अध्यात्म

केतु के नक्षत्र परिवर्तन से होगा इन 5 राशिवालों को लाभ, जबकि इन 2 को होगा काफी नुकसान

ज्योतिष शास्त्र में केतु ग्रह को छाया ग्रह कहते हैं और इसे आध्यात्म, वैराग्य, मोक्ष का कारक माना जाता है। ज्योतिष में राहु को किसी भी राशि का स्वामित्व प्राप्त नहीं है। हालांकि धनु राशि में ये उच्च के और मिथनु राशि में नीच माना जाता है। इस समय केतु ग्रह वृश्चिक राशि में विराजमान है और जून 2021 में अपना नक्षत्र परिवर्तन करेंगा। 2 जून 2021 को केतु ज्येष्ठा नक्षत्र से अनुराधा नक्षत्र में प्रवेश करेंगे। केतु के इस नक्षत्र परिवर्तन का राशियों पर प्रभाव पड़ेगा। किसी राशि पर शुभ व किसी पर इसका अशुभ प्रभाव देखने को मिलेगा। तो आइए जानते हैं कि आपकी राशि पर केतु ग्रह के परिवर्तन का क्या प्रभाव देखने को मिल सकता है।

मेष राशि

केतु के नक्षत्र परिवर्तन से मेष राशि के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इस राशि के लोगों को मानसिक तनाव और शारीरिक कष्ट हो सकता है। मेष राशि के लोग अपना खासा ध्यान रखें और कोई भी ऐसा कार्य न करें जो कि जोखिम भरा हो। वाहन सावधानी से साथ चलाएं और सेहत से जुड़ी किसी भी समस्या को नजरअंदाज न करें।

वृष राशि

केतु के ज्येष्ठा नक्षत्र में प्रवेश करने से इस राशि के जातकों के जीवन में अच्छा प्रभाव देखने को मिलेगा। प्रेम जीवन अच्छा होगा और उच्च शिक्षा में कामयाबी मिलेगी। समाज में मान-सम्मान बढ़ेगा। हालांकि इस राशि के लोगों की सेहत पर केतु के नक्षत्र परिवर्तन से थोड़ा सा बुरा प्रभाव पड़ सकता है और पैरों में दर्द की शिकायत रह सकती है।

मिथुन राशि

मिथुन राशि के जातकों के जीवन में केतु के नक्षत्र परिवर्तन का मिलाजुला असर देखने को मिलेगा। इस राशि के लोगों को इस दौरान  उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है। अपनी सेहत का खासा ध्यान रखें। जो फैसला लें उसे सोच समझकर ही लें। कोर्ट कचहरी का फैसला आपके हक में आ सकता है। छात्रों के लिए भी ये समय काफी अच्छा साबित होगा और परीक्षा को आसानी से पास कर लें।

कर्क राशि

कर्क राशि के लोगों को थोड़ी तकलीफ का सामना करना पड़ सकता है। इस राशि के लोगों को संतान की ओर से दुख मिल सकता है। सफलता पाने में देरी लग सकती है। बिना मेहनत किए कोई भी कार्य  सफल नहीं होगा। शत्रु से हार का सामना भी करना पड़ सकता है और सेहत से जुड़ी परेशानी भी हो सकती है।

सिंह राशि

सिंह राशि के जातकों की मां की सेहत पर बुरा असर देखने को मिल सकता है। सुखों में कमी का सामना भी करना पड़ सकता है। हालांकि आर्थिक लाभ का योग है। जीवन साथी के साथ मतभेद बढ़ सकते हैं। कार्य क्षेत्र की ओर से तनाव पैदा हो सकता है।

कन्या राशि

कार्य-क्षेत्र में उन्नित के योग बन रहे हैं। आर्थिक लाभ भी इस दौरान हो सकता है। सोचा हुआ कार्य आसानी से पूरा हो जाएगा। जिस कार्य में हाथ डालेंगे उसमें लाभ ही मिलेगा। विरोधियों पर विजय प्राप्त होगी और मेहनत करने पर फल जरूर मिलेगा।

तुला राशि

तुला राशि वाले लोग इस दौरान अपनी सेहत का खासा ध्यान रखें। आर्थिक लाभ मिलेगा। शुभ समाचार सुनने को मिल सकता है। प्रॉपर्टी से जुड़े मामलों में सफलता मिलेगी। जीवन साथी से सुख प्राप्त होगा और संतान पक्ष से आपको लाभ मिलेगा।

वृश्चिक राशि

इस राशि के लोगों पर केतु के ज्येष्ठा नक्षत्र में प्रवेश करने का मिलाजुला असर देखने को मिलेगा। किसी से विवाद हो सकता है। इसलिए बोलते समय सावधानी बरतें। लोगों से प्यार से बात करें। सेहत सम्बन्धी दिक्कतें परेशान कर सकती हैं। कार्यक्षेत्र में प्रयासों से सफलता मिलने के योग हैं।

धनु राशि

धनु राशि के जातकों को धन संबंधी परेशानी हो सकती है। एकदम से खर्चे बढ़ सकते हैं। व्यापार में निवेश करने से पहले अच्छे से सोच लें। दांपत्य जीवन में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। काम के सिलसिले में कहीं दूर यात्रा के योग बन रहा है। यानी आने वाले समय में यात्रा करनी पड़ सकती है।

मकर राशि

मकर राशि के जातकों के लिए उत्तम समय साबित होगा। आमदनी में बढ़ोतरी होगी। मेहनत करने पर सफलता जरूर मिलेगी। वाद-विवाद में न पड़ें तो बेहतर होगा। परिवार के लोगों की ओर से सुख प्राप्ति होगी और धन लाभ होगा।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों के लिए आने वाला समय चुनौतियां से भरा हुआ होगा। कार्य क्षेत्र में कई तरह की परेशानी आ सकती है और विरोधी आपकी छवि खराब कर सकते हैं। सेहत पर ध्यान देना होगा, पेट से जुड़ी तकलीफ हो सकती है।

मीन राशि

मीन राशि के लोगों की जिंदगी पर केतु के नक्षत्र परिवर्तन का मिश्रित फल देखने को मिल सकता है। खर्चों में भी इजाफा होगा और परिवार के लोगों के साथ मतभेद हो सकता है। पिताजी की सेहत पर बुरा असर होगा। संभालकर रहें और दूर की यात्रा करने से बचें।

करें ये उपाय –

  • केतु के प्रकोप से बचने के लिए आप शुक्रवार को केतु ग्रह की पूजा करें। साथ में ही शिवलिंग पर जल भी अर्पित करें और नीले रंग का फूल चढ़ा दें। ये उपाय करने से ये ग्रह आपके अनुकूल बना रहेगा।
  • शुक्रवार को काली रंग की चीजों का दान करें।

Back to top button