यूपी चुनाव: महागठबंधन की राह पर उत्तर प्रदेश, मिलेंगे कांग्रेस और मुलायम के हाथ?

लखनऊ/नई दिल्ली –  उत्तर प्रदेश में आगामी विधान सभा चुनाव को देखते हुए बिहार कि तर्ज पर महागठबंधन की एक और दिलचस्प कोशिश शुरू हुई है। सत्ता पर काबिज समाजवादी पार्टी और अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रही कांग्रेस पार्टी अभी तक गठबंधन की बात को सिरे से नकार रही थीं, लेकिन अब इन दोनों पार्टियों ने यूपी भाजपा के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए एक साथ चुनाव लड़ने की कोशिशें तलाशनी शुरू कर दी हैं। UP polls Alliance in Uttar Pradesh. 

ऐसी खबर है कि सपा आने वाले चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन कर सकती है। मंगलवार को कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने मुलायम सिंह से मुलाकात की और उनकी यह बैठक दो घंटे तक चली।

 

भाजपा को रोकने के लिए हो रहा महाठबंधन –

UP polls Alliance in Uttar Pradesh

बीती रात विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर और एसपी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव की अचानक मुलाकात के बाद से यूपी में महाठबंधन को लेकर सुगबुगाहट तेज हो गई। गौरतलब है कि यह बात तब हुई जब कांग्रेस, जेडीयू और अजित सिंह ने संकेत दिए थे कि मुलायम खुद महागठबंधन बनाने के लिए पहल नहीं कर रहे हैं ऐसे में अभी बात आगे बढ़ाने की जरूरत नहीं है।   

यूपी में लगेगा बिहार फार्मूला –

UP polls Alliance in Uttar Pradesh

बिहार में महागठबंधन की ऐतिहासिक सफलता के बाद उसी फार्मूले को यूपी में दोहराने की तैयारी की जा रही है। फिलहाल कांग्रेस के पास कुछ दलित वोट है। नीतीश कुमार के पास अति पिछड़ों को रिझाने का दमखम है तो मुलायम सिंह यादव के पास यादव और मुसलमान मतदाता है। अजीत सिंह इसमें जाटों के कुछ वोट जोड़ सकते हैं जो कई सीटों पर जीत के लिए निर्णायक हो सकता है।

अगर ऐसा हो पाता है तो भाजपा विरोधी दल सूबे में एक मज़बूत गठबंधन खड़ा कर पाने में सफल होंगे और चुनाव पर इसका व्यापक असर पड़ेगा।  

महागठबंधन की शर्त – अखिलेश यादव होंगे सीएम चेहरा –

UP polls Alliance in Uttar Pradesh

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने समाजवादी पार्टी को यह साफ कर दिया कि वह चाहते हैं कि सपा की कमान पूरी तरह से अखिलेश यादव को दी जाए। माना जा रहा है कि राहुल गांधी ने सपा के प्रमुख नेताओं तक अपना यह संदेश पहुंचाया है कि यदि अखिलेश यादव को आम सहमति से सपा का चेहरा घोषित किया जाए तो कांग्रेस महागठबंधन के लिए तैयार है।

ख़बरों के मुताबिक, मीटिंग में समाजवादी पार्टी सांसद अमर सिंह भी मौजूद थे। आपको बता दें कि सीएम अखिलेश यादव हमेशा से अमर सिंह के खिलाफ में रहे हैं। मीटिंग की डीटेल तो उजागर नहीं कई गई, लेकिन ऐसी चर्चा है कि कांग्रेस और सपा में गठबंधन हो सकता है।