधी रोग भी इससे होते हैं। स्वास्थ्य रिसर्च से भी ये बात सामने आई है कि खाने के लिए एल्युमिनियम के बर्तन का कम से कम इस्तेमाल करना चाहिए। इस तरह एल्युमिनियम वाले कुकर में पका खाना सेहत पर भारी पड़ता है।

दूसरी बात ये है कि हम जब कुकर में खाना पकाते हैं तो वो वास्तव पकता नहीं है बल्कि गलता है। जबकि आयुर्वेद की माने तो खाने को पौष्टिक बनाना है तो उसे धीर-धीरे ही पकाना चाहिए  .. यही वजह है कि इसमें बना खाना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है । इसीलिए हर सम्भव इसका ना ही प्रयोग करें तो बेहतर है और इसका प्रयोग करना भी हो तो इसमें हर सब्जी या अनाज नहीं उबालना चाहिए क्योंकि कुकर में पकने के बाद उसकी पौष्टिकता कम हो जाती है।

इसके अलावा कुकर में खाना बनाना जानलेवा भी होता है क्योंकि कई बार सही ढ़ंग से इसका इस्तेमाल ना करने से इसके फटने का भी डर बना रहता है। इसलिए इसमें खाना पकाते समय ध्यान रखें कि कुकर में थोड़ा बहुत पानी जरूर हो, साथ ही कुकर में दो तिहाई भाग से ज्यादा पानी भी ना डालें, क्यूंकि इसमें भाप को जमा होने के लिए भी जगह चाहिए होती है|इसके साथ ये भी ध्यान रखे कि जब भी आप कुकर खोले तो अपने चेहरे को दूर हटाकर ही खोले क्योंकि इसकी गर्म भाप आपकी आंखों और त्वचा को नुकसान पहुंचा सकती हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close