बॉलीवुड

OTT का फुल फॉर्म क्या है? कैसे ये बॉलीवुड को धीरे-धीरे खाते जा रहा है? जानिए इसके बारे में सब

‘OTT प्लेफॉर्म’ यह शब्द आप ने पिछले कुछ सालों में कई बार सुना होगा। नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम, डिज्नी प्लस हॉटस्टार OTT प्लेफॉर्म के कुछ उदाहरण हैं। बीते कुछ वर्षों ने इन OTT प्लेफॉर्म की तरफ दर्शकों का रुझान कुछ ज्यादा ही बड़ा है। जब कोरोना कॉल में सिनेमाहाल बंद थे तो लोग मनोरंजन के लिए इन OTT प्लेफॉर्म का सहारा लेने लगे।

दर्शकों की पहली पसंद बन रहा OTT प्लेफॉर्म

इसके अलावा इन OTT प्लेफॉर्म पर फिल्म मेकर्स को सेंसरशिप की कैची का सामना नहीं करना पड़ता है। ऐसे में वह और ज्यादा क्रिएटिव होकर फिल्में या वेब सीरीज बनाते हैं। दर्शकों को भी ये चीजें पसंद आती है। अब देखा जाए तो देश में सिंगल स्क्रीन थिएटर भी कम होते जा रहे हैं। उसकी जगह मल्टीप्लेक्स ने ले ली है। इन मल्टीप्लेक्स का चार्ज सिंगल स्क्रीन थिएटर की तुलना में कही ज्यादा होता है। ऐसे में दर्शक पैसे बचाने के लिए OTT प्लेफॉर्म को पसंद करने लगे हैं।

इन OTT प्लेफॉर्म पर जैसे-जैसे दर्शकों की संख्या बढ़ने लगी, वैसे वैसे यहां फिल्म मेकर्स और भी फिल्में और वेब सीरीज रिलीज करने लगे। बड़े-बड़े सितारें भी अब इस OTT प्लेफॉर्म का हिस्सा बनने से नहीं कतराते हैं। इसके भारत में 45 करोड़ सब्सक्राइबर्स हैं। फिल्मों के फ्लॉप होने का ये भी एक कारण है। OTT प्लेफॉर्म के बारे में तो हमने आपको बहुत कुछ बता दिया। लेकिन क्या आप इसका फुल फॉर्म जानते हैं?

यह है ओटीटी का फूल फॉर्म

ओटीटी का फूल फॉर्म है ओवर द टॉप (Over-The-Top)। ओटीटी एक ऐसी जगह है जहां आप ऑफिशयली सामग्री सीधे अपने स्क्रीन डिवाइस पर देख सकते हैं। यह ओटीटी पहले से उपस्थित इंटरनेट कनेक्शन के टॉप पर रहता है। इसके लिए आपको महीने या साल के हिसाब से पैसे देने पड़ते हैं।

जब कोई फिल्म या वेब सीरीज इस पर रिलीज होती है तो OTT प्लेफॉर्म का मालिक फिल्म मेकर्स को इसके पैसे देता है। वह अपने OTT प्लेफॉर्म पर फिल्म रिलीज करने के राइट्स खरीद लेता है। आजकल ये राइट्स करोड़ों में बिकते हैं। इसलिए कई फिल्म मेकर्स अपनी कम बजट वाली फिल्में इस पर रिलीज करना पसंद करते हैं। वहीं दर्शकों को भी थिएटर टिकट की तुलना में कम पैसों में कई फिल्में और वेब सीरीज देखने को मिल जाती है।

Back to top button
?>