हवाई जहाज का मजा देगी तेजस एक्सप्रेस, जानिए इसके अहम फीचर्स!

राजधानी और शताब्दी के बाद एक नई प्रीमियम ट्रेन तेजस एक्सप्रेस अब यात्रियों की सेवा के लिए तैयार है, सोमवार 22 मई को पहली तेजस ट्रेन मुंबई और गोवा के बीच दौड़ेगी. इस ट्रेन का बेसिक किराया शताब्दी से 20% ज्यादा होगा. इस ट्रेन में हवाई जहाज के जैसी सुविधाएं होंगी. इसके सभी कोच में चाय और कॉफी के लिए वेंडिंग मशीन लगी होगी. साथ ही पैसेंजर की सुविधा के लिए हर सीट पर एलसीडी स्क्रीन और वाई-फाई की सुविधा होगी. इस ट्रेन में आटोमेटिक डोर क्लोजिंग और सिक्योर गैंगवेज भी होगा. आपको बता दें कि सिक्योर गैंगवेज के तहत डिब्बों के बीच बने गलियारे में दरवाजे बंद किये जाने की सुविधा होगी.

इस ट्रेन की रफ्तार 200 किलोमीटर प्रतिघंटे होगी :

बीते शुक्रवार को रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन पर तेजस एक्सप्रेस का निरीक्षण किया, उन्होंने कहा कि चूंकि इस ट्रेन में सुविधाएं अपेक्षाकृत ज्यादा होंगी इसलिए इसका किराया भी सामान्य ट्रेनों से ज्यादा होगा. इस ट्रेन की रफ्तार 200 किलोमीटर प्रतिघंटे होगी, सरकार ने अपना बजट पेश करते हुए दिल्ली से चंडीगढ़ और लखनऊ के लिए भी तेजस एक्सप्रेस चलाने की बात कही थी.

रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि जिसतरह से शताब्दी में यात्रियों को टिकट बुक करते वक्त फूड का ऑप्शन मिलता है ठीक वैसे ही इसका टिकट बुक करते वक्त भी यह ऑप्शन मिलेगा. साथ ही फूड ऑप्शन पर टिक करने पर कैटरिंग चार्ज किराये में जोड़ दिया जायेगा. तेजस के किराये में शताब्दी के मुकाबले 20% अधिक भुगतान करना होगा इसके साथ ही सुपरफास्ट, रिजर्वेशन और कैटेगरी चार्ज भी देना होगा.

यात्री के लिए एलसीडी स्क्रीन सुविधाएं होंगी :

आपको बता दें कि इस ट्रेन में ऑटोमेटिक दरवाजे बंद होने की व्यवस्था भी है, भारत में ऐसा केवल मेट्रो ट्रेनों में ही होता है. साथ ही इसमें एग्जीक्यूटिव क्लास और चेयरकार वाले कोच होंगे, जिनमें 22 नए फीचर्स हैं, इसमें राजधानी और शताब्दी ट्रेनों की तरह ही कैटरिंग की सुविधा होगी. इसके अतिरिक्त चाय कॉफी के लिए वेंडिंग मशीनें, मैगजीन्स और स्नैक टेबल्स, हर यात्री के लिए एलसीडी स्क्रीन जैसी सुविधाएं होंगी.

इसके टॉयलेट में बायो-वैक्यूम टॉयलेट्स जिनमें वाटर इंडिकेटर्स, सेंसर्ड टैप और हैण्ड ड्रायर्स की सुविधा होगी. ट्रेन में खाने पीने के लिए मशहूर और जाने माने शेफ के द्वारा तैयार किये गए मनपसंद खाद्य पदार्थ उपलब्ध होंगे. कलर मैनेजमेंट के जरिये इस बात का ध्यान रखा जायेगा कि यात्रियों को वर्ल्ड क्लास ट्रेवेलिंग का एहसास हो. सुरक्षा के लिहाज से ट्रेन के हर कोच में सीसीटीवी, आग और धुंए के पता लगाने वाले और उन्हें रोकने वाले सिस्टम भी लगाये गए हैं. तेजस एक्सप्रेस के कोच रेल कोच फैक्ट्री कपूरथला में तैयार किये गए हैं.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.