धर्मेंद्र : पहले पता होता की सनी सुनील जाखड़ के खिलाफ लड़ रहा है चुनाव, तो मैं उसे मना कर देता धर्मेंद्र ने दिया बेटे सनी को लेकर बड़ा बयान, कहा मेरे से पूछे बिना कर दिया थी चुनाव लड़ने के लिए हां

अभिनेता धर्मेंद्र ने अपने बड़े बेटे सनी देओल के गुरदासपुर सीट से चुनाव लड़ने को लेकर एक बड़ा बयान दिया और कहा है कि अगर उनको ये पहले पता होता की सनी इस सीट से चुनाव लड़ने जा रहे हैं, तो वो उनको चुना नहीं लड़ने देते हैं। धर्मेंद्र ने अपने बयान में कहा कि उनको ये नहीं पता था कि इस सीट से कांग्रेस की और से सुनील जाखड़ चुनाव लड़ रहे हैं। धर्मेंद्र के अनुसार उनके संबंध सुनील जाखड़ के पिता से काफी अच्छे हुआ करते थे और सुनील जाखड़ के पिता बलराम जाखड़ ने ही उनको राजनीति सिखाई थी।

वहीं सनी देओल ने हाल ही में इस सीट से मौजूद कांग्रेस सांसद सुनील जाखड़ को स्थानीय मुद्दों पर बहस की चुनौती थी। जब धर्मेंद्र से सनी की इस चुनौती के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हम फिल्म इंडस्ट्री से हैं। हम यहां बहस करने नहीं आए हैं केवल लोगों की समस्याएं सुनने आए हैं। सुनील के पास अनुभव है और उनके पिता भी नेता थे। मगर अब हम मैदान में हैं और हम भागेंगे नहीं।

नहीं था राजनीति ज्ञान

धर्मेंद्र ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा की जब वो राजनीति में आए थे तो उन्हें राजनीति का बिलकुल भी ज्ञान नहीं था। बलराम जाखड़ ने ही उन्हें राजनीति कैसे की जाती है और विधायक और सांसद में क्या अंतर होता है इस बात का ज्ञान दिया था। धर्मेंद्र के अनुसार वो बलराम जाखड़ को अपना गुरू मानते थे और एक बार उन्होंने बलराम जाखड़ के लिए राजस्थान से चुनाव प्रचार भी किया था। धर्मेंद्र ने बताया कि जब उन्हें बीजेपी की और साल 2004 के लोकसभा चुनाव के राजस्थान के चुरू से बलराम जाखड़ के खिलाफ टिकट दिया जा रहा था। तो उन्होंने ये टिकट लेने से मना कर दिया था। जिसके बाद पार्टी की और से उन्हें बीकानेर से की टिकट दी गई थी।

हम चालाक लोग नहीं

धर्मेंद्र ने कहा कि हम नेता नहीं है और हम इंडस्ट्री की राजनिति से भी दूर रहा करते थे क्योंकि हम चालाक लोग नहीं हैै और भावुक ज्यादा हैं। मैंने सनी से कहा था कि राजनीति बहुत कठिन है, मगर उससे पहले ही सनी ने चुनाव लड़ने के लिए हां कर दिया था।

गौरतलब है कि बीजेपी ने सनी देओल को दिवंगत अभिनेता और सांसद विनोद खन्ना की गुरदासपुर लोकसभा सीट से चुनावी मैदान में खड़ा किया है और इस सीट से इस वक्त सुनील जाखड़ सांसद हैं। बीजेपी की और लोकसभा की गुरदासपुर सीट से टिकट मिलने के बाद से ही सनी देओल अपना जमकर प्रचार कर रहे हैं और गुरदासपुर के लोगों मिलकर अपने लिए और बीजेपी पार्टी के लिए वोट मांग रहे हैं। सनी देओल का प्रचार करने में उनके पिता धर्मेंद्र भी उनका साथ दे रहे हैं और गुरदासपुर की जनता से अपने बेटे के लिए वोट मांग रहे हैं। धर्मेंद्र के अनुसार उन्हें जो लड़ाई दी गई है वो उसे लड़ेंगे और जनता से प्रचार के दौरान जो भी वादे किए जा रहे हैं उनको पूरा भी करेंगे।