अध्यात्म

Chanakya Niti: ये गुण वाली पत्नी अपने पति को बनाती है भाग्यशाली, जानिए क्या कहती है चाणक्य नीति

अपने जमाने के महान विद्वान आचार्य चाणक्य ने एक पुस्तक लिखी है, जिसे हम सभी “चाणक्य नीति” के रूप में जानते हैं। चाणक्य नीति नामक पुस्तक में ऐसी बहुत सी बातें बताई गई हैं, जो मौजूदा समय में भी कारगर साबित होती हैं। आचार्य चाणक्य द्वारा बताई गई नीतियों को अगर कोई व्यक्ति अपने जीवन में अपनाता है, तो वह अपने जीवन को बेहतर से बेहतर बना सकता है और वह अपनी जिंदगी में हमेशा आगे बढ़ता जाएगा।

आचार्य चाणक्य की नीति को अपनाकर ही चंद्रगुप्त मौर्य सम्राट बन गए थे। आचार्य चाणक्य की शिक्षाएं और नीतियां आज के वक्त में भी सच साबित होती हैं। उनकी नीतियों को अपनाकर व्यक्ति अपने जीवन में सफलता पा सकता है। यह नीतियां एक बेहतर इंसान बनने में मदद करती हैं। ऐसा माना जाता है कि जो व्यक्ति आचार्य चाणक्य की नीतियों को अपनाता है वह जीवन में लगातार तरक्की ही पाता है।

आप सभी लोगों ने तो यह सुना ही होगा कि हर सफल व्यक्ति के पीछे एक महिला का हाथ होता है। एक महिला चाहे तो वह अपने पति की जिंदगी को स्वर्ग बना सकती है। अगर वह चाहे तो अपने पति ही नहीं बल्कि पूरे परिवार की भी जिंदगी उलट-पुलट कर सकती है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से महिलाओं के कुछ गुणों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका जिक्र चाणक्य नीति में किया गया। चाणक्य नीति अनुसार, जिन महिलाओं में ऐसे गुण होते हैं वह पति के लिए बहुत भाग्यशाली होती हैं।

जिस स्त्री की सीमित हों इच्छाएं

आचार्य चाणक्य ने अपनी नीतियों में यह बताया है कि जिस महिला की सीमाएं सीमित होती हैं, उस स्त्री का पति बहुत सौभाग्यशाली होता है। चाणक्य नीति में इस बात का उल्लेख किया गया है कि कई बार महिलाओं की इच्छाओं को पूरा करने के लिए पति गलत कार्य करने लगता है, जिसके कारण उसे बहुत ही मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। अगर किसी स्त्री की इच्छाएं सीमित हैं, अगर कोई महिला संतोष रखने वाली हो, तो वह अपने पति की जिंदगी को खुशहाल बना देती है।

शांति स्वभाव की महिला

आचार्य चाणक्य के अनुसार जिस महिला का स्वभाव शांत होता है वह महिला लक्ष्मी जी का रूप मानी जाती है। अगर किसी पुरुष को अपनी जिंदगी में शांत स्वभाव वाली पत्नी का साथ मिलता है, तो वह बहुत भाग्यशाली होता है। ऐसी पत्नी ना सिर्फ घर में सुख-शांति बनाए रखते हैं बल्कि वह हर फैसला सोच-समझकर लेती है। वह हमेशा अपने और परिवार के हित में ही सोचती है।

मीठा बोलने वाली स्त्री

आचार्य चाणक्य जी का ऐसा मानना है कि अगर किसी पुरुष की पत्नी मीठा बोलने वाली है, तो उससे ज्यादा दुनिया में कोई भी भाग्यशाली नहीं है। जो पुरुष ऐसे गुण वाली महिलाओं से शादी करता है उस व्यक्ति का जीवन खुशहाल व्यतीत होता है। इस गुण वाली महिलाएं हर किसी के साथ चाहे रिश्तेदार हो या पड़ोसी, अच्छे संबंध बनाकर रखती हैं, जिसके चलते पति के साथ साथ परिवार की भी लोग तारीफ करते हैं।

शिक्षित-संस्कारी और गुणवान महिला

आचार्य चाणक्य का ऐसा कहना है कि जो महिला शिक्षित, संस्कारी और गुणवान होती है, तो पूरा परिवार ही सुखी पूर्वक अपना जीवन व्यतीत करता है। जिस पुरुष की पत्नी में यह गुण होते हैं, वह बहुत सौभाग्यशाली होता है। ऐसे गुणों वाली पत्नी ना सिर्फ जीवन में आगे बढ़ने में उनकी प्रेरणा बनती है बल्कि हर मुसीबत से निकालने में भी वह उनकी मदद करती है और हमेशा साथ रहती है।

Back to top button
?>