सरसों के तेल को यूज करने से दूर होती है ये 6 बड़ी समस्या, नंबर 3 से तो हर दूसरा इंसान परेशान

सरसों के तेल में कई तरह के औषधीय गुण पाए जाते हैं। इसका प्रयोग खाने के रूप में तो किया ही जाता है, क्योंकि इसकी तासीर गर्म होती है इसलिए इसे सर्दियों में हाथ-पैर में लगाया भी जाता है। पौष्टिकता से भरपूर सरसों के तेल को खाना बनाने के लिए ज्यादा प्रयोग किया जाता है। अगर इसे सर्दियों में हाथ पैर में लगाया जाए तो इसकी मालिश से मांसपेशियां मजबूत होती हैं, इससे रक्त संचार भी बेहतर होता है और इसके मालिश से शरीर में गर्माहट भी पैदा होती है।

सरसों के तेल को तेलों का राजा कहा जाए तो गलत नहीं होगा। यह सभी तेलों में सबसे बेहतर और उत्तम तेल है। शरीर से दर्द को दूर करने के साथ साथ इससे त्वचा संबंधी समस्याएं भी दूर होती हैं। इस समस्या का हल करने के लिए भी ये बेहतर माना जाता है। इस तेल के मालिश और प्रयोग से किसी तरह के कोई भी साइड इफेक्टस का खतरा नहीं रहता है। ये तो हुए सरसों तेल खाने और लगाने के फायदे लेकिन क्या आप जानते हैं कि सरसों के तेल को लगाने और सूंघने के जितने फायदे हैं, उतने ही फायदे इसे सूंघने से भी है। तो आज हम आपको इस लेख के जरिए बताएंगे सरसों तेल के लगाने और खाने के अलावा सूंघने के फायदे।

सरसों तेल लगाने के फायदे-

  • दांतों की तकलीफ में सरसों के तेल लगाने से तकलीफ दूर होती है। अगर दांत के दर्द से परेशान हैं तो सरसों के तेल में थोड़ा सा नमक मिला कर दांतों में रगड़ने से दांत से संबंधी परेशानी दूर होती है।

  • सरसों के तेल से मालिश करने से त्वचा स्वस्थ और चमकदार बनती है। इसके अलावा ये शरीर के किसी भी भाग में फंगस को दूर कर सकती है। त्वचा संबंधी किसी भी रोग में सरसों का तेल फायदेमंद होता है।

  • सरसों के तेल को सर के स्कैल्प में लगाने से बालों को सही पोषण मिलता है और इससे बालों का ग्रोथ बढ़ता है।
  • कमजोरी दूर करने में भी सरसों का तेल काफी फायदेमंद होता है। इससे शरीर की कमजोरी दूर होती है, और कार्य करने की क्षमता में बढ़ोतरी होती है। अगर आप भी शऱीर से कमजोर महसूस करते हैं तो स्नान से ठीक पहले लगाएं और पूरे शरीर की मालिश करें। फिर स्नान करें, ऐसा करना बहुत फायदेमंद होगा।

  • ठंड के दिनों में इसे त्वचा के इलाज के लिए रामबाण माना जाता है। इसे लगाने से रूखी सूखी त्वचा कोमल बनती है।
  • विटामिन ई की अच्छी मात्रा पाई जाती है, इसलिए ये सूरज से निकलने वाली अल्ट्रावाइलेट किरणों से बचाती है।

सरसों तेल खाने के फायदे-

  • शरीर के पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। इसमें ऐसे औषधिय गुण पाए जाते हैं जिसके सेवन से पाचन तंत्र मजबूत हो जाता है। अगर आपको पेट से संबंधी परेशानी या अपच की परेशानी रहती है तो खाने में सरसों के तेल का प्रयोग करें।
  • भूख न लगे तो भी आप इसका प्रयोग कर सकते हैं, अगर आप इस तरह की परेशानी में हैं तो अपने खाने का तेल बदल दें और सरसों के तेल का प्रयोग करें।
  • हृदय संबंधी रोगों का भी खतरा कम होता है। इसलिए आयुर्वेद के अलावा  कई चिकित्सक भी खाने में सरसों के तेल का प्रयोग की सलाह देते हैं।

सरसों तेल सूंघने के फायदे-

  • सरसों के तेल सूंघने से दमा और सांस के मरीजों के लिए फायदेमंद होता है।
  • दांत दर्द से भी राहत दिलाती है।
  • सर्दी जुकाम में सरसों के तेल का कस खींचने से आराम मिलता है।