निर्जला एकादशी के दिन की जाती है बाल गोपाल की पूजा, जानें पूजा करने की विधि ज्येष्ठ मास में आने वाली पहली एकादशी को निर्जला एकादशी कहा जाता है और इस दिन भगवान श्रीकृष्ण की पूजा की जाती है

ज्येष्ठ मास यानी जून के महीने में आने वाली एकादशी को निर्जला एकादशी के नाम से जाना जाता है। इस साल निर्जला एकादशी 13 जून को आ रही है। एकादशी के दिन भगवान विष्णु के अवतारों की पूजा की जाती है और हर महीने में दो एकादशी आती हैं।

निर्जला एकादशी के दिन भगवान विष्णु के कृष्ण अवतार के बाल रूप की पूजा की जाती है। इसलिए आप भी निर्जला एकादशी के दिन लड्डू गोपाल की पूजा जरूर करें और आप ये पूजा अपने घर के मंदिर में कर सकते हैं।

एकादशी के दिन इस तरह से करें पूजा –

– निर्जला एकादशी के दिन आप सुबह उठकर सबसे पहले अपने घर की साफ-सफाई करें और उसके बाद स्नान कर लें। स्नान करने के बाद आप बाल गोपाल को भोग लगाने के लिए प्रसाद बना लें। याद रखें ही आप इस प्रसाद में तुलसी के पत्ते जरूर डालें। क्योंकि भगवान विष्णु को तुलसी के बिना भोग नहीं लगाया जाता है।

–  भोग बनाने के बाद आप बाल गोपाल की मूर्ति को स्नान कराएं और उन्हें नए वस्त्र पहना दें। वस्त्र पहनाने के बाद आप बाल गोपाल की मूर्ति को मंदिर में रख दें। हालांकि आप इस बात का ध्यान रखें की आप बाल गोपाल की मूर्ति को आसन के ऊपर ही रखें।

–  दूध, दही, घी, शहद और चीनी मिलाकर आप पंचामृत बना लें और पंचामृत में भी तुलसी का पत्ता जरूर डाल लें।

–  अब आप अपनी पूजा की थाली तैयार कर लें और पूजा की थाली में आप फूल, चावल, दूर्वा घास, दीपक और जल रख लें।

–  पूजा करते समय सबसे पहले श्री कृष्ण जी को फूल अर्पित करें, उन्हें मिठाई चढ़ाए और उनके सामने एक दीपक जला दें। ये दीपक केवल गाय के घी का ही हो।

–  दीपक जलाने के बाद आप श्री कृष्ण जी को भोग लगाएं और उनको पंचामृत पीला दें।

–  अब आप श्री कृष्ण जी की पूजा करें और पूजा खत्म होने के बाद उनकी मूर्ति के चरण छू लें।

एकादशी के दिन क्या करें-

– एकादशी के दिन आप उपवास जरूर रखें। इस दिन उपवास रखने से भगवान विष्णु खुश हो जाते हैं।

– एकादशी के दिन चीजों का दान जरूर करें। ऐसा करने से आपको पुण्य लगता है।

– इस दिन आप पीपल के पेड़ पर पानी जरूर चढ़ाए। क्योंकि पीपल के पेड़ पर भगवान विष्णु जी का वास होता है।

–  इस दिन आप पीले रंग के वस्त्र धारण करें और पीले रंग की चीजों का ही सेवन करें।

एकादशी के दिन भूलकर भी ना करें ये काम-

– एकादशी के दिन आप बाल और नाखून ना काटें।

– एकादशी के दिन सुबह पूजा करने के बाद अपने घर में झाडू़ ना लगाएं।

– इस दिन आप जौ और चावल का सेवन बिलकुल ना करें। क्योंकि एकादशी के दिन ये चीजे खाने से पाप चढ़ जाता है।

– एकादशी के दिन आप फूल और पत्तों को ना तोड़ने। इस दिन फूल-पत्ती तोड़ना वर्जित होता है।

– एकादशी के दिन जमीन में सोना चाहिए। इसलिए आप इस दिन बिस्तर पर ना सोएं। साथ में ही इस दिन आप मांस और नशीली चीजों का सेवन भी ना करें।

Share this