विशेष

एक शख्स को सोते-सोते दिमाग में आया ऐसा ख्याल, एक झटके में बन गया करोड़ों का मालिक

हर व्यक्ति अपने जीवन में कोई ना कोई सपना जरूर देखता है सभी लोग चाहते हैं कि वह अपना सपना पूरा कर सके परंतु सभी लोग अपने सपने को पूरा करने में कामयाब रहे यह हो नहीं सकता, बहुत कम ही लोग ऐसे होते हैं जो अपने सपने को साकार कर देते हैं वह अपने सपने को पूरा करने में सक्षम रहते हैं व्यक्ति अपने सपने में बहुत कुछ देखता रहता है और सुबह उठकर वह सब कुछ भूल जाता है परंतु आज हम आपको इस लेख के माध्यम से एक ऐसे व्यक्ति के बारे में जानकारी देने वाले हैं जिसको सोते हुए उसके दिमाग में आईडिया मिला था और उसी आईडिया के आधार पर करोड़ों का मालिक बन गया।

दरअसल, हम जिस व्यक्ति के बारे में बात करने वाले हैं वह व्यक्ति अमेरिका का रहने वाला है जिसका नाम माइक लिंडले है जिसने अपने सपने को साकार करके अपनी एक अलग ही पहचान बना डाली है इस समय माइक लिंडले एक बहुत ही मशहूर बिजनेसमैन है परंतु आपको जानकर हैरानी होगी कि माइक लिंडले को अपने बिजनेस का आईडिया अपने सपने से मिला था जिसको इन्होंने सच करके दिखाया है।

बात ऐसी है कि माइक लिंडले को हर रात सोने में दिक्कत होती थी उसको सोने में दिक्कत उसके तकिए के कारण रहती थी क्योंकि उसका तकिया आरामदायक नहीं था जिसकी वजह से उसको नींद लेने में परेशानी का सामना करना पड़ता था एक रात अचानक से माइक लिंडले की नींद खुल गई और उसने उठकर घर के हर कोने में मायपिलो लिख दिया था यही माइक लिंडले का पहला स्टेप था जहां से इन्होंने अपने व्यापार की शुरुआत की थी इस बीच माइक लिंडले काफी परेशान भी थे क्योंकि उनका मन पढ़ाई में बिल्कुल भी नहीं लगता था उनको ऐसा महसूस होता था कि वह पढ़ाई में अपना वक्त खराब कर रहे हैं जिसकी वजह से इन्होंने अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी और अपना पूरा ध्यान अपने व्यवसाय पर लगा दिया था।

इतना सब कुछ होने के बावजूद भी कुछ ठीक नहीं रहा था क्योंकि 1 दिन माइक लिंडले की मैनेजर से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी जिसकी वजह से मैनेजर ने उनको नौकरी से निकाल दिया था इसके बाद उन्होंने नौकरी छोड़कर अपने व्यापार करने के बारे में सोच विचार किया सबसे पहले माइक माइक लिंडले ने कार्पेट क्लीनिंग का काम शुरू किया था इसके पश्चात पिग ब्रीडिंग का काम किया था इसके बाद इन्होंने बार टेंडर का भी काम किया था परंतु यह सब काम करने के बावजूद भी इनको खास मुनाफा नहीं मिल रहा था।

माइक लिंडले को इस दौरान नशे की आदत भी लग गई थी उनके नशे की आदत की वजह से पत्नी के साथ तलाक भी हो गया था इनके हाथ से सब कुछ निकलता ही जा रहा था इनको सोने में दिक्कत की वजह से तकिए का व्यापार का आईडिया आया तो सबसे पहले माइक लिंडले ने स्थानीय स्तर पर तकिया बनाकर बेचना आरंभ कर दिया परंतु इसके बावजूद भी इनको कुछ खास सफलता नहीं मिल पा रही थी इसके पश्चात एक दिन एक रिटेल स्टोर ने माइक लिंडले को अपने यहां तकिया बेचने का प्रस्ताव दिया था क्योंकि उनको यह बिजनेस पसंद आया था माइक लिंडले ने 10.5 लाख उधार लेकर अपना स्टोर खोला और धीरे-धीरे उनको सफलता हासिल होने लगी थी।

माइक लिंडले ने सिर्फ 5 कर्मचारियों से अपनी कंपनी की शुरुआत की थी अब इनकी कंपनी में 500 से भी अधिक कर्मचारी काम कर रहे हैं माइक लिंडले की कंपनी मायपीलो हर साल लगभग तीन करोड़ तकिए बेचती है और कंपनी का रेवेन्यू करीब 30 करोड़ डॉलर तक पहुंच गया है अब यह अमेरिका में माइक पिलो किंग के नाम से प्रसिद्ध हो गए हैं उन्होंने अपने जीवन में काफी निराशा का सामना करा और हर क्षेत्र में इनको असफलता ही हासिल हुई परंतु इन्होंने इन सबके बावजूद भी हार नहीं मानी और आज इन्होंने 2000 करोड रुपए का कारोबार खड़ा कर दिया है।

Related Articles

Close