इस तस्वीर में छिपी हैं भारतीय राजनीति की 3 पहेलियाँ, 99 % हुए फ़ैल, क्या आप ढूंढ सकते हैं?

नई दिल्ली – लोकसभा में कुछ दिनों पहले ऐसा कुछ हुआ जिसे देख कर वहां बैठे लोग भौचक्का रह गए। नज़ारा कुछ ऐसा था कि वहां बैठ सांसदों को बहुत देर तक ये बात समझ में नहीं आई कि आखिर ये हो क्या रहा है। दरअसल, हुआ ये ता कि राहुल गांधी ने लोकसभा में सभी पार्टियों के नेताओं की मौजूदगी में भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के पास पहुँचे और वहीं काफी देर तक उनसे बातचीत की। यह तस्वीर जब सामने आई तो लोगों ने इसपर तरह तरह की टिप्पणियाँ की। लेकिन, ये बात बहुत कम लोग समझ पांए कि इस तस्वीर में भारतीय राजनीति के कई राज भी छिपे हुए हैं।

 तस्वीर में पहली बात

गौर से देखेंगे, तो तस्वीर में आपको दिखाई देता कि वित्त मंत्री अरुण जेठली खड़े हुए हैं। वित्त मंत्री अरुण जेठली के आगे वाली टेबल पर बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी बैठे हैं। लेकिन, यहाँ सबसे ज्यादा ध्यान देने वाली बात ये हैं कि इस तस्वीर में अरुण जेठली सुब्रमण्यम स्वामी के मोबाइल में देखते हुए नजर आ रहे हैं। वित्त मंत्री अरुण जेठली की ये बात इस तस्वीर के माध्यम से सबके सामने आ गई। अब किसी की मोबाइल में इस तरह से ताकाझांकी करना कहां से ठीक है। वो भी देश के वित्त मंत्री के लिए।

 तस्वीर में दूसरी बात

दुख देने वाली बात तस्वीर में ये है वो लाल कृष्ण आडवानी जो एक समय में बीजेपी के सबसे पॉपुलर नेता थे। वो आडवाणी जिनसे मिलने के लिए बड़े बड़े नेता लाइन लगाये खड़े रहते थे। आज वही लाल कृष्ण आडवानी संसद भवन में अपनी पार्टी के सभी नेताओं के साथ होकर भी अलग बैठे हुए हैं। बीजेपी का कोई भी नेता उनके पास नही बैठा है। हालांकि, राहुल गाँधी ने अपनी फितरत से उलट यहां संस्कार दिखाते हुए उनके पास जाकर बैठ गए। इस तस्वीर के सामने आने के बाद लोग कह रहे हैं कि राहुल गाँधी आडवाणी जी से जीत का मंत्र लेने के लिए गये हुए हैं।

 तस्वीर में तीसरी बात

सबसे चौकाने वाली बात तस्वीर में ये है कि देश का गृह मंत्री देश के प्रधानमंत्री को इग्नोर करता हुए नजर आ रहा हैं। याँ यू कहे तो जो बात आडवाणी जी के साथ अभी हो रही है उसकी एक झलक अभी से देखने को मिल गई है। तस्वीर में आप देख सकते हैं कि कैसे नरेंद्र मोदी को राजनाथ सिंह अनदेखा करते हुए दिख रहे हैं। कुछ लोग इस तस्वीर को देश की की सबसे अच्छी राजनीतिक तस्वीर बोल रहे हैं। गौरतलब है कि इस तस्वीर खुद सुब्रमण्यम स्वामी ने अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया था।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.