समाचार

दुनिया के सभी बैंकों का बाप है बिहार का ‘गुंडा बैंक’, दो महीने में पैसा हो जाता है डबल!

पटना वैसे तो दुनिया में तमाम बैंक हैं जो अपने कस्टमर को कम समय में ज्यादा से ज्यादा लाभ देने का दावा करते हैं। लेकिन, शायद ही कोई ऐसा बैंक हो जो सिर्फ दो महिनों में पैसा डबल करता हो। यह बैंक कहीं और नहीं बल्कि अपने ही देश में चल रहा है। यह बैंक बिहार में खुला है और इसका नाम रखा गया है ‘गुंडा बैंक’। आप सोच रहे होंगे कि जिस बैंक का नाम ‘गुंडा बैंक’ है, उसका काम कैसे होता होगा। तो हम आपको बता दें कि गुंडा बैंक में इसके नाम के मुताबिक ही काम भी होता है। Fraud bank of Bihar.

‘गुंडा बैंक’ में चलता है सिर्फ ‘गुंडा कानून’ –

भले ही गरीबों का पैसा दुगना चौगुना हो रहा हो, लेकिन इससे भी उनकी गरीबी कम नहीं होती है। गुंडों की जिस मनमानी पर जनता को शोर मचाना चाहिए, पुलिस को सूचना देनी चाहिए वो ऐसा कुछ नहीं कर पाते। इस बैंक में सिर्फ गुंडों का ही पैसा डबल हो रहा है। ये गुंडे बेहद चालाकी से गरीबों को अपने जाल में फंसाते हैं और उनकी मेहनत की कमाई का बड़ा हिस्सा खुद ही निगल जाते हैं।

ऐसे फंसाए जाते हैं गरीब मजदूर –

दिनभर मजदूरी करने वाले गरीबों को गुंडा बैंक द्वारा प्रतिदिन 2 प्रतिशत इंटरेस्ट पर पैसा दिया जाता है। यह गुंडा बैंक इनको पैसा देने के बदले उनके सोने-चांदी और घरेलू मूल्यवान सामान गिरवी रख लेते हैं। छोटे विक्रेता जो छोटी-छोटी दुकानें और रेहडी लगाकर अपना जीपन यापन करते हैं इनसे पैसा लेकर दिनभर अपना कारोबार करते हैं शाम को अपनी आमदनी को सूद की राशि समेत सूदखोरों को लौटा देते हैं।

ये है गुंडा बैंक का पैसा वसूलने का तरीका –

गुंडा बैंक का पैसा वसूलने के तरीके का खुलासा रास्ते के फुटपाथ पर धंधा कर रहे दुकानदारों ने उनसे तंग आकर किया है। ज्यादातर गरीब मजदूर इस बैंक से ब्याज पर पैसा लेकर अपना कारोबार करते हैं। लेकिन, इस बैंक के नियमों के मुताबिक ब्याज अदायगी में देरी होने पर इनको सरेआम पीटा जाता है। इनका दबदबा ऐसा है कि इनके खिलाफ पुलिस वाले भी कार्रवाई नहीं करते।

***

Back to top button