इन 5 बातों को ध्यान रखते हुए खरीदें गणेशजी की मूर्ति, बप्पा का मिलेगा आशीर्वाद, होंगे मालामाल

भगवान गणेश जी सभी देवताओं में प्रथम पूजनीय माने जाते हैं और इनको विघ्नहर्ता भी कहा जाता है यह अपने भक्तों के सभी विघ्न हर लेते हैं हिंदू धर्म में भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को भगवान गणेश जी का अवतरण दिवस मनाया जाता है इस वर्ष यह त्यौहार 13 सितंबर से शुरू हो रहा है इस दिन लोग भगवान गणेश जी को अपने घर में लेकर आते हैं और उनकी मूर्तियां अपने घर में स्थापित करते हैं और बड़ी ही धूमधाम के साथ नाच-गाना किया जाता है और गणेश जी को ले जाकर उनका विसर्जन किया जाता है शिवपुराण में इस बात की जानकारी बताई गई है कि गणेश जी का जन्म माता पार्वती जी के मैल से हुआ था जब माता पार्वती स्नान करने के लिए जा रही थी तो उससे पहले उन्होंने देखा कि द्वार पर रुकने के लिए कोई नहीं है तो उन्होंने अपनी मैल से एक बालक उत्पन्न किया था और उसे द्वार पालक बनाकर नहाने चली गई थी।

जब माता पार्वती नहाने चली गई तो इसी बीच भगवान शिव जी वहां पर पहुंचे और उनको इस बात की जानकारी नहीं थी कि वह बालक माता पार्वती का पुत्र है वह सीधा अंदर जाने लगे तो गणेश जी उनको रोकने की कोशिश की गणेश जी की जिद देखकर शिव जी को गुस्सा आ गया और उन्होंने गुस्से में आकर बालक का सिर धड़ से अलग कर दिया जब माता पार्वती ने यह सब देखा तो उनको बहुत क्रोध आया और वह जिद्द करने लगी की उनको अपना पुत्र वापस चाहिए तब भगवान शिव जी ने एक गज का सिर लेकर बालक पर लगाया था और उसे गणपति या गणेश नाम दिया था और यह बालक माता पार्वती और भगवान शिवजी के पुत्र कहलाए उस बालक को देवताओं ने आशीर्वाद दिया था कि शुभ कार्य से पहले गणेश जी की प्रथम पूजा की जाएगी तभी से भगवान गणेश जी की सबसे प्रथम पूजा की जाती है।

हर वर्ष भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को देशभर में गणेश चतुर्थी बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाई जाती है कुछ लोग एक दिन कुछ 3 दिन तो कुछ पूरे 11 दिनों तक बप्पा को अपने घर में रखते हैं और उसके पश्चात विसर्जन करते हैं अगर आप भी इस वर्ष अपने घर में भगवान गणेश जी की मूर्ति स्थापित करने का विचार बना रहे हैं तो आज हम आपको इस लेख के माध्यम से ऐसी पांच बातें बताने जा रहे हैं जिनको ध्यान में रखते हुए आप गणेशजी की मूर्ति खरीदें आपको इससे गणेश जी का आशीर्वाद मिलेगा।

आइए जानते हैं गणेश जी की मूर्ति खरीदते समय किन 5 बातों का रखें ध्यान

बैठे हुए गणेश जी

अगर आप अपने घर में गणेश जी की मूर्ति स्थापित कर रहे हैं तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि बैठे हुए गणेश जी की मूर्ति खरीदें अगर आप अपने दफ्तर में गणेश जी रखना चाहते हैं तो खड़े हुए गणेश जी लेकर आए यदि आप ऐसा करते हैं तो इससे आपके जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होगी और सफलता के नए मार्ग खुलते जाएंगे।

बाईं ओर होनी चाहिए गणपति की सूंड

जब आप गणेशजी की मूर्ति खरीदने के लिए जा रहे हो तो आपको इस बात का खास ध्यान रखना होगा कि बप्पा की सूंड बाई दिशा की ओर होनी चाहिए क्योंकि इस दिशा में सूंड होना बहुत ही शुभ माना गया है अगर आप इस तरह की मूर्ति अपने घर में स्थापित करते हैं तो आपके घर परिवार में खुशियां आती है।

बप्पा की सफेद मूर्ति

अगर आप अपने घर में बप्पा की सफेद मूर्ति स्थापित करते हैं तो इससे आपके घर में चिंता और क्लेश दूर होता है।

बप्पा की मोदक मूषक वाली फोटो

अगर आप अपने घर में गणेश जी की मूर्ति के अलावा गणेश जी की तस्वीर लेकर आ रहे हैं तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि भगवान गणेश जी के साथ मोदक और मूषक भी होने चाहिए अगर आप ऐसी तस्वीरों को अपने घर में लगाते हैं तो आपके घर में धन संबंधित कोई भी समस्या नहीं आएगी।

सिंदूरी रंग के बप्पा जी

अगर आप बाजार से गणेश जी की मूर्ति खरीदने जा रहे हैं तो आप हमेशा सिंदूरी रंग के गणेशजी की मूर्ति खरीदें ऐसा माना जाता है कि इस रंग की मूर्ति घर में स्थापित करने से घर परिवार में सुख शांति का आगमन होता है।