बॉलीवुड

मुंबई में रिक्शा चलाते थे राजू श्रीवास्तव, ट्रक भी करना पड़ा था साफ़, ऐसे पहुंचे फर्श से अर्श पर

सबको हंसाने वाले राजू श्रीवास्तव दुनिया छोड़कर चले गए. 42 दिनों से अस्पताल में राजू भर्ती थे. उन्हें डॉक्टर्स ने बचाने के भरसक प्रयास किए लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका. राजू ने बुधवार सुबह दिल्ली के एम्स में अंतिम सांस ली. 58 साल की उम्र में उनका निधन हो गया.

raju srivastav

10 अगस्त को दिल्ली में जिम में कसरत के दौरान उन्हें दिल का दौरा पड़ा था. उन्हें आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती करवाया गया. जहां 42 दिनों से लगातार उनका इलाज चल रहा था. बुधवार रात उन्हें बार-बार दौरे पड़ रहे थे और सुबह उनका देहांत हो गया. राजू के निधन से हर कोई स्तब्ध है.

raju srivastav

राजू एक मध्यवर्गीय परिवार में जन्मे थे. उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत के दम पर कॉमेडी की दुनिया में ख़ास नामा कमाया था. बॉलीवुड में भी काम किया और राजनीति में भी रहे. आइए आपको राजू से जुड़ी कुछ ख़ास बातों के बारे में बताते हैं.

raju srivastav

राजू का जन्म कानपुर में 25 दिसंबर 1963 को हुआ था. उनके पिता रमेश चंद्र श्रीवास्तव मशहूर कवि थे. पिता की छाप राजू में भी देखने को मिली. वे अपनी कॉमेडी से लोगों का दिल जीत लिया करते थे. बचपन में राजू जन्मदिन पार्टीज में कविता भी सुनाया करते थे.

raju srivastav

राजू में शुरू से ही कुछ कर गुजरने की ललक थी. वे कानपुर से साल 1982 में ‘मायानगरी’ मुंबई में आ गए थे. लेकिन सफर आसान नहीं था. मुंबई तो आ गए लेकिन न रहने का ठिकाना था, न काम का और न ही खाने-पीने का. ऐसे में मुंबई में रहकर उन्होंने ऑटो रिक्शा चलाया. जो पैसे मिलते थे उससे उनका गुजारा होता था.

raju srivastav

राजू ने पहले अपनी किस्मत हिंदी सिनेमा में आजमाई. अनिल कपूर और माधुरी दीक्षित की फिल्म ‘तेज़ाब’ में नजर आए. यह फिल्म साल 1988 में आई थी. राजू ने बॉलीवुड के कई बड़े एक्टर्स संग काम किया था. तेज़ाब के बाद राजू सलमान और भाग्यश्री की फिल्म ‘मैंने प्यार किया’ में नजर आए. इसमें उन्होंने ट्रक साफ़ करने वाले शख्स का रोल निभाया था.

raju srivastav

वहीं वे फिल्म ‘बाजीगर’ में कॉलेज स्टूडेंट के रोल में नजर आए. साल 1992 में आई इस फिल्म में अहम रोल में शाहरुख़ खान नजर आए थे. इन फिल्मों के अलावा राजू आमदनी अठन्नी खर्चा रुपइया, वाह तेरा क्या कहना, मैं प्रेम की दीवानी हूं आदि फिल्मो में भी देखने को मिले.

raju srivastav

राजू ‘सदी के महानायक’ अमिताभ बच्चन की मिमिक्री करके भी खूब लोकप्रियता और सफलता हासिल हुई थी. राजू अमिताभ बच्चन को काफी पसंद करते थे और उनके बहुत बड़े फैन थे. उन्हें पहली बार बिग बी की मिमिक्री करने पर 50 रुपये दिए गए थे.

raju srivastav and big b

Back to top button
?>