भारत को देखना होगा 2020 तक भयंकर उतार-चढ़ाव, 2022 तक हो सकता है हिन्दू राष्ट्र घोषित!

भारत को 2017 के अंत तक बाहरी एवं आन्तरिक कारणों से परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। भारत को उसके पड़ोसी देश से भी परेशानी हो सकती है। उसके बाद 10 से 22 जुलाई, 5 से 20 अगस्त, 10 सितम्बर से 15 अक्टूबर के मध्य भारत पाकिस्तान के खिलाफ कोई बड़ी सैनिक कार्रवाई कर सकता है। जिसकी वजह से देश को युद्ध जैसे हालात का भी सामना करना पड़ सकता है। ऐसा भारत को 2022 तक लगातार उतार-चढ़ाव के साथ देखना होगा।  change face of india.

सरकार को करना पड़ेगा निंदा का सामना:

Rajnath singh on terror attacks

केंद्र सरकार को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। यह भी उम्मीद की जा रही है कि उपरोक्त तारीखों में से किसी दिन भारत, कश्मीर को सेना के हवाले कर दे। इससे देश की राजनीति काफी गरमा जाएगी। ऐसी उम्मीद की जा रही है कि सरकार द्वारा उठाये गए कदम अपरिपक्व भी हो सकते हैं। इसकी वजह से सरकार को काफी निंदा का सामना भी करना पड़ेगा। एक नए नेता का उदय, आतंकवादी घटनाओं के कारण जनवरी 2018 में देश में अजीब माहौल और गुस्सा उत्पन्न हो सकता है।

आर्थिक क्षेत्र में हो सकता है काफी नुकसान:

सरकार अपनी तरफ से पूरी कोशिश करेगी लेकिन उसे आन्तरिक और बाह्य आलोचना झेलनी पड़ सकती है। सरकार द्वारा आर्थिक हालत सुधारने के प्रयास भी ज्यादा सफल नहीं होंगे, जिससे आर्थिक क्षेत्र को काफी नुकसान होगा। अप्रैल-जून के बीच में भारत के मध्य में वाहन दुर्घटना बढ़ जाएगी। केवल यही नहीं हिंसा से जनता और सरकार दोनों परेशान रहेगी। जून 2018 में भारत के अन्दर कोई ऐसी वैज्ञानिक खोज होगी, जिसे देखकर पूरी दुनिया हैरान हो जाएगी। देश को किसी बड़े भूकम्प का भी सामना करना पड़ सकता है।

देश में हो सकता है इमरजेंसी जैसा माहौल:

देश के कई अधिकारी और नेताओं को बंदी बनाया जा सकता है। देश में अफरातफरी और इमरजेंसी जैसे हालत उत्पन्न हो सकते हैं। साम्प्रदायिक दंगे और आतंकवादी घटनाओं की वजह से असमंजस की स्थिति का निर्माण होगा। धीरे-धीरे देश की हालत से सरकार विचलित होती दिखेगी। सरकार की असफलता हर समय परेशान करेगी। सलाहकार ना ही सही निर्णय कर पाएंगे ना ही कोई सही कदम उठा पाएंगे। 1 अप्रैल 2018 से देश में कोई दबंग नेता आएगा। धीरे-धीरे उसका वर्चस्व बढ़ेगा, जिससे देश में अंतर्कलह की स्थिति उत्पन्न हो सकती है।

पाकिस्तान से हो सकता है भीषण युद्द:

ऐसी उम्मीद की जा रही है कि आने वाले 3-4 सालों में 2 नेता उसके साथ और जुड़ जायेंगे, जिससे देश की राजनीति की दिशा बदल सकती है। यह भी उम्मीद की जा रही है कि आगे जाकर यह नेता एक तानाशाह का रवैया अपना सकता है। उसके नेतृत्व में 2020 में पाकिस्तान से एक भीषण युद्द होने की सम्भावना है, जिससे पाक की शक्ति खत्म हो जाएगी और ऐसे हालात उत्पन्न होंगे, जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती। अपने तानाशाही रवैये की वजह से विश्व में एक अलग छवि बनाएगा और विश्व भी उसका सहयोग करेगा। यह भी उम्मीद की जा रही है कि 2022 तक यह देश हिन्दू राष्ट्र घोषित हो जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published.