गर्ल्स स्पेशल: पीरियड्स के दिनों में लड़कियों को नहीं करने चाहिए ये 8 काम, वरना हो सकती है गड़बड़

पीरियड्स को हिंदी में मासिक धर्म या मासिक चक्कर के नाम से भी जाना जाता है. इस दुनिया में हर लड़की और महिला को पीरियड्स के दौरान दर्द से गुजरना ही पड़ता है. ये महिलायों में हर महीने में होने वाली एक आम समस्या है. ऐसे में हर महीने में लड़कियों को ना चाहते हुए भी इस दर्द को झेलना ही पड़ता है. कुछ लड़कियों को साधारण पेन होता है जबकि, अधिकांश को हद से ज्यादा दर्द के साथ साथ उल्टियाँ, चक्कर आदि जैसी तकलीफे होती हैं. इन दिनों दर्द के कारण लड़कियां काफी चिडचिडी हो जाती हैं और दर्द से छुटकारा पाने के लिए 24 घंटे आराम करना ही बेहतर समझती हैं.

बहुत सारी लड़कियां और हाउसवाइफ घर के कामकाज में और रोजाना की दिनचर्या में इतनी व्यस्त रहती हैं, जिनके कारण उन्हें भयानक दर्द से गुजरना पड़ता है. ऐसे में आज हम महिलायों की उन 8 आदतों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें अगर आप त्याग दें तो भारी दर्द से चुटकियों में छुटकारा पा सकती हैं.

बहुत सारी लड़कियां मासिक धर्म के दौरान बाथरूम में जरूरत से ज्यादा समय व्यतीत करती हैं. ऐसे में उनकी यह आदत उनके लिए परेशानी का कारण बन सकती है. आपकी जानकारी के लिए हम आपको बता दें कि टॉयलेट सीट पर बहुत सारे बैक्टीरिया जमा रहते हैं जो महिलाओं के वेगिना से उनके यूट्रस में प्रवेश कर जाते हैं और यूरिनल इन्फेक्शन का कारण बनते हैं.

कैफीन का अधिक सेवन हमारी सेहत के लिए हानिकारक सिद्ध हो सकता है ऐसे में अगर आप रोजाना तीन से चार बार कॉफी पीती हैं तो यह आपके लिए अच्छा संकेत नहीं है. जवाब पीरियड्स के दौरान ज्यादा मात्रा में कॉफी पीती है तो इससे आपका दर्द पहले से अधिक बढ़ेगा और यूट्रस में जलन की समस्या पैदा हो जाएगी.

जो महिलाएं पीरियड्स के दौरान अल्कोहल का सेवन करते हैं उनमें से पानी के साथ-साथ मैग्नीशियम का स्तर काफी मात्रा में कम हो जाता है. ऐसा करने से उनका मूड स्विंग होना, गुस्सा आना और सिर दर्द जैसी परेशानी होना आम बात है.

जो महिलाएं पीरियड्स के दौरान धूम्रपान करती हैं उन्हें अधिक दर्द की तकलीफ झेलनी पड़ती है. ऐसे में अगर आप धूम्रपान त्याग दें तो आपको राहत मिल सकती है.

शक्कर से बनी चीजों को खाने से हमारे शरीर में इंसुलिन का स्तर बढ़ जाता है इसके साथ ही इंसान के हार्मोन्स असंतुलित हो जाते हैं. जिसके कारण दर्द और चिड़चिड़ापन बना रहता है.

कुछ लड़कियों को मासिक धर्म के दौरान पेट फूलने की समस्या बनी रहती है ऐसे में उनको नमक का सेवन बहुत कम कर देना चाहिए या नमक वाली चीजों से दूरी बना लेनी चाहिए.

वह सारी लड़कियों को दर्द के दौरान भूख नहीं लगती और वह लंबे समय तक खाली पेट रहती हैं. परंतु आपको हम बता दें कि पीरियड्स के दौरान खाना ना खाना या फिर खाली पेट रहना आपकी एसिडिटी का कारण बन सकता है और आपकी दर्द की समस्या को और अधिक बढ़ा सकता है.

कई बार दर्द के कारण लड़कियां रात भर सो नहीं पाती. मगर आपको हम बता दें कि नींद पूरी ना होने के कारण भी आप का दर्द लंबे समय तक बना रह सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.