दिलचस्प

पढ़ाई कैसे करनी चाहिए? जानिए अच्छे अंक लाने के कुछ आसान उपाय

हर विद्यार्थी का एकमात्र सपना होता है कि वह अपनी कक्षा में सबसे अधिक अंक प्राप्त करके टॉप करे. लेकिन इसके लिए कोई भी विद्यार्थी अधिक समय तक पढ़ाई नहीं करना चाहता. ऐसे में हर किसी के मन में एक ही सवाल चल रहा होता है कि पढाई कैसे करनी चाहिए, ताकि अच्छे अंक हासिल हो सकें.

विद्यार्थियों की इन्ही समस्यायों का समाधान  करने के लिए आज हम आपको कुछ ऐसे आसान टिप्स बताने जा रहे हैं, जिन्हें अपना कर आप सबसे उत्तम अंक प्राप्त कर सकते हैं और अपने माँ बाप का नाम रोशन कर सकते हैं, इसके लिए आपको अधिक समय तक किताबी कीड़ा बनने की भी आवश्यकता नहीं है. क्यूंकि किताबी कीड़ा बन कर सिर्फ़ रट्टा लगाया जा सकता है जबकि पढाई को मन में अच्छे से बिठाने के लिए विषयों की सही समझ होना ही काफी है. तो चलिए जानते हैं पढ़ाई से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण फैक्ट्स के बारे में जो आपकी समझदारी और अंक गणना में बढ़ोतरी करेंगे.

पढाई मे मन कैसे लगाये

आज के समय में हर दुसरे विद्यार्थी के मन में एक ही सवाल पनप रहा है कि आखिर पढाई मे मन कैसे लगाये? तो दोस्तों, पढ़ाई दिखने में जितनी कठिन लगती है, हकीक़त में उतनी ही आसान है इसके लिए बस हमे कुछ चीज़ों की समझ होना आवश्यक है. यदि आप पढाई करना चाहते हैं तो इसके लिए आपका मन शांत होना जरूरी है और अगर आप मन की शांति चाहते हैं तो आप ऐसी जगह का चुनाव करें जहाँ, एकांत हो अर्थात जहाँ शोरगुल ना हो.

यदि आपके कमरे में टीवी या रेडियो चल रहा है तो, उस कमरे में पढने का आपको कोई फायदा नही होगा. इसके इलावा आप पढने के समय आरामदायक कुर्सी का इस्तेमाल करें. साथ ही इस बात का ख़ास ध्यान रखें कि आपके स्टडी रूम में रौशनी की अच्छी व्यवस्था हो. क्यूंकि शांत एवं रोशन कमरे में याद किया गया पाठ हमे लंबे समय तक याद रहता है.

पढ़ाई करने के नियम

पढ़ाई करने के नियम

यदि आप कक्षा में अव्वल आना चाहते हैं तो आपको पढ़ाई करने के नियम पता रहने चाहिए. इन नियमों के पालन से आपको पढाई में कोई भी पीछे नहीं छोड़ सकता. तो चलिए जानते हैं इन नियमों के बारे में विस्तार से-

पढ़ाई करने के नियम

रेगुलर स्टडी

अगर आप किसी भी टॉपर से उसके पढ़ने की दिनचर्या पूछेंगे तो उसका सबसे पहला जवाब आपको रेगुलर स्टडी ही मिलेगा. दरअसल रेगुलर स्टडी अर्थात रोज़ाना पढने से हमारी यादाश्त में बढ़ोतरी है और बहुत से टॉपिक हमे लंबे अरसे तक याद रह जाते हैं. ऐसे में परीक्षा के समय भी लिखने में हमे काफी आसानी रहती है.

चीज़ों को समझना

एक होशियार विद्यार्थी हमेशा छोटी से छोटी बात को भी अच्छे से समझ कर याद करता है. क्यूंकि समझ कर पढने से वह चीज़ हमेशा के लिए हमारे दिमाग में घर कर लेती है और आसानी से भूलती नहीं है.

सीखने की कोशिश

कईं बार कुछ चीज़ें बच्चों को आसानी से समझ नहीं आती और वह उस विषय को स्किप कर देते हैं. परंतु यदि आप स्किप करने की जगह उस चीज़ को सीखने का प्रयास करें तो आगे चल कर यह आपके लिए फायदेमंद साबित होगा.

मन लगा कर पढ़ाई करना

मनौवेज्ञानिक रिसर्च ने इस बात को साबित कर दिया है कि जो विद्यार्थी मन लगा कर पढ़ाई करता है, उसकी स्मरण शक्ति में उतनी ही अधिक बढ़ोतरी होती है.

पढ़ाई करने का समय

पढने से पहली टाइम टेबल बनाना विद्यार्थी के लिए सबसे फायदेमंद होता है. वहीँ अगर आप पढ़ने के समय के बारे में सोच रहे हैं तो पढ़ाई करने का समय सुबह का होता है. दरअसल, सुबह सवेरे उठ कर इंसान का दिमाग एक दम तरो-ताज़ा होता है ऐसे में चीज़ें याद करने की शक्ति भी अधिक रहती है. तो अगर आप पढ़ने के सही समय की खोज कर रहे हैं तो सुबह 4-7 बजे का समय पढाई के लिए सबसे उत्तम रहेगा.

परीक्षा की तैयारी के टिप्स

नीचे हमने कुछ जरूरी परीक्षा की तैयारी टिप्स लिखे हैं, इन टिप्स को अपना कर आप परीक्षा में अच्छे अंकों से पास हो सकते हैं. तो चलिए जानते हैं इन टिप्स के बारे में-

  • परीक्षा में पास होने के लिए अच्छा बनता है टाइम टेबल के अनुसार चलना. इसके लिए आप एक टाइम टेबल पहले ही तैयार कर ले कि आपको कब, कितना और क्या-क्या पढ़ना है? इसके लिए आप पढ़ाई के बीचो-बीच 10 से 15 मिनट का ब्रेक भी निर्धारित कर सकते हैं ताकि आप ब्रेक के बाद जब पढ़ाई करने बैठे तो बेहतर तरीके से आगे पढ़ पाएं.
  • परीक्षा के लिए किसी भी विद्यार्थी के लिए पर्याप्त नींद लेना अति आवश्यक है. बहुत से विद्यार्थी अच्छे अंक आने के लिए देर रात तक पढ़ाई करते हैं और सुबह भी जल्दी उठकर पढ़ने लग जाते हैं इससे उनकी नींद पूरी नहीं हो पाती और दिमाग सुस्त हो जाता है. आपका दिमाग तभी ठीक से काम करेगा जब उसे पर्याप्त आराम मिलेगा.
  • बहुत से बच्चे पढ़ने के दौरान अपने खाने-पीने का ख्याल नहीं रखते. जब कि आपका दिमाग तभी काम करेगा जब उसको पर्याप्त मात्रा में पोषक तत्व मिलेंगे. पढ़ाई के दौरान जूस दूध हरी सब्जियां आदि का सेवन करें और फास्ट फूड से दूरी बनाए रखें.

यह भी पढ़ें:- आईएएस बनने के लिए योग्यता

Related Articles

Back to top button