नई दिल्ली – कुलभूषण जाधव मामले में ICJ में हार के बाद पाकिस्तान बुरी तरह से बौखला गया है। पाक का कहना है कि शांतिपूर्ण उद्देश्य के लिए दी गई परमाणु सामाग्रियों का इस्तेमाल भारत हथियार बनाने के लिए कर रहा है। पाकिस्तान का कहना है कि भारत 2600 परमाणु हथियार बनाने में संक्षम है। कुलभूषण मामले में हार का मुंह देखने के अगले दिन पाकिस्तान की ओर से इस तरह की बयानबाजी से बातों का अंदेशा होता है। पहला – क्या पाकिस्तान भारत की बढ़ती ताकत से ड़र रह है या फिर कुलभूषण पर मिली हार के बाद ये उसकी कोई नई चाल है। India capability nuclear weapons..

न्यूक्लियर मैटेरियल से हथियार बना रहा है भारत :

पाकिस्तानी विदेश विभाग के प्रवक्ता नफीस जकरिया ने भारत के परमाणु कार्यक्रम को दुनिया का सबसे तेजी से बढ़ता परमाणु कार्यक्रम बताया है। जकरिया ने कहा कि भारत की परमाणु शक्ति बनने की महत्वकांक्षा दक्षिण एशियाई देशों के लिए खतरा है। इस मामले पर पाकिस्तान दुनिया को भारत द्वारा आयातित परमाणु ईंधन, उपकरण और टेक्नोलॉजी को दूसरे मकसद के लिए इस्तेमाल करने के खतरों से अवगत कराता रहा है।

पाकिस्तानी प्रवक्ता के मुताबिक, भारत का परमाणु हथियार कार्यक्रम दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ता कार्यक्रम है और इसे अन्य देश नजरअंदाज कर रहे हैं। गौरतलब है कि भारत की परमाणु क्षमता पर पाकिस्तान ने यह आरोप तब लगाये हैं जब भारत ने अपने परमाणु हथियार उपयोग के सिद्धांत पर पुनर्विचार करने का संकेत दिया है।

पाक ने फिर रोया कश्मीर का रोना :

हार्वर्ड केनेडी स्कूल की ओर से जारी एक दस्तावेज को दिखाते हुए जकारिया ने कहा कि इसके अलावा भी कई अन्य रिपोर्ट्स में भारत को विदेश से मिल रहे न्यूक्लियर मैटेरियल के असुरक्षित न्यूक्लियर रिएक्टर्स में होने वाले इस्तेमाल पर चिंता जताई गई है। जकारिया के मुताबिक भारत ने 2600 परमाणु हथियार बनने तक का मैटेरियल जुटा लिया है। जिस पर एनएसजी के दायरे में आने वाले देशों को ध्यान देना चाहिए।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अगले महीने कश्मीर में होने वाली मीटिंग को लेकर जकारिया ने आरोप लगाया कि भारत कश्मीर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की यूनिट्स तैनात कर रहा है। जकारिया के मुताबिक, “कश्मीर में अगर उनकी मौजूदगी बढ़ती है तो इसेसे कश्मीरियों में डर बढ़ेगा। जकारिया ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से कश्मीर के हालात पर ध्यान देने की अपील की। ये बयान ऐसे वक्त आया है जब कश्मीर में बढ़ती हिंसा में पाक समर्थित आतंकियों के शामिल होने की बात खुल चुकी है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.