राहुल गांधी ने किया वंदे मातरम का अपमान, बीजेपी बोली ‘पूरे देश को अपनी संपत्ति समझते हैं राहुल’

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक बार फिर से नये विवाद में घिरते हुए नजर आ रहे हैं। जी हां, कर्नाटक में चुनाव प्रचार के दौरान राहुल गांधी पर वंदे मातरम का अपमान करने का आरोप लगाया गया है, जिसके बाद से ही एक बार फिर से कर्नाटक का सिसायत चरम पर तो है ही साथ में देश का मूड भी सियासत में रंग चुका है। बीजेपी ने इस मुद्दे को लेकर कांग्रेस को चौ-तरफा घेर रही है। ऐसे में अब देखने वाली बात यह होगी कि राहुल गांधी इस आरोप का जवाब कैसे देते हैं? आइये जानते हैं कि हमारे इस रिपोर्ट में क्या खास है?

राहुल गांधी पर राष्ट्रगीत का अपमान करने का गंभीर आरोप लगाया गया है, जिसकी वजह से बीजेपी हमलावर हो रही है। बीजेपी ने राहुल गांधी का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा कि राहुल के मन में राष्ट्रगीत को लेकर कितना मान सम्मान है, ये तो आज साफ साफ दिखाई दे रहा है। बता दें कि यह वीडियो किसी चैनल ने कवर किया था, जिसके बाद इसी वीडियो के सहारे राहुल गांधी पर बीजेपी गंभीर आरोप लगा रही है, जोकि राहुल गांधी के लिए मुसीबतों का सबब बनता जा रहा है।

बताते चलें कि बीजेपी ने जो वीडियो शेयर किया है, उसमें राहुल गांधी मंच से गायको राष्ट्रगीत जल्दी खत्म करने का आदेश देते दिखाई दे रहे हैं, इस वीडियो को डालने के बाद संबित पात्रा ने कहा कि आज राहुल गांधी ने नेहरू की याद दिला दी, जब नेहरू ने जिन्ना के लिए राष्ट्रगीत को बंद करा दिया था, ऐसे में इस कांग्रेस परिवार से क्या उम्मीद की जाए जब इनके मन में राष्ट्रगीत के लिए ही सम्मान नहीं है। संबित पात्रा ने कहा कि इसीलए हम राहुल को शहजादा कहते हैं, क्योंकि वो पूरे देश को अपनी संपत्ति समझते हैं, इसलिए वो ऐसे व्यवहार करते हैं।

वहीं इस पूरे मामले पर कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि यह वीडियो पूरी तरह से फर्जी है। राहुल गांधी ने इस तरह की कोई हरकत नहीं है। यह बीजेपी वाले राहुल गांधी की छवि को खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। इसके साथ ही कांग्रेस ने यह भी कहा कि मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए राहुल गांधी की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है, लेकिन यह वीडियो सिर्फ और सिर्फ फेक है। बता दें कि कर्नाटक में चुनाव 12 मई को है, ऐसे में इसको लेकर हर दांव पेंच आजमाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.