भगवान श्रीकृष्ण ने महाभारत में की थी भविष्यवाणियां, जो कलयुग में हो रही है सच

न्यूज़ट्रेन्ड वेब डेस्क- हिंदू धर्म में वेद पुराणों और ग्रंथों को बहुत महत्वपूर्ण माना गया है इन वेदों और ग्रंथों में रामायण और महाभारत को जीवन का सार बताया गया है परंतु आजकल के समय में ऐसा कोई भी व्यक्ति नहीं है जो इन वेद पुराणों और ग्रंथों को ठीक प्रकार से पढ़ता है या फिर जो व्यक्ति इनको पढ़ता है वह इसका अर्थ सही तरीके से निकाल नहीं पाता है जो बातें इनमें बताई गई हैं वह कलयुग में बिल्कुल सत्य हो रही हैं महाभारत से जुड़े ऐसे बहुत से रहस्य हैं जिनके बारे में ज्यादातर व्यक्तियों को किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं होती है महाभारत के समय में कई ऐसी व्यवहारिक बातें बताई गई है जिनको जानकर आप अपनी सभी समस्याओं से छुटकारा प्राप्त कर सकते हैं आज हम आपको इस लेख के माध्यम से महाभारत की भविष्यवाणियां बताने जा रहे हैं जो भगवान श्री कृष्ण जी ने महाभारत के समय की थी जो कलयुग में बिल्कुल सत्य साबित हो रही हैं।

आइए जानते हैं महाभारत की भविष्यवाणियों के बारे में

  • महाभारत में इस बात का उल्लेख किया गया है कि कलयुग में महिला और पुरुष बिना विवाह के एक साथ अपनी इच्छा अनुसार एक ही छत के नीचे रहेंगे जो व्यक्ति छल-कपट में निपुड़ है वह अपने जीवन में सफलता प्राप्त करेंगे, कलयुग के बारे में यह भी बताया गया है कि सिर्फ एक धागा यानी जनेऊ पहन कर लोग अपने आपको ब्राह्मण बताएंगे।
  • महाभारत में इस बात का उल्लेख किया गया है कि कलयुग में जिस व्यक्ति के पास जितना अधिक धन रहेगा वही सबसे शक्तिशाली माना जाएगा लोग उसी का आदर सम्मान करेंगे कानून न्याय सिर्फ धन के आधार पर ही निर्धारित रहेगा।

  • महाभारत में इस बात का उल्लेख किया गया है कि कलयुग में जो व्यक्ति घुस देने या फिर धन खर्च करने में सक्षम नहीं रहेगा उसको न्यायालयों में ठीक न्याय नहीं मिलेगा परंतु जो व्यक्ति चालाक और स्वार्थी होगा उस व्यक्ति को ही कलयुग में लोग विद्वान समझेंगे।
  • महाभारत में यह बात बताया गया है कि कलयुग में लोग नदी तालाबों को तीर्थ समझेंगे परंतु अपने माता पिता की हमेशा निंदा ही करेंगे कलयुग में लोग अपने सिर पर बड़े-बड़े बाल रखकर खुद को खूबसूरत समझेंगे और मात्र पेट भरना ही लोगों का सबसे बड़ा उद्देश्य रहेगा।
  • महाभारत में बताया गया है कि जिस व्यक्ति के पास धन नहीं रहेगा उसको अधर्मी अपवित्र और बेकार समझा जाएगा कलयुग में विवाह मात्र दो लोगों के बीच समझौता बनकर रह जाएगा कलयुग में लोग नहा कर अपने आपको पवित्र समझने लगेंगे।
  • महाभारत में इस बात का उल्लेख किया गया है कि कलयुग में लोग धर्म-कर्म के काम सिर्फ दिखावे के लिए करेंगे वह समाज की नज़रों में अपने आपको अच्छा साबित करने के लिए यह सब दिखावा करेंगे कलयुग में सबसे अधिक भ्रष्टाचारी व्यक्ति रहेंगे और कुर्सी सत्ता के लोभ में आकर लोग एक दूसरे का खून भी करेंगे।
  • महाभारत में यह बताया गया है कि कलयुग में लोग अकाल और अत्यधिक टैक्स की वजह से परेशान रहेंगे और घर छोड़कर सड़कों और पहाड़ों पर निवास करने के लिए मजबूर हो जाएंगे इसके साथ ही लोग पत्ते जड़ मांस जंगली शहद फल फूल और बीज खाने के लिए मजबूर हो जाएंगे।