शूटिंग के दौरान अपना आपा खो बैठा था यह एक्टर, जयाप्रदा ने थप्पड़ मारकर किया था खुद से अलग, जानें

मुंबई: अपने जमाने की मशहूर अभिनेत्री जयाप्रदा 56 साल की हो गयी हैं। जयाप्रदा का जन्म 3 अप्रैल 1962 को आंध्रप्रदेश के राजमुंदरी में हुआ था। जयाप्रदा ने 1979 में आई फिल्म सरगम से बॉलीवुड में डेब्यू किया था। इसके बाद जयाप्रदा ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा था। सरगम में जायाप्रदा के साथ ऋषि कपूर भी थे। इस फिल्म की शूटिंग के दौरान जयाप्रदा के साथ ऐसी घटना घटी थी, जिसे जयाप्रदा आजतक नहीं भूली हैं। जी हाँ फिल्म की शूटिंग के दौरान एक एक्टर अपना आप खो बैठा था।

दरअसल इस फिल्म की शूटिंग के दौरान दलीप ताहिल अपना आप खो बैठे थे और जयाप्रदा के साथ छेड़छाड़ की। हुआ यह था कि फिल्म के लिए एक इंटिमेट सीन शूट किया जा रहा था। शूटिंग के दौरान दलीप ने जयाप्रदा को कसकर पकड़ लिया। ऐसे में खुद को दलीप के चंगुल से बचाने के लिए जयाप्रदा ने दलीप को एक जोरदार थप्पड़ मारा। हालाँकि थप्पड़ मारने के बाद जयाप्रदा ने कहा कि ये थप्पड़ रियल लाइफ का नहीं बल्कि रील लाइफ का थप्पड़ था।

आपकी जानकारी के लिए बता दें जब जयाप्रदा 14 साल की थीं, तभी उन्हें अपने स्कूल में एक डांस प्रोग्राम पेश करने का मौका मिला था। इस डांस को देखकर एक निर्देशक इतन ज्यादा प्रभावित हुआ था, कि अपनी फिल्म भुमिकोसम में डांस करने का ऑफर दिया था। उस समय जयाप्रदा ने यह करने से इनकार कर दिया था, लेकिन बाद में माता-पिता के जोर देने पर जयाप्रदा ने फिल्म में डांस करना स्वीकार किया था। इस फिल्म में जयाप्रदा को डांस करने के लिए केवल 10 रूपये मिले थे। फिल्म में उनके तीन मिनट के डांस को देखकर दक्षिण भारत के कई डायरेक्टर उनसे प्रभावित हुए थे।

मशहूर डायरेक्टर सत्यजीत रे जयाप्रदा की खूबसूरती और उनकी एक्टिंग से इतने प्रभावित थे कि उन्होंने इन्हें विश्व की सबसे खुबसूरत महिला का खिताब दे दिया था। सत्यजीत रे इनके साथ एक बांग्ला फिल्म बनाना चाहते थे, लेकिन बीच में ही तबियत खराब होने की वजह से उनका यह प्लान अधूरा रह गया। जयाप्रदा के लिए 1979 का साल काफी महत्वपूर्ण था। इसी साल आई सरगम हिट हुई थी, और रातों-रात जयाप्रदा की जिंदगी बदल गयी। हालाँकि इसके बाद जयाप्रदा की कुछ फ़िल्में असफल भी रही। उसके बाद जयाप्रदा को कामचोर फिल्म से सफलता मिली। एक समय था जब जयाप्रदा को बॉलीवुड की खुबसूरत अभिनेत्रियों में गिना जाता था।

अब जयाप्रदा फिल्मों से दूर हो गयीं और पॉलिटिक्स में कदम रख लिया है। जयाप्रदा ने 1994 में तेलुगु देशम पार्टी से राजनीति में कदम रखा। बाद में चंद्रबाबू नायडू से मतभेद होने के बाद इन्होने समाजवादी पार्टी ज्वाइन कर ली और रामपुर से सांसद भी रहीं। जयाप्रदा और अमर सिंह के बीच काफी नजदीकियां होने की भी मीडिया में ख़बरें आ चुकी हैं। सपा से अमर सिंह को निष्कासित किये जाने के बाद भी जयाप्रदा उनका समर्थन करती रहीं। इसके बाद सपा ने भी इन्हें निकालने का ऐलान कर दिया था। इस समय जयाप्रदा सपा से इस्तीफा देकर अजीतसिंह की पार्टी राष्ट्रीय लोकदल की सदस्य हैं।