रोज़गार

सोने चांदी के दामों में हो सकती है भारी उथल-पुथल, जाने साल 2021 में कैसा रहेगा बाजार?

संवत् 2077 और 2078 के मध्य में साल 2021 घटित होने वाला है। साल के अप्रैल तक संवत् 2077 चलायमान रहेगा, जिसके राजा बुध और मंत्री चंद्रमा हैं। ऐसे में आज हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले हैं कि आखिर संवत् 2077 और 2078 में बाजार का क्या हाल रहने वाला है। आइए जानते हैं, 2021 में कैसा रहेगा बाजार का हाल…

दरअसल 2021 में वर्ष संवत् 2077 और 2078 में पड़ रहा है। संवत् 2077 के राजा बुध और मंत्री चंद्रमा हैं। बुध के राजा होने से इस साल फसल अच्छी रहने वाली है। साथ ही पूरी दुनिया में तेल की कीमतें भी स्थिर रहेंगी।

इसके अलावा चंद्रमा के मंत्री होने से उत्तम वर्षा तथा पुष्प, फलों व अन्न की फसल अच्छी रहेगी। मध्येश सूर्य के कारण 2021 में चना, दलहन, तिलहन और चावल की भी अच्छी पैदावार होगी। रस्येश शनि के कारण सोने के दाम में भी ज्यादा बढ़ोतरी नहीं होगी।

चांदी में गिरावट के बाद आया उछाल

नीरशेष बृहस्पति की वजह से इस साल हल्दी और पीले रंग की अन्य वस्तुओं के दामों में भारी उछाल देखने को मिल सकता है। फलेश सूर्य के कारण आम की बंपर पैदावार होगी, जिससे बाजारों में दाम गिरने के आसार हैं।

धनेश पद पर गुरू आसीन रहेंगे, इससे व्यापारियों के आय में वृद्धि होगी। दुर्गेश चंद्रमा से दूध के व्यापारियों को लाभ मिलेगा। चांदी के भाव में थोड़ी गिरावट के बाद अच्छी उछाल मिलेगी। धान्येश मंगल की वजह से चावल, गन्ना घी और तेल के दाम बढ़ेंगे।

अनाज की उपज में होगी कमी

13 अप्रैल 2021 से संवत् 2078 की शुरूआत होगी। इस संवत् के राजा और मंत्री दोनों  ही मंगल होंगे। ऐसे में बारिश में कमी हो सकती है, जिससे फसल कम होगी। अनाज, घी, तेल की कीमतों में उछाल देखने को मिलेगा। मंगल के मंत्री होने से दूध में कमी होगी। इस दौरान मुट्ठी भर लोग ही सुखी रहेंगे।

रस्येश सूर्य के कारण इस साल रसीले पदार्थों की कमी हो सकती है। वस्त्र, घी और तेल के भाव भी इस साल बढ़ेंगे। तिल, चंदन, रोली, गुग्गुल जैसे पदार्थ भी महंगे होंगे।

होटल होंगे महंगे

नीरशेष शुक्र की वजह से सोना, चांदी, कपूर, अगरबत्ती, इत्र और परफ्यूम जैसी चीजें भी महंगी होंगी। फलेश चंद्रमा के कारण मीठे फलों और फूलों की पैदावार उत्तम होगी। टूरिस्ट और दर्शनीय स्थल पर रिसॉर्ट्स, होटल महंगे होंगे।

छोटे कारोबारियों को होगा नुकसान

धनेश शुक्र की वजह से कुछ व्यापारियों को जरूर फायदा होगा, मगर छोटे कारोबारियों को इस साल नुकसान हो सकता है। महंगाई भी बेमुशार बढ़ेगी और ऑनलाइन फ्रॉड के मामले बढ़ेंगे। मंगल के दुर्गेश होने से क्रय विक्रय में  कमी आएगी। मेघेश मंगल के कारण नैतिकता का ह्रास होगा।

शेयर बाजार में आएगी गिरावट

बाजार और अर्थ व्यवस्था में मंदी के बावजूद शेयर बाजार नाटकीय बदलाव होंगे। छोटे मोटे करेक्शन के बाद ये एक तरफ तेजी का रूख दिखाकर मंदड़ियों को परेशान कर देगा। अगले कुछ महीनों में बाजार में अचानक बड़ी गिरावट आएगी।

साल के अंत में सरकारी कंपनियों की मदद से बाजार पुनः संभलेगा। मेटल और पॉवर सेक्टर में तेजी आएगी। फार्मास्यूटिकल्स भी तेज कदम चलेगा। बाजार में सुधार के बावजूद भारत सहित देशों में महंगाई बढ़ेगी। व्यापार वर्ग चिंतित रहेगा।

Back to top button
?>