समाचार

फ़ैसला अपने आप बोलता है, तीन तलाक़ को लेकर देश के क़ानून के साथ बहस नहीं किया जा सकता: अमिताभ बच्चन

तीन तलाक़ पर आये सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर हर कोई अपनी अलग-अलग प्रतिक्रिया दे रहा है. कुछ लोग इसके पक्ष में हैं तो कुछ विपक्ष में. बुधवार को बॉलीवुड के शहंशा कहे जाने वाले बिग बी ने भी सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि ‘फ़ैसला अपने आप में बोलता है. हम अपने देश के क़ानून के साथ बहस नहीं कर सकते’.

यह बात अमिताभ बच्चन ने ‘कौन बनेगा करोड़पति’ के कांफ्रेंस के दौरान कही थी. जैसा की हम सब जानते हैं बिग बी दुनिया के सबसे बड़े सितारों में से एक हैं. हर उम्र के लोगों में उनकी बड़ी फैन फॉलोइंग है. संवाददाता सम्मेलन के दौरान उन्होंने कहा कि ‘फ़ैसला खुद-ब-खुद बोलता है और कोर्ट के किसी भी फैसले को लेकर हम अपने देश के क़ानून के साथ तर्क नहीं कर सकते’. आगे उन्होंने कहा कि ‘उन्हें यह देखकर बेहद दुःख पहुंचता है कि किस तरह समाज में महिलाओं को पाबंदियों का सामना करना पड़ता है’.

बिग बी ने कहा कि ‘लड़कियों को अक्सर पढ़ाई करने से रोक दिया जाता है. उनकी पढ़ाई को लोग ज़्यादा ज़रूरी नहीं समझते और इसकी वजह उनकी सोच है. उनकी सोच के अनुसार आगे जाकर बेटियों का विवाह ही होना है तो उनकी शिक्षा पर इतने पैसे खर्च क्यों किये जाएं. ऐसी बेटियों के लिए मुझे बेहद दुःख होता है’. इसके अलावा बिग बी ने कहा कि ‘लड़कियां केबीसी में आने के लिए बरसों से चले आ रहे सामाजिक नियमों को तोड़ देती हैं. वे उसमें सफल होती हैं जिसका सपना उन्होंने किसी और के लिए नहीं बल्कि अपने लिए देखा होता है. इससे बाकी लोगों को भी प्रेरणा मिलती है’.

ज़ाहिर सी बात है बिग बी ने जो बात कही वह बिल्कुल सही है. अभी भी ऐसे लोग मौजूद हैं जो लड़के-लड़कियों में फर्क करते हैं. ऐसे लोगों को जल्द से जल्द अपनी सोच बदल लेनी चाहिए. लड़कियां किसी भी मामले में लड़कों से कम नहीं है. यह बात जानने के बावजूद भी कुछ लोग इसे स्वीकार नहीं करना चाहते और जब तक लोगों की सोच नहीं बदलेगी तब तक इस देश में कुछ नहीं बदलने वाला.

Back to top button
?>