मेघालय चुनाव के लिए राहुल ने कसी कमर, रॉकस्टार के अंदाज में करेंगे चुनावी प्रचार का आगाज

मेघालय: पूर्वोत्तर के राज्यों मेंं होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियों ने कमर कस ली है, लेकिन यहां हम बात कर रहे हैं मेघालय विधानसभा चुनाव की। जी हां, अगले महीने के आखिरी में मेघालय में चुनाव है, ऐसे में चुनाव में सिर्फ एक महीना ही बचा है, तो जाहिर सी बात है कि सियासी गलियारों में इसका रंग भी चढ़ चुका होगा? आइये देखते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में खास क्या है?

मेघायल में कांग्रेस की सरकार है, लेकिन जिस तरह से कांग्रेस की देश में स्थिति है, ऐसे में कांग्रेस के लिए अपनी सत्ता को बचा पाना बहुत मुश्किल सा लग रहा है। बता देंं कि चुनाव प्रचार के लिए पहली बार कांग्रेस पार्टी म्यूजिकल नाईट का सहारा लेने जा रही है, जिसकी कैंपन खुद राहुल गांधी करेंगे। जी हां, राहुल गांधी रॉकस्टार के अंदाज में चुनाव प्रचार का आगाज करेंगे।  बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 30 जनवरी से दो दिन के मेघालय दौरे पर जा रहे हैं, जहां वो इस कार्यक्रम में भाग लेंगे।

इस कार्यक्रम को ‘मेघालयः सेलेब्रेट पीस एंड वे ऑफ लाइफ’ नाम दिया गया है, जिसमें राहुल गांधी कार्यक्रम के दौरान ही स्थानीय लोगों से बातचीत भी करेंगे। बता दें कि पूरे देश में मेघालय अपने म्यूजिकल बैंड्स के लिए जाना जाता है, जिसकी वजह से कांग्रेस अपने म्जूयकिल नाइट के लिए मेघालय के तमाम म्यूजिकल बैंड्स को बुला रही है, ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि क्या कांग्रेस परंपरागत तरीके से मेघालय की जनता को एक बार फिर लुभाने में कामयाब होगी या नहीं? ऐसे में यहां मेघालय का सियासी समीकरण समझना बहुत जरूरी है।

ये भी पढ़े: पूर्वोत्तर की सियासत में त्रिकोणीय मुकाबला, कैसा है सियासी मिजाज

मेघालय में बीजेपी और कांग्रेस दोनों के हालत बहुत ही खस्ता है, ऐसे में दोनों के लिए सत्ता में आना बहुत बड़ी चुनौती है। बता दें कि कांग्रेस को सत्ता में होने के बावजूद मेघालय में दोबारा आने के लिए कई चुनौतियों से गुजरना पड़ेगा। जी हां, कांग्रेस के विधायक पार्टी को छोड़ रहे हैं, ऐसे में अपनी सत्ता को बचाना कांग्रेस की नाक का सवाल है। पिछले विधानसभा चुनाव 2013 मेघालय की 60 सीटों में से कांग्रेस ने 29 पर जीत दर्ज की थी, तो वहीं यूडीपी ने 8, निर्दलीय ने 13, एनसीपी ने 2 और अन्य ने 8 सीटें जीती थीं। बताते चलें कि मेघालय में 27 फरवरी को चुनाव है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.