राष्ट्रपति चुनाव : ये होंगे देश के अगले राष्ट्रपति, जानिए क्यों हैं वो मोदी की पहली पसंद!

नई दिल्ली – बीजेपी पिछले एक साल से पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर विचार कर रही थी। ऐसा माना जा रहा था कि मोदी किसी दलित चेहरे को राष्ट्रपति भवन में भेजने का मन बना रहे हैं और हुआ भी ऐसा ही पीएम ने राष्ट्रपति पद के लिए राम नाथ कोविंद को चुना है। राम नाथ कोविंद दलित हैं। वो वर्तमान में बिहार के राज्यपाल हैं। Bjp president candidate.

रामनाथ कोविंद के बारे में कुछ जरूरी बातें :

बीजेपी की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए वर्तमान में बिहार के राज्यपाल राम नाथ कोविंद को चुना गया है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली में सोमवार को राम नाथ कोविंद के नाम की घोषणा की। कोविंद बीजेपी का दलित चेहरा हैं। कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाकर बीजेपी ने एक तीर से कई निशाने साधे हैं।

कोविंद 16 साल तक सुप्रीम कोर्ट और दिल्ली हाई कोर्ट में वकील रह चुके हैं। इसके अलावा वो बीजेपी के राज्यसभा सांसद भी रहे हैं। कोविंद अगर राष्ट्रपति बनते हैं, तो वे के. आर. नारायणन के बाद देश के दूसरे दलित राष्ट्रपति होंगे। कोविंद यूपी में कानपुर जिले के परौंख गांव के निवासी हैं।

क्यों चुने गए रामनाथ कोविंद :

रामनाथ कोविंद के चयन के कारणों पर बात करें तो वे स्वयंसेवक होने के साथ बीजेपी के पुराने नेता भी हैं। वो संघ और बीजेपी में कई प्रमुख पदों पर रहने के साथ-साथ सांसद भी रहे हैं। कोविंद कोरी समाज से आने वाले दलित हैं जो उत्तर प्रदेश में दलितों की तीसरी सबसे बड़ी आबादी है। कोविंद पढ़े-लिखे तो हैं ही साथ-साथ उन्हें कई भाषाओं का ज्ञान भी है।

वो दिल्ली हाईकोर्ट के वकील के तौर पर काम कर चुके हैं। कुल मिलाकर राष्ट्रपति पद के लिए जिस तरह की मूलभूत आवश्यकताएं जरूरी होती हैं, वो सब उनमें हैं। कोविंद उत्तर प्रदेश से आते हैं मोदी व बीजेपी के लिए उनका यूपी से होना और बिहार का राज्यपाल होना दोनों राज्यों में आगामी चुनावों के लिहाज से काफी फायदेमंद हो सकता है।