मरते समय रावण ने लक्ष्मण को दी थी यह 3 सीख, आप भी इन्हें अपने जीवन में अपनाइए

हिंदू धर्म के अनुसार, इतिहास में दो युद् बहुत ज्यादा लोकप्रिय हैं. एक महाभारत और दूसरा रामायण, और इन दोनों में बुराई की ही जीत हुई. ऐसा हर जगह होता है भले ही बुराई कितनी भी शक्तिशाली क्यों ना हो लेकिन अच्छाई के आगे एक समय आता है कि वो घुटने टेकती ही है. सभी जानते हैं कि रावण बहुत ज्यादा शक्तिशाली और ज्ञानी था लेकिन साथ वो बुराई के था और यही उसकी सबसे बड़ी गलती थी. फिर भगवान श्री राम ने अपने छोटे भाई लक्ष्मण को रावण के पास ज्ञान लेने के लिए भेजा था क्योंकि वह जानते थे कि रावण कितना बड़ा ज्ञानी है. मरते समय रावण ने लक्ष्मण को दी थी यह 3 सीख, और इस सीख को जिस किसी ने भी अपने जीवन में उतार लिया तो बस समझ जाइए उसका जीना सार्थक हो जाएगा और उसकी जिंदगी खुशहाली से भर जाएगी.

मरते समय रावण ने लक्ष्मण को दी थी यह 3 सीख

रावण एक अहंकारी राक्षस था जिसे अपने बल और बुद्धि पर बहुत ज्यादा घमंड था लेकिन उसने अपने जीवन की सबसे बड़ी गलती मर्यादा पुरुषोत्तम राम की पत्नी सीता माता को हरण करने की कर दी. इसी के बाद उसके जीवन का उल्टा क्रम शुरु हो गया और उसका अहंकार ही उसे ले डूबा. अपने किये का परिणाम हर किसी को यहीं भोगना पड़ता है और यही रावण के साथ हुआ, मगर वो ज्ञानी था इसलिए भगवान राम ने अपने भाई को रावण के पास सीख लेने के लिए भेजा और इस बात को अगर आप भी अपना लेंगे तो आप कभी हारते हुए नहीं जिएंगे.

जब रावण को तीर लगा था तब श्री राम ने लक्ष्मण से कहा कि रावण के पास जाकर शिक्षा ग्रहण करें. इसके बाद रावण ने लक्ष्मण को यह तीन बातें बताईं.

1. जीवन में आपने जो भी शुभ काम करने की सोची है उसे जल्द से जल्द कर लेना चाहिए और अशुभ कामों के लिए जितना भी आप उसे टाल सकें टालते रहिए. नहीं तो जीवन में पछताना पड़ सकता है जैसे मैंने श्री राम को पहचानने में भूल कर दी और मेरी यह हालत हो गई है.

2. रावण ने लक्ष्मण को दूसरी बात यह बताई थी कि आप चाहे कितने भी बलवान हों लेकिन कभी भी अपने शत्रु को कमजोर या कम नहीं समझना चाहिए. मैंने हनुमान को एक वानर समझकर सबसे बड़ी भूल की और मेरी यह हालत हो गई.

3. अपनी दी हुई तीसरी सीख में रावण ने बताया कि जीवन में कभी किसी को अपना राज मत बताओ क्योंकि ऐसा करने से आपका ही नुकसान होगा. कोई कितना भी अच्छा क्यों ना हो आप इस गलती को कभी नहीं करिए. क्योंकि मैंने अपने छोटे भाई को अपने राज बताए और उसकी वजह से मैं मरणासन्न ही हालत में पड़ा हुआ हूं.
यह भी पढ़ें : सरसों के तेल को यूज करने से दूर होती है ये 6 बड़ी समस्या, नंबर 3 से तो हर दूसरा इंसान परेशान