चुटकुले

एक बार थानेदार, कलेक्टर और मास्टर बैठे थे, थानेदार- मेरा बहुत रौब है, जब जी करे किसी को भी पीट

आजकल के इस दौर में किसी को हंसाना सबसे मुश्किल काम समझा जाता है. किसी का दिल दुखाना तो आसान है पर उसे खुशी देना मुश्किल. सोशल मीडिया पर कई जोक्स ऐसे होते हैं जो हमें हंसने पर मजबूर कर देते हैं. जोक्स का असर किसी दवा से कम नहीं होता. जो लोग परेशान या फिर बीमार होते हैं उन लोगों के लिए जोक्स किसी मेडिसिन की तरह काम करता है. आज हम आपको कुछ ऐसे ही मजेदार जोक्स पढ़ाने जा रहे हैं जो सोशल मीडिया पर काफी ट्रेंड में हैं. हम दावा करते हैं कि इन जोक्स को पढ़कर आप अपनी हंसी रोक नहीं पाएंगे. तो देर किस बात की है, चलिए शुरू करते हैं हंसने-हंसाने का ये सिलसिला.

दो बहरे दोस्त अचानक रास्ते में मिल गए…

पहला बोला- अरे शर्मा जी, सिनेमा देखने जा रहे हैं क्या?

दूसरा- नहीं वर्मा जी, मैं तो सिनेमा देखने जा रहा हूं

पहला- ओहो, मैं समझा कि आप सिनेमा देखने जा रहे हैं!

मुन्नाभाई- ए सर्किट, ये कुत्ते पूछ क्यों हिलाते हैं?

सर्किट- कॉमन सेंस की बात है भाई, अब पूछ कुत्ते को तो नही हिला सकती ना!!

रामू का बेटा पांव फैलाकर सो रहा था…

रामू- उठ बे

बेटा- क्या हुआ?

रामू- स्कूल क्यों नहीं गया?

बेटा- तुमने ही तो कहा था कि एक जगह बार-बार जाने

से इज्जत कम हो जाती है.

रामू बेहोश

डॉक्टर- तुम्हारा कान कैसे जला?

पप्पू- मैं कमीज प्रेस कर रहा था कि फोन आ गया,

मैंने जल्दी में फोन की जगह प्रेस को कान पर लगा लिया

डॉक्टर- तो दूसरा कान कैसे जला?

पप्पू- अब एम्बुलेंस को भी तो फोन करना था ना

अध्यापक (छात्रों से)- बच्चों, अगर औरत विवाहित हो तो उसकी निशानी क्या है?
छात्र- मांग का सिंदूर
अध्यापक- और पुरुष अगर विवाहित हो तो कैसे पता चलता है?
छात्र- उसका लटका हुआ परेशान चेहरा देखकर

अध्यापक- आजकल ज्यादातर बच्चे जुड़वा क्यों पैदा होते हैं?

छात्र- देश में इतना आतंकवाद बढ़ गया है कि वो अकेले आने से डरते हैं.

बच्चा- पापा आपने मम्मी में ऐसा क्या देखा जो शादी कर ली?
पापा- उसके गाल का छोटा सा तिल
बच्चा- कमाल है !!! इतनी छोटी चीज के लिए इतनी बड़ी मुसीबत मोल ली

LKG के बच्चे के पेपर मे 0 आया…
गुस्से से पिता- यह क्या है?
बच्चा- पिताजी, मैडम के पास स्टार खत्म हो गए थे

इसलिये उन्होंने मून दे दिया

दोस्तों, जोक्स पसंद आये हों तो लाइक और शेयर करना ना भूलें.

Related Articles

Close