इस सवाल की वजह से सुष्मिता से मिस इंडिया का ताज हार गईं थी ऐश्वर्या, आज भी होता है मलाल

हर किसी का सपना होता है कि वो जिस भी काम में हो उसे वे बेस्ट करें और हमेशा ऊपर रहें. इसी तरह हर मेल या फीमेल मॉडल्स का सपना रहता है कि कभी वो मिस इंडिया या मिस्टर इंडिया का खिताब जीतें. मगर जब ये बात लड़कियों में आती है तो इस बात को साबित करना बहुत कठिन हो जाता है कि किस लड़की को चुनें. साल 1994 में भी ऐसी दुविधा आ गई थी जब दो सुंदरियों के बीच तय करना मुश्किल हो गया था. मगर इस जवाब से सुष्मिता ने ऐश्वर्या को हराकर जीता था मिस इंडिया का ताज, आप भी देखिए वो वीडियो और जानिए दिलचस्प वाक्या.

सुष्मिता ने ऐश्वर्या को हराकर जीता था मिस इंडिया का ताज

25 साल पहले ऐश्वर्या राय बच्चन मिस वर्ल्ड का खिताब जीत चुकी हैं और इस ताज को हासिल करने के बाद ऐश्वर्या ने भारत का नाम पूरी दुनिया में रोशन कर दिया था. मगर भारत में साल 1994 में हुई फेमिना मिस इंडिया की प्रतियोगिता की ट्रॉफी ऐश्वर्या राय नहीं बल्कि सुष्मिता सेन ने अपने नाम किया था. इन सबमें खास बात ये है कि इन दोनों एक्ट्रेसेस के बीच में केवल .2 मार्क्स का डिफरेंस था. गोवा में आयोजित इस कॉन्टेस्ट में ऐश्वर्या राय और सुष्मिता सेन को 9.33 मार्क्स दिए गये थे. जजेस ने टाइ ब्रेक के बाद दोनों एक्ट्रेसेस से एक-एक सवाल किया. ऐश्वर्या राय से पूछा गया था कि अगर आपको पति में गुणों को तलाशना हो तो द बोल्ड एंड ब्यूटीफुल के रिज फोरेस्टर और सांता बारबरा में मेसन कैपवेल में से किन्हें चुनेंगी ?

देखिए वीडियो –

इस पर ऐश्वर्या राय ने जवाब दिया कि मेसन क्योंकि उन दोनों में बहुत सी चीजें समान हैं. मेसन बहुत ज्यादा केयरिंग नेचर के हैं और उनका सेंस ऑफ ह्यूमर बहुत ही कमाल का है. इसके बाद जजेस ने सुष्मिता सेन से पूछा, ‘अपने देश की टेक्सटाइल हैरिटेज के बारे में आप क्या जानती हैं ? यह कितना पुराना है और आप क्या पहनना पसंद करेंगी ?’ सुष्मिता ने इन सवाल का जवाब कुछ इस तरह दिया, ‘मुझे लगता है कि यह सब महात्मा गांधी के समय से खादी की शुरुआत हुई थी. उस समय से यह एक लंबा सफर तय कर चुका है और टेस्टाइल की मुख्य बातें भी वहीं से हैं. मुझे एथनिक आउटफिट्स पहनने का बहुत शौक है और मेरे पास वेस्टर्न आउटफिट का भी कलेक्शन है.’ सुष्मिता को इस सवाल के लिए 9.41 मार्क्स मिले और ऐश्वर्या को 9.39 मार्क्स दिए गए. इसके साथ ही सुष्मिता सेन को विनर घोषित किया गया था.

दोनों ही कमाल की एक्ट्रेस हैं

90 के दशक में बॉलीवुड को कोहीनूर जैसी एक्ट्रेसेस ऐश्वर्या राय और सुष्मिता सेन मिली थीं. बॉलीवुड में सुष्मिता सेन ने मैं हूं ना, मैंने प्यार क्यों किया, दस्तक, सिर्फ तुम जैसी फिल्मों में काम किया और कई NGO के लिए भी काम करती हैं. इनके अलावा ऐश्वर्या राय ने और प्यार हो गया, हम दिल दे चुके सनम, मोहब्बतें, देवदास, आ अब लौट चलें, जज्बा, ए दिल है मुश्किल, फन्ने खां जैसी कई हिट फिल्मों में काम किया और आज भी फिल्मों में सक्रिय हैं.