कहीं ड्राइविंग है मना तो कहीं वोट देने का नहीं है अधिकार, महिलाओं के लिए बने हैं इन देशों में ऐसे क़ानून

इस दुनिया में तरह-तरह के नियम हैं। कई नियम तो ऐसे हैं, जिनके बारे में जानकर आप अपना माथा पकड़ लेंगे। इनमें से ज़्यादातर नियम -क़ानून महिलाओं के लिए हैं। इस दुनिया में सदियों से महिलाओं के लिए अजीबो-ग़रीब नियम रहे हैं। कहने के लिए तो आज महिलाओं को ज़्यादातर देशों में बराबरी का दर्जा दे दिया गया है, लेकिन आज भी किसी ना किसी चीज़ को लेकर महिलाओं के लिए कुछ अलग नियम बनाए गए हैं। भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में इस तरह के नियम आपको देखने को मिल सकते हैं।

इनमें से कई नियम तो विकसित देशों में भी हैं, जहाँ महिलाओं और पुरुषों के बीच समानता है। सदियों से महिलाओं को पुरुष समाज अपने से छोटा समझता रहा है। आज भी कई ऐसे देश हैं जहाँ महिलाओं को पुरुष अपने पैरों की धूल समझते हैं। आज दुनिया भले ही कितनी भी बदल गयी है लेकिन महिलाओं की बात आते ही पुरुष अपनी धाक ज़माने लगते हैं। महिलाओं को बराबरी का दर्जा नहीं देना चाहते हैं। भारत में महिलाओं को देवी का दर्जा दिया गया है। लेकिन कई अजीबो-ग़रीब नियम यहाँ भी देखने को मिल सकते हैं।

जैसे भारत में पीरियड के दौरान महिलाओं को मंदिर में प्रवेश करने नहीं दिया जाता है। हालाँकि इसके पीछे कारण यह दिया जाता है कि महिलाएँ पीरियड के समय अपवित्र हो जाती हैं। अब समझ में नहीं आता है कि जिस पीरियड की वजह से महिलाएँ गर्भवती होती हैं और ईश्वर रूपी बच्चे को जन्म देती हैं, वह चीज़ कैसे अपवित्र हो सकती है। हालाँकि आज हम भारत की बात नहीं करने वाले हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे देशों के बारे में बताने जा रहे हैं, जहाँ आज 21वीं सदी में भी महिलाओं के लिए अजीबो-ग़रीब नियम बनाए गए हैं।

इन देशों में हैं महिलाओं के लिए अजीबो-ग़रीब नियम:

*- आपको जानकर हैरानी होगी कि अमेरिका जैसे विकसित देश में जहाँ महिलाओं और पुरुषों को समानता का अधिकार मिला हुआ है, वहाँ महिलाओं को इनरवियर पहनने की इजाज़त नहीं है। इसके लिए वहाँ प्रतिबंध लगा हुआ है। हालाँकि ऐसा नियम अमेरिका के केवल मिसौरी राज्य में है।

 

*- वेटिकन सिटी पूरे विश्व का सबसे छोटा स्वतंत्र राज्य है। लेकिन यहाँ महिलाओं को वोट देने का अधिकार प्राप्त नहीं है।

*- उत्तर कैरोलिना में महिलाएँ अपना बदन खुला नहीं रख सकती हैं। यहाँ महिलाओं को अपना बदन ढाँककर रखना होता है। यहाँ की महिलाओं को पूरे दिन 16 गाज तक अपने शरीर को ढाँककर रखना होता है।

*- इटली में जब कोई महिला बीमार होती है तो उसे पनीर की फ़ैक्टरी में नहीं जाने दिया जाता है। इसके अलावा अगर महिला ज़्यादा सुंदर नहीं है तो भी उसे फ़ैक्टरी में नहीं जानें दिया जाता है।

*- सऊदी अरब में महिलाओं को ड्राइविंग की इजाज़त नहीं है। अगर कोई महिला ऐसा करते हुए पकड़ी जाती है तो उसके ख़िलाफ़ क़ानूनी कार्यवाई होती है।

*- ईरान में महिलाओं के साथ ज़्यादती होती है। यहाँ की महिलाओं को तो विश्वकप मैच देखने का भी अधिकार नहीं मिला हुआ है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.