ये है मोदी का दम, दुनिया का सबसे आधुनिक एयर डिफेंस सिस्टम अब हमारा; चीन-पाकिस्तान की उड़ी नींद

नई दिल्ली – गोवा में रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच शनिवार को हुई दि्वपक्षीय बातचीत के बाद कई समझौतों का ऐलान हुए हैं। जिसमें रक्षा, ऊर्जा, इन्फ्रास्ट्रक्चर, अंतरिक्ष, विज्ञान और रिसर्च से जुड़े विभिन्न क्षेत्रों में कई अहम समझौते शामिल हैं। World’s most advanced air defense systems.

रूसी एस400 मिसाइल पर लगी मुहर –

भारत-रूस के बीच एस400 मिसाइल सिस्टम पर समझौता हो गया है और इस पर मुहर लग गई है। इसके साथ ही कामोव हेलीकाप्टर खरीदने पर भी बात बन गई है। इसके साथ ही परमाणु उर्जा, गैस पाईप लाइन, स्मार्ट सिटी और जहाज निर्माण जैसे 16 अहम समझौते हुए हैं।

World's most advanced air defense systems

इस अवसर पर पीएम मोदी ने रूसी कहावत भी कही जिसका मतलब था कि ‘एक पुराना दोस्त, दो नए दोस्तों के बेहतर होता है।’ मोदी और पुतिन के बीच उरी हमले और उसके बाद भारत की ओर से की गई कार्रवाई (सर्जिकल स्ट्राइक) के बारे में भी चर्चा हुई। भारत-रूस के बीच बातचीत को लेकर चीन-पाकिस्तान की नींद उड़ी हुई है।

अब बढ़ेंगी पाकिस्तान की मुश्किलें –

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से भी मोदी की मुलाकात होगी और इसमें आतंकी अजहर मसूद और पाकिस्तान को लेकर बात हो सकती है। आज रूस से भारत का जो करार होने वाला है उससे चीन और पाकिस्तान की रातों की नींद और दिन का चैन खत्म हो जाएगा। रूस भारत को ऐसा हथियार देने वाला है जिसके सामने इन दोनों की परमाणु बम वाली मिसाइलें भी ठहर नहीं पाएंगी।

सबसे आधुनिक एस 400 एयर डिफेंस सिस्टम अब भारत का –

रूस के राष्ट्रपति और पीएम मोदी ने आज करार किया। इसके बाद दुश्मनों की नीयत को नेस्तनाबूत करने आएगा रूस में बना एस 400 एयर डिफेंस सिस्टम। जो कि दुनिया का सबसे आधुनिक और लंबी दूरी का एयर डिफेंस सिस्टम है।

एक साथ 36 लक्ष्यों पर निशाना –

 

World's most advanced air defense systems

ये एक साथ 36 लक्ष्यों पर निशाना साध सकता है, दुश्मनों की मिसाइलों की सटीक पहचान 600 किलोमीटर दूर से ही कर लेता है, और 400 किलोमीटर दूर मौजूद मिसाइल को हवा में ही मार गिराता है। लड़ाकू विमान ही नहीं ड्रोन्स को भी जमींदोज करने की ताकत है इसमें।

दुश्मन की मिसाइल को हवा में ही देगा मात –

रूस के बाद भारत दुनिया का दूसरा देश होगा जिसके पास एस 400 एयर डिफेंस सिस्टम होगा। जो कि 10 हजार फीट की ऊंचाई तक वार करने में सक्षम है। इसमें तीन मिसाइलों का इस्तेमाल होता है. पहली मिसाइल की मारक क्षमता 400 किमी है। दूसरी मिसाइल की मारक क्षमता 250 किमी और तीसरी मिसाइल की मारक क्षमता 120 किमी है।

पांच एस 400 मिसाइल सिस्टम की होगी खरीद  –

modi_g_20_brics_624x351_afp

भारत, रूस से पांच एस 400 मिसाइल सिस्टम खरीदने वाला है। जिसकी कुल कीमत करीब 33 हज़ार करोड़ रुपए है। पहले से ही माना जा रहा था कि भारत-रूस से करीब 39 हज़ार करोड़ रुपए का रक्षा सौदा हो सकता है। एस 400 एयर डिफेंस सिस्टम के अलावा कामोव हेलिकॉप्टर इसमें शामिल होंगे। इसके साथ ही यह भी माना जा रहा था कि नेवी के लिए फ्रिगेट, सेना के लिए इंफैंट्री कॉम्बैट व्हीकल्स और परमाणु पनडुब्बियों के लिए भी अग्रीमेंट पर दस्तखत हो सकते हैं।

पाकिस्तान के साथ रूस ने जब से सैन्य अभ्यास किया है तब से ये खबर आ रही थी भारत से रूस के संबध खराब होने लगे हैं। लेकिन, रूस के साथ कथित तौर पर कमज़ोर पड़ते अपने संबंधों को इस सौदे के जरिये सुधारने की भी कोशिश है।

देखें भारत-रूस संबधों पर यह विशेष विडियों –

Leave a Reply

Your email address will not be published.