ब्रेकिंग न्यूज़

नायडू ने आते ही किया बड़ा धमाका

zakirvyank

जो काम अरुण जेटली 2 साल में नहीं कर सका वो काम नायडू जी ने पद भार सँभालने के दुसरे दिन कर दिया, इसको कहते है निष्ठा से कार्य करना

अक्सर हम खबरों में सुनते रहते थे की फलां चैनल ने ये खबर चलायी वो खबर चलायी, सरकार उनपर जब कार्यवाही करती तो एक नये नाम से कोई और गैर लाईसेंस वाला चैनल शुरू हो जाता इन पर पक्की रोक लगाने के लिए सरकार ने कानून बना दिया है अब ये लोग फर्जी खबरे नहीं दिखा सकेंगे. आज ही सभी राज्यों को भी निर्देश भेजे जा रहे है, इसकी निगरानी के लिए गृहमंत्रालय की मदद भी ली जा रही है,

बंद होंगे जाकिर नाइक के चैनल, पीस टीवी के इंटरनेट के URLभी होंगे ब्लॉक :वेंकैया नायडू

मुस्लिम धर्म प्रचारक जाकिर नाइक के उपदेशों पर बढ़ते बवाल के बीच केंद्र सरकार ने उनके चैनल ‘पीस टीवी’ पर पाबंदी लगा दी है. यही नहीं, यूट्यूब पर भी पीस टीवी का यूआरएल ब्लॉक किया जाएगा. शुक्रवार शाम सूचना एवं प्रसारण मंत्री वेंकैया नायडू ने अहम बैठक बुलाई, जिसमें इस बाबत फैसला किया गया.

बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा, ‘जिन चैनल को ब्रॉडकास्टिंग की अनुमति होती है, उन्हें लाइसेंस दिया गया है. जो बिना लाइसेंस के चैनल चला रहे हैं उनका उपकरण जब्त हो सकता है. आज बैठक हुई. जिला मॉनिटरिंग और राज्य मॉनिटरिंग कमिटी को एडवाइजरी जारी हो रही है कि वो इस पर नजर रखें.!उन्होंने आगे बताया कि गृह मंत्रालय से भी कहा गया है कि सोशल मीडिया पर अगर कुछ दिखे तो उसे रिपोर्ट किया जाए, ताकि तत्काल कार्रवाई हो सके.

 

वेंकैया ने भाषण को बताया आपत्तिजनक
केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू ने गुरुवार को नाइक के भाषण को आपत्तिजनक बताया था. इसके साथ ही उन्होंने संकेत दिए थे कि सरकार उनके खिलाफ कार्रवाई करेगी. नायडू ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्रालय हर चीज का विश्लेषण करेगा.गौरतलब है कि बांग्लादेश हमले में आतंकियों द्वारा जाकिर नाइक के उपदेशों से प्रेरित होने का जिक्र आया, जिसके बाद से ही नाइक को बैन करने की मांग शुरू हो गई है. दिल्ली से बीजेपी सांसद महेश गिरी ने चिट्ठी लिखकर गुरुवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मांग की कि नाइक के चैनल के प्रसारण पर तत्काल रोक लगा देनी चाहिए.

यूट्यूब से बात कर सकती है सरकार
दूसरी ओर, सूत्र बताते हैं कि सरकार यूट्यूब पर पीस टीवी के यूआरएल को भी ब्लॉक करेगी. इसके लिए यूट्यूब जैसी वेबसाइट्स से बात की जाएगी, क्योंकि पीस टीवी बहुत चालाकी से काम करता है. वो एकसाथ सैकड़ों क्लिप यूट्यूब पर डाल देता है.

महाराष्ट्र में केबल ऑपरेटरों पर कार्रवाई
दूसरी ओर, मुस्लिम उपदेशक के चैनल ‘पीस टीवी’ को दिखाने वाले केबल ऑपरेटरों पर कार्रवाई होगी. महाराष्ट्र सरकार की तरफ से कहा गया है कि जिन केबल ऑपरेटरों ने भी पीस टीवी दिखाया है, उनकी जांच होगी और कार्रवाई होगी. दोषी पाए जाने पर लाइसेंस भी रद्द किया जा सकता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close