स्वास्थ्य

हार्मोन्स संतुलित रखने के लिए महिलाएं करें कद्दू के बीज का सेवन, जानें इन्हें खाने की विधि

हार्मोन्स संतुलित ना रहने से महिलाओं को कई सारे रोग लग जाते हैं। इसलिए ये बेहद ही जरूरी होता है कि महिलाएं अपना खासा ध्यान रखें और हार्मोन्स को असंतुलित ना होने दें। हार्मोन्स के असंतुलित होने से शरीर में काफी बदलाव आ जाते हैं और कई महिलाओं का वजन बढ़ जाता है। जबकि कई महिलाओं को पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम (PCOS) हो जाता है।

हार्मोन्स के असंतुलित होने पर होती हैं ये परेशनियां –

  • हार्मोन्स के असंतुलित होने पर बाल झड़ने लग जाते हैं।
  • एकदम से वजन बढ़ जाता है।
  • मासिक धर्म समय पर नहीं आते हैं।
  • PCOS की समस्या हो जाती है।

हार्मोन्स के असंतुलित होने पर डॉक्टरों द्वारा दवाई दी जाती है। जिसे रोज खाना पड़ता है। इसलिए आप कोशिश करें कि आपके हार्मोन्स संतुलित ही बनें रहें और आप दवाई खाने से बच सकें। वहीं हार्मोन्स असंतुलित होने पर आप घरेलु नुस्खे आजमाएं और कद्दू के बीज और सूरजमुखी के बीज का सेवन करें।

कद्दू के बीज और सूरजमुखी के बीज खाने से हार्मोन्स में आने वाले उतार-चढ़ाव नियंत्रित रहते हैं। इसलिए ये दोनों बीज बेहद ही सेहतमंद माने जाते हैं। दरअसल कद्दू के बीज और सूरजमुखी के बीज खाने से PCOS की समस्या खत्म हो जाती है और मासिक धर्म सही समय पर आने लग जाता है।

कद्दू के बीज का सेवन कैस करें

कद्दू के बीजों का सेवन कई तरह से किया जा सकता है। आप इन्हें भुनकर या पिसकर खा सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो इसके बीज को सलाद में भी डालकर खा सकते हैं। कई लोग तो सब्जियों, दाल या सूप में भी कद्दू के बीज डालकर खाया करते हैं।

कब करें सेवन

मासिक धर्म आने से 14 दिन पहले इनका सेवन करना शुरू कर दें। दिन में एक बार 1 बड़ा चम्मच भुना या पिसा हुआ कद्दू के बीजों का पाउडर खा लें। ऐसा करने से हार्मोन्स में ज्यादा उतार-चढ़ाव नहीं होगा और मासिक धर्म सही से आएंगे।

सूरजमुखी के बीज का सेवन

सूरजमुखी एक फूल होता है और इसके बीज खाने से भी हार्मोन्स में ज्यादा उतार-चढ़ाव नहीं होते हैं। इसलिए आप सूरजमुखी के बीजों का सेवन भी जरूर करें। आप चाहें तो सूरजमुखी के बीज के अलावा इसके तेल का सेवन भी कर सकते हैं। मासिक चक्र शुरू होने से पहले रोजाना 1 बड़ा चम्मच सूरजमुखी या इसके बीज का तिल खाने से आपको फर्क दिखेगा। आप सूरजमुखी के बीज को लड्डू या अन्य तरह की चीजों में मिलाकर भी खा सकते हैं। हालांकि अगर आपको लड्डू पसंद नहीं है। तो आप सूरजमुखी के बीज दाल या सब्जियों पर छिड़क कर खा सकते हैं।

इसके अलावा कई लोग ये बीज कच्चा भी खा लेते हैं। इसलिए आप चाहें तो इन्हें कच्चा भी खा सकते हैं। दो महीने तक इन्हें खाने से आपको काफी फर्क देखने को मिलेगा। हालांकि ये बीज खाने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से सलाह ले लें। उसके बाद ही इसका सेवन करें। क्योंकि कई महिलाओं को ये बीज पचते नहीं हैं और इन्हें खाने से वो बीमार पड़ जाती हैं। इसलिए ये बेहतर होगा कि आप इन्हें खाने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से सलाह ले लें।

Show More
Back to top button