बॉलीवुड

अपनी पत्नी को प्रोपर्टी से राजेश खन्ना ने किया था बेदखल, बेटियों के लिए छोड़ा था करोड़ों की दौलत

बॉलीवुड इंडस्ट्री के सबसे पहले सुपरस्टार राजेश खन्ना की आज 78वीं जन्म जयंती है। जी हां, उनका जन्म 29 दिसंबर 1942 को अमृतसर में हुआ था। राजेश खन्ना अपने समय के सबसे हैंडसम और स्टाइलिश अभिनेता कहलाते थे, उनके चार्मिंग लुक और दिलकश मुस्कान पर हर कोई फिदा हो जाता था।

राजेश ने बॉलीवुड के कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया है और अपने एक्टिंग का लोहा मनवाया है। खैर, राजेश खन्ना भले ही हमारे बीच आज मौजूद नहीं हैं मगर उनका जन्मदिन जरूर मनाया जाता है। उनका जन्मदिन सेलिब्रेट करती हैं उनकी बड़ी बेटी ट्विंकल खन्ना। जी हां, राजेश खन्ना और ट्विंकल खन्ना का जन्मदिन 29 दिसंबर को ही होता है।

बहरहाल, 47 वर्षीय ट्विंकल आज धूमधाम से अपना और अपने स्वर्गीय पिता का बर्थडे सेलिब्रेट कर रही हैं। तो इस खास मौके पर आज हम आपको राजेश खन्ना का उनकी बेटियों से प्यार के बारे में बताने वाले हैं…

बेटियों पर जान छिड़कते थे राजेश खन्ना…

बता दें कि राजेश खन्ना अपनी बेटियों से बहुत ही ज्यादा प्यार किया करते थे। वैसे तो डिंपल कपाड़िया और राजेश खन्ना के रिश्तों में मनमुटाव था। दोनों शादी के बाद महज 11 साल तक ही साथ रहे थे और उसके बाद अलग हो गए। लेकिन राजेश खन्ना अपनी दोनों बेटियों ट्विंकल और रिनी पर जान छिड़कते थे।

आपको जानकर हैरानी होगी कि राजेश ने अपनी सारी संपत्ति अपने दोनों बेटियों के नाम कर दी थी। बताया जाता है कि राजेश ने डिंपल को संपत्ति के अधिकारों से बेदखल कर दिया था और सारी संपत्ति अपनी दोनों बेटियों के नाम कर गए। बता दें कि राजेश खन्ना के पास 100 करोड़ रूपए की चल और अचल संपत्ति थी। जिसमें उनका मशहूर बंगला आशीर्वाद भी शामिल था।

वसीयत में बेटियों के अलावा सभी को कर दिया बेदखल…

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो राजेश अंतिम सांस लेने से पहले अपने घर वालों के सामने अपनी पूरी वसीयत पढ़वाना चाहते थे। बताया जाता है कि राजेश खन्ना की इच्छा पर उनकी वसीयत को दोनों बेटियों ट्विंकल और रिनी, दामाद अक्षय कुमार, पत्नी डिंपल कपाड़िया और कुछ करीबी दोस्तों के सामने पढ़ा गया था। वसीयत के अनुसार राजेश ने अपनी पूरी संपत्ति को दो बराबर हिस्सों में बांटकर अपनी दोनों बेटियों को दे दी थी।

बता दें कि राजेश ने अपनी संपत्ति से न सिर्फ अपनी पत्नी डिंपल कपाड़िया को बेदखल किया बल्कि उन्होंने अपने लिव-इन पार्टनर अनिता आडवाणी को भी कोई हिस्सा नहीं दिया। उन्होंने शुरू से ही ये मन बना लिया था कि अपनी पूरी संपत्ति दोनों बेटियों के नाम करेंगे।

इसके बाद राजेश खन्ना की लिव-इन पार्टनर अनिता आडवाणी ने  संपत्ति हासिल करने के लिए कानून का सहारा लिया और कोर्ट में केस भी लड़ा, मगर उनके हाथ कुछ भी नहीं आया। बता दें कि अनिता आडवाणी संग राजेश खन्ना 10 सालों तक लिव-इन में रह रहे थे।

ट्विंकल और रिनी अपने पिता राजेश के मशहूर बंगले आशीर्वाद को एक म्यूजियम बनाना चाहती थीं, मगर दोनों ने अपने इस फैसले को बहुत जल्दी बदल दिया और 95 करोड़ रूपए की कीमत में बेच दिया। बता दें कि राजेश खन्ना के आइकॉनिक बंगले आशीर्वाद को ऑलकार्गो लॉजिस्टिक्स लिमिटेड के चेयरमैन और एमडी शक्ति शेट्टी ने खरीदा।

Back to top button
?>