आईएएस बनने के लिए योग्यता: ऐसे करें IAS बनने की तैयारी

आईएएस बनने के लिए योग्यता: इंडियन एडमिनिस्ट्रेटर सर्विस (Indian Administrative Service) को आईएएस कहा जाता है. हर साल भारतीय प्रशासनिक सेवा यानि UPSC द्वारा आईएएस के चयन के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाता है. यदि कोई यूपीएससी की इस परीक्षा में पास हो जाता है तो उसको आगे के ज़ोनस में चुनाव के लिए भेजा जाता है. यह ज़ोन पोस्ट डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट, एसडीएम आदि हो सकते हैं. हर आईएएस ऑफिसर को अलग ज़ोन और अलग अलग जिम्मेदारियां दी जाती है. आज हम आपको आईएएस बनने के लिए योग्यता, और कुछ जरूरी नियमों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके आईएएस बनने के सपने को साकार करने में आपकी मदद करेंगे.

आपको बता दें कि हर साल सिविल सेवा द्वारा आईएएस की परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की जाती है. इनमे से UPSC की परीक्षा सबसे कठिन मानी जाती है. यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन यानी यूपीएससी को भारत देश की सबसे प्रतिष्ठित सेवाओं में गिना जाता है. यदि परीक्षा में आप पास हो जाते हैं तो आपको आपकी क्षमता के अनुसार मजिस्ट्रेट, पुलिस महकमे या आला अफसर का पद सम्भालने को दिया जाता है. बहरहाल चलिए जानते हैं आईएएस बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए.

आईएएस बनने के लिए योग्यता

आईएएस बनने के लिए योग्यता

आईएएस बनना आम तोड़ने जितना आसान नहीं है. बहुत से लोगों को इस परीक्षा में पास होने में सालों साल लग जाते हैं. वहीँ कुछ लोग ऐसे भी है जो इस पद की नियुक्ति के सपने तो देख लेते हैं लेकिन इनके कठिन रूल्स से हार मान कर पीछे हट जाते हैं. आईएएस बनने के लिए योग्यता का ख़ास ध्यान रखना पड़ता है. चलिए हम आपको बताते हैं कि इस पोस्ट के इए आपकी एलीजीबिलिटीज क्या क्या होनी चाहिए-

आईएएस बनने के लिए योग्यता – जरूरी शिक्षा

किसी भी सरकारी नौकरी के लिए कुछ ख़ास नियम और कानून बनाये जाते हैं, जिन्हें फॉलो करने से ही हम उस नौकरी को पा सकते हैं. वहीँ आईएएस परीक्षा के चयन के लिए शिक्षा बेहद ख़ास भूमिका निभाती है. साल 2018-19 के नियमों अनुसार आईएएस बनने के लिए अभियार्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से बैचलर डिग्री होना आवश्यक है. जो विद्यार्थी अभी ग्रेजुएशन के आखिरी साल में है, वह भी इस परीक्षा में बैठ सकते हैं. इसके लिए बी-टेक, एम बी बी एस, बीएससी आदि जैसी डिग्री माननीय होगी.

आईएएस बनने के लिए योग्यता

आईएएस बनने के लिए योग्यता – राष्ट्रीयता

किसी भी सरकारी पद के लिए अभियार्थी की राष्ट्रीयता बेहद मायने रखती है. ऐसे में यदि आप आईएएस की परीक्षा देने का मन बना चुके हैं तो आपकी राष्ट्रीयता भारतीय होनी चाहिए. जो लोग पाकिस्तान, वियतनाम, म्यांमार, श्रीलंका, केन्या आदि देश में बस रहे हैं, वह इस परीक्षा के लिए योग्य नहीं हैं.

आईएएस बनने के लिए योग्यता – आयु सीमा

आईएएस की परीक्षा के लिए सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों की उम्र 32 वर्ष है जबकि ओबीसी के लोगों के लिए उम्र वर्ग 35 वर्ष है. वहीँ अनुसूचित व् अन्य जातियों के लिए उम्मीदवारों के लिए अधिकतम उम्र 37 वर्ष है.

विकलांगो के लिए उम्र सीमा 

  • सामान्य वर्ग के लिए – 42 वर्ष
  • ओबीसी के लिए  – 45  वर्ष
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के लिए  – 47 वर्ष

सरकार द्वारा सिविल सर्विस परीक्षा में शामिल होने के लिए न्यूनतम आयु में किसी वर्ग के लिए कोई छूट नहीं है, सिविल सर्विस परीक्षा में शामिल होने के लिए न्यूनतम आयु 21 वर्ष है! इस परीक्षा में वर्षों की गणना 1 अगस्त से की जाती है!

यदि जम्मू कश्मीर से है नागरिकता 

  • सामान्य वर्ग – 37 वर्ष
  • ओबीसी वर्ग  – 40 वर्ष
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति – 50 वर्ष

विकलांग एवं ड्यूटी से अक्षम

  • सामान्य वर्ग  – 37 वर्ष
  • ओबीसी वर्ग – 38 वर्ष
  • अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति – 40 वर्ष