धनबाद: आये दिन सोशल मीडिया पर कोई ना कोई वीडियो वायरल हो जाता है। सोशल मीडिया के आने के बाद से लोगों ने अपनी परेशानियाँ जनता और सरकार को बड़ी आसानी से बताना शुरू किया है। सोशल मीडिया की ही देन है कि जिन विषयों पर लोगों का ध्यान बिलकुल जाता ही नहीं था, आज लोग उसे प्रमुखता से ले रहे हैं। लोग उन विषयों पर बात कर रहे हैं और उसका हल भी निकाला जा रहा है।

यह बात तो सत्य है कि भारत में अनेकों परेशानियाँ हैं, जिनसे यहाँ के लोगों को हर रोज दो-चार होना पड़ता है। आये दिन किसी ना किसी परेशानी का वीडियो वायरल हो जाता है। आजकल एक ऐसी ही परेशानी का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। यह वीडियो भारत के रेलवे की कलई खोलते हुए दिख रहा है। जी हाँ यह वीडियो एक लोको पायलट का है।

सोच में पड़ जायेंगे ट्रेन के अन्दर छाते की क्या जरुरत

वीडियो में साफ़-साफ़ देखा जा सकता है कि एक लोगों पायलट ट्रेन के अन्दर एक हाथ से छाता पकड़े हुए है और दुसरे हाथ से ट्रेन को कंट्रोल कर रहा है। अब आप सोच रहे होंगे कि ट्रेन के अन्दर छाते की क्या जरुरत है। ज़नाब यह भारत है, यहाँ हर काम जुगाड़ से करना पड़ता है। प्राप्त जानकारी के अनुसार यह वीडियो धनबाद रेल मंडल की एक पैसेंजर ट्रेन का है।

वीडियो वायरल होने के बाद हरकत में आ गया धनबाद रेलवे मंडल

पिछले कई दिनों से धनबाद रेल मंडल के कई पैसेंजर ट्रेन के ड्राईवरों ने ट्रेन की खस्ताहाल स्थिति के बारे में कई बार शिकायत की, लेकिन किसी ने इस बात पर ध्यान ही नहीं दिया। जैसे ही यह वीडियो वायरल हुआ, धनबाद मंडल रेल प्रशासन तुरंत हरकत में आ गया। यहाँ के कई पैसेंजर ट्रेनों के ड्राइवरों को ट्रेन चलाते वक़्त एक हाथ में छाता पकड़कर बैठना पड़ता है, क्योंकि इंजन बोगी की छत टूटी हुई है।

भगवान भरोसे यात्रियों की सुरक्षा

जब भी बारिश होती है तो छत से पानी टपकने लगता है। लगातार टपकते पानी से बचने के लिए ड्राइवरों को छाता लेकर ट्रेन चलाना पड़ता है। इस वीडियो के आने के बाद से लोगों की जमकर प्रतिक्रिया देखने को मिल रही है। लोग कह रहे हैं कि जब ट्रेनों के ड्राईवर ही सुरक्षित नहीं हैं तो पैसेंजर की सुरक्षा के बारे में क्या कहा जाए। इस वीडियो के आने के बाद भी अगर रेलवे प्रशासन नहीं जगता है तो यात्रियों की सुरक्षा सचमुच भगवान भरोसे है।

वीडियो देखें-

Leave a Reply

Your email address will not be published.