महिलाओं को किडनी रोग का है ज्यादा खतरा, अभी पढ़िये

महिलाओं को किडनी रोग: किसी की किडनी खराब होने की खबर से ही आपकी रूह कापं उठती हैं। जी हां, किडनी रोग कम समय में मौत की वजह बनती है। बता दें कि किडनी का रोग आपको धीरे धारे मौत के मुंह में ले जाने का काम करता है, जिसकी वजह से कम उम्र में लोगो की मौत हो जा रही है। बताते चलें कि एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि पुरूषों की अपेक्षा किडनी का रोग महिलाओं को ज्यादा होने का खतरा होता है। ऐसे में सभी को इससे सचेत रहना चाहिए, इसके लिए आपको अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव करने की जरूरत है। आइये  जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

किडनी रोग की समस्या आज पूरे विश्व की समस्या बन चुकी है। पूरी दुनिया में लोग इसके चपेट में आ रहे हैं, जिसकी वजह से लोगों की जीवन लीला कम समय में ही समाप्त हो रही है, जोकि किसी भी नजरिये से ठीक नहीं है। आपकी लाइफस्टाइल की वजह से आप इसकी तरफ खींचे चले जाते हैं। बता दें कि दूषित जल पीने से भी किडनी पर असर तो होता ही है, साथ ही अगर आप धूम्रपान करते हैं, तो आपके लिए खतरे की घंटी हो सकती है। आज हम किडनी से जुड़ी हुई कुछ खास बाते लेकर आएं है, जिससे आप खुद को सतर्क रख सकते हैं।

गंभीर किडनी रोग यानि गुर्दे की समस्या पूरे विश्व में चिंता का विषय बन गया है। ऐसे में अगर आपकी लाइफस्टाइल स्लो है, तो आपको अपनी लाइफ में थोड़ा सक्रिय होने की जरूरत है, क्योंकि अगर आप फिजीकल वर्क नहीं करेंगे तो आपको किडनी समेत कई बीमारियां जकड़ सकती है। तो चलिए अब जानते हैं कि आखिर किडनी के बारे में वो कौन सी खास बाते हैं, जिसे आपको जाननी बहुत जरूरी है।

महिलाओं को किडनी रोग का ज्यादा खतरा

तो चलिए अब जानते हैं कि आखिर किडनी रोग से जुड़ी ऐसी कौन कौन सी बाते है, जिसे आपको जाननी जरूरी है, जो आपकी सेहत से जुड़ी हुई है?

1.किडनी रोग से महिलाओं की मौत ज्यादा

महिलाओं में गंभीर किडनी रोग की समस्या होती है, जिसका ईलाज मुश्किल होता है। ऐसे में वल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन की रिपोर्ट के मुताबिक, गंभीर किडनी रोग की वजह से लगभग 6 लाख महिलाओं की मौत समय पर ईलाज न मिलने की वजह से हो जाती है। बता दें कि महिलाओं में किडनी रोग यूरीन इंफेक्शन की वजह से होता है, जिसकी वजह से ब्लैडर और ट्यूब पर भी असर पड़ता है।

2.पुरूषों की अपेक्षा महिलाओं को ज्यादा खतरा

बता दें कि महिलाए किडनी रोग से ज्यादा प्रभावित होती है। अगर 12 पुरूषों को किडनी का रोग है तो महिलाओं की संख्या 14 होती है, ऐसे में महिलाओं को यह बिमारी ज्यादा होती है। आगे हम आपको बताएंगे कि महिलाओं को यह रोग ज्यादा क्यों होता है?

3.महिलाओं को इसलिए होता है किडनी रोग

दरअसल, महिलाओ में सामान्य किडनी रोग से ज्यादा गंभीर किडनी रोग होता है, जिसके पीछे की वजह प्रतिकूल गर्भावस्था परिणाम और कम प्रजनन क्षमता है। बताते चलें कि अगर गंभीर किडनी बिमारी के दौरान महिलाएं बच्चे को जन्म देती है, तो इससे उनका खतरा और बढ़ जाता है। इसके साथ ही स्वास्थ्य संबंधी और भी रोगों से उन्हें जूझना पड़ता है, ऐसे में अगर आप बच्चे का प्लान कर रहे है तो सबसे पहले किडनी का चेकअप कराएं।

4.गंभीर किडनी का ईलाज मुश्किल

अगर महिलाओं को गंभीर किडनी की समस्या है, तो उनके लिए बहुत बुरी खबर है, क्योंकि गंभीर किडनी की समस्या से छुटकारा मिलना मुश्किल हो जाता है। बताते चलें कि अगर आपको कम नींद, थकान, या यूरीन में बदलाव दिखे तो ऐसी स्थिति में आपको डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए, ताकि आप खुद को वक्त रहते हुए बचा सके।

5.किडनी की बिमारी से बचने के लिए क्या करें

बता देंं कि आपको नियमित रूप से व्यायाम करना चाहिए, क्योंकि व्यायाम से हर रोग आपसे दूर भागता है, ऐसे में रोजाना व्यायाम करना चाहिए। साथ ही आपको संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए। किसी भी दूषित पदार्थ या जल से बचना चाहिए। इतना ही नहीं, आपको बुरी आदत यानि धूम्रपान औऱ शराब के सेवन से खुद को दूर रखना चाहिए। अपनी लाइफस्टाइल में बदलाव करना चाहिए, घंटो कंप्यूटर के सामने न बैठे।

6.किडनी के मुख्य लक्षण

अगर आपको यूरीन में कोई परेशानी या बदलाव दिखे तो ये किडनी खराब होने के लक्षण हो सकते हैं। बिना बात के थकान भी इसी तरफ इशारा करती है कि आपको किडनी की फेल होने वाली है। अगर आपको ठंड महससू हो तो भी आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए, क्योंकि ये लक्षण किडनी फेल होने के हो सकते हैं।

अगर आपके यूरीन से झाग आने लगे तो आपको बिल्कुल देर नहीं करना चाहिए, क्योंकि डॉक्टर की माने तो यह गंभीर किडनी रोग की तरफ पहला इशारा है, ऐसे में अगर आप समय रहते इसकी जांच करा लेंगे तो परहेज और ईलाज से खुद को बचा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.