बॉलीवुड

सुशांत केस: मुम्बई पुलिस फिर सवालों के घेरे में, बिहार DGP बोले नहीं दे रहे पोस्टमार्टम रिपोर्ट

सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह द्वारा पटना में एफआईआर दर्ज करने के बाद से ही बिहार पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। हालांकि उन्हें इस केस की जांच करने में कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। आलम ये है कि मुंबई पुलिस ने अभी तक न तो सुशांत सुसाइड केस से संबंधित पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट बिहार पुलिस को सौंपी है और न ही उन्हें सीसीटीवी फुटेज मुहैया कारवाई गई है। इतना ही नहीं उन्हें सुशांत केस से जुड़ी कोई भी बेसिक जानकारी भी प्रदान नहीं की गई है। यह बात खुद बिहार के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडे (Gupteshwar Pandey) ने रविवार को कही है।


शनिवार के दिन ही उन्होने यह कहा था कि मुंबई पुलिस शहर गई पटना पुलिस की मदद कर रही है। वहीं मुंबई पुलिस द्वारा बिहार पुलिस संग की गई बदसलूकी की खबर को उन्होने सिर्फ एक अफवाह बताया था। डीजीपी पांडे ने कहा कि उनकी पुलिस टीम इस मामले की जांच अच्छे से करने की पूर्ण क्षमता रखती है। उन्होने इस केस के संबंध में कई लोगों के बयान भी दर्ज किए हैं।

अभी तक इनके बयान हुए दर्ज

डीजीपी पांडे ने बताया कि बिहार पुलिस द्वारा अभी तक सुशांत मामले में उनके करीबी मित्र महेश शेट्टी, पूर्व प्रेमिका अंकिता लोखंडे, बहन मीतू सिंह, बावर्ची अशोक, नीरज और एक्टर का इलाज कर रहे डॉ. केरसी चावड़ा के बयान दर्ज किए जा चुके हैं। इसके अलावा इस कथित सुसाइड केस के संबंध में कुछ और लोगों से भी पूछताछ होगी।

सच जल्द सामने आएगा

पांडे आगे कहते हैं कि सच जल्द ही सामने आएगा। बस हम चाहते हैं कि इस मामले से जुड़े सभी चिकित्सकीय एवं कानूनी सबूत हमे सौंप दिए जाए। 25 जुलाई को सुशांत के पिता केके सिंह ने पटना के राजीव नगर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कारवाई थी। उसके आधार पर बिहार पुलिस की चार सदस्या टीम मुंबई में ठहर वहां एक्टर की मौत की जांच कर रही है।

बिहार पुलिस से दुर्व्यवहार की खबर अफवाह थी

वे आगे बताते हैं कि हमारी टीम शुक्रवार की शाम मुंबई के डीसीपी (क्राइम) से मिली थी। उन्होने मदद का वादा किया है। स्टार्टिंग में कुछ संशय और असहयोग जरूर था। मुंबई पुलिस ने बिहार पुलिस को उनके गंतव्य तक पहुंचाने में हेल्प भी की थी। इसलिए मुंबई पुलिस द्वारा बिहार पुलिस संग दुर्व्यवहार संबंधी आरोप बस अफवाह है।

यह जानकारी मुंबई पुलिस से चाहती है

पांडे कहते हैं कि बिहार पुलिस को मुंबई पुलिस से जांच हेतु फोरेंसिक साइंस प्रयोगशाला रिपोर्ट, जांच रिपोर्ट, पोस्ट मार्टम रिपोर्ट और प्रासंगिक सीसीटीवी फुटेज चाहिए। इसके अलावा मुंबई पुलिस ने सुशांत केस में जिन जिन लोगों के बयान दर्ज किए हैं उसकी पूरी जानकारी भी चाहिए।

हम जांच करने में सक्षम है

जब उनसे सीबीआई जांच की मांग को लेकर एक सवाल पूछा गया तो उन्होने कहा कि ‘हम लोग सीबीआई जांच की मांग क्यों करेंगे? बिहार पुलिस इस केस की छानबीन करने में सक्षम है। यदि जरूरत पड़ती भी है तो अगुवाई के लिए आईपीएस रैंक के अधिकारी को मुंबई भेज दिया जाएगा।’

Show More

Related Articles

Back to top button
Close